• हिंदी

Yoga for Bones & Joints: सर्दियों में हड्डियों जोड़ों को मजबूत रखेंगे ये 4 योगासन, जानें कौन सा योग है सबसे फायदेमंद

Yoga for Bones & Joints: सर्दियों में हड्डियों जोड़ों को मजबूत रखेंगे ये 4 योगासन, जानें कौन सा योग है सबसे फायदेमंद
हड्डियों और जोड़ों के लिए योग

Yoga for Joints: हेल्दी रहने के लिए हड्डियों और जोड़ों का मजबूत होना जरूरी है। डाइट के अलावा योग की मदद से भी हड्डियों व जोड़ों से जुड़ी समस्याओं को दूर किया जा सकता है और इन्हें मजबूत रखा जा सकता है।

Written by Mukesh Sharma |Published : January 18, 2023 4:51 PM IST

Yoga asanas for joint pain: सर्दियों के दिनों में हड्डियां कमजोर पड़ने का खतरा बढ़ जाता है और ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इस मौसम में रक्त का बहाव थोड़ा कम हो जाता है। ऐसे में कई बार हड्डियों को पर्याप्त पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं और वे कमजोर पड़ने लगती हैं। यही कारण है कि ठंड के दिनों में हड्डियों को स्वस्थ रखना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। लेकिन ऐसा योग की मदद से किया जा सकता है। कई ऐसे योगासन हैं, जिनकी मदद से हड्डियों की मजबूताी को बढ़ाया जा सकता है। सर्दियों के दिनों में भी ये योगासन कारगर इसलिए हैं, क्योंकि इनकी मदद से ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार होने लगता है, जिससे हड्डियों को रक्त के माध्यम से पर्याप्त पोषक तत्व मिलते रहते हैं और उनकी मजबूती बनी रहती है। अगर आपको भी सर्दियों के दिनों में हड्डियों या जोड़ों में दर्द की शिकायत है, तो आपके लिए हम कुछ खास प्रकार के योगासन लेकर आए हैं, जिनका अभ्यास करके इन समस्याओं को दूर किया जा सकता है। चलिए जानते हैं हड्डियों और जोड़ों के लिए फायदेमंद योगासन कौन से हैं।

उत्कटासन (Utkatasana for joints and bones)

इसे चेयर पोज (Chair pose) भी कहा जाता है, जो शरीर की कई हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में मदद करता है। नियमित रूप से उत्कटासन योगाभ्यास करने से कूल्हे व उसके आसपास की हड्डियां मजबूत होने लगती हैं और सर्दियों के दिनों में होने वाले कूल्हे के जोड़ों में दर्द कम हो जाता है।

ऊर्ध्व मुख श्वानासन (Urdhva mukha svanasana)

पैर से लेकर गर्दन तक की हड्डियों को मजबूती प्रदान करने वाली योग मुद्राओं में से एक ऊर्ध्व मुख श्वानासन भी है, जिसे अंग्रेजी में अपवर्ड फेसिंग पोज (Upward-Facing Dog) कहा जाता है। सर्दियों में अगर आपके शरीर के जोड़ों में बार-बार अकड़न हो रही है, तो आपको ऊर्ध्व मुख श्वानासन योगाभ्यास करना चाहिए। इससे पूरी शरीर के के जोड़ों को फायदा मिलता है।

Also Read

More News

त्रिकोणासन (Triangle pose for joints and bones)

ट्रायंगल पोज यानी त्रिकोणासन को भी शरीर के जोड़ों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। नियमित रूप से इस योग मुद्रा का अभ्यास करने से घुटने और कूल्हे के जोड़ मजबूत होने लगते हैं और इनमें दर्द व अकड़न का खतरा कम हो जाता है। साथ ही त्रिकोणासन ब्लड सर्कुलेशन में भी सुधार करता है, जिससे हड्डियां मजबूत होने लगती हैं।

भुजंगासन (bhujangasana for bones and joints)

रीढ़ की हड्डी के लिए भुजंगासन को काफी फायदेमंद माना गया है। अगर आपको पीठ या कूल्हे के आसपास के जोड़ों या हड्डियों में दर्द होता है, तो भुजंगासन आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। साथ ही नियमित रूपसे इस योगासन का अभ्यास करने से कलाई, कोहनी और कंधों के जोड़ भी मजबूत हो जाते हैं और इन हिस्सों में होने वाला दर्द व सूजन कम होने लगती है।