Advertisement

Yoga Day 2019ः बवासीर की समस्या जब सताए जरूर करें पवनमुक्तासन, जानें इसे करने का तरीका

पाइल्स यानी बवासीर की समस्या को दूर करता है पवनमुक्तासन। © Shutterstock

बवासीर के उपचार लिए योग को अपनाने के साथ ही आपको अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। आप पवनमुक्तासन योग के जरिए बवासीर से छुटकारा पाकर रोगमुक्त हो सकते हैं।

आज योग दिवस है। योग दिवस पर योग के सेहत लाभ के बारे में सभी को जानना चाहिए। तरह-तरह के योग के अभ्यास से आप कई तरह के रोगों से बचे रहते हैं। योग दिवस के उपलक्ष में आप भी इसके महत्व को समझते हुए इसे अपने जीवनशैली में नियमित रूप से शामिल करें। कई रोगों जैसे दृदय रोग, डायबिटीज, कब्ज, बवासीर, घुटनों के दर्द आदि से आप बचे रह सकते हैं, जब आप योग का अभ्यास हर दिन करेंगे। कुछ लोगों को अक्सर बवासीर की समस्या सताती है। इस रोग का भी योग के जरिए इलाज और बचाव किया जा सकता है। योग दिवस पर जानें, कौन सा आसन आपको बवासीर की समस्या से छुटकारा दिला सकता है।

पाइल्स या बवासीर से काफी लोग परेशान रहते हैं। इसका इलाज आप योग के जरिए भी कर सकते हैं। बवासीर के उपचार लिए योग को अपनाने के साथ ही आपको अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। आप पवनमुक्तासन योग के जरिए बवासीर से छुटकारा पाकर रोगमुक्त हो सकते हैं। बवासीर में गुदा क्षेत्र (Anal Area) में बहुत तेज दर्द होता है। बवासीर महिलाओं और पुरुषों दोनों में अक्‍सर 20 से 50 की उम्र के बीच होता है।

Yoga Day 2019: दिल की सेहत का है ख्याल, तो जरूर रूटीन में शामिल करें ये 3 योगासन

Also Read

More News

क्या है कारण

गड़बड़ खानपान और अधिक मसालेदार भोजन का सेवन बवासीर होने का प्रमुख कारण कारण होता है। शारीरिक बीमारी या व्‍यायाम की अनुपस्थिति में इस बीमारी के लक्षण बहुत तेजी से बढ़ते हैं। आंतों की उचित सफाई और भोजन की निकासी न होने के कारण अतिरिक्‍त दबाव डालने से स्फिन्स्टर मांसपेशियों (Sphincter Muscles) पर तनाव पैदा होता है।

योग से करें दूर बवासीर

पवनमुक्तासन

पवनमुक्तासन गैस की समस्‍या, कब्‍ज बवासीर और बवासीर से परेशान लोगों के लिए लाभकारी योग है, क्‍योंकि यह शरीर से विषाक्‍त पदार्थों और गैस को बाहर निकालने में मदद करता है। यह मल के साथ बलगम को नियंत्रित करता है जो कि कब्‍ज से परेशान लोगों के लिए बहुत ही आवश्‍यक है। इसके अलावा पवनमुक्तासन शरीर के पूरे अंगों जिनमें बगल में दर्द, हृदय विकार, कमर दर्द, पीठ दर्द और पूरे पेट को राहत दिलाकर फिर से जीवंत करता है।

Yoga Day 2019ः कब्ज से तुरंत मिलेगा छुटकारा, जब करेंगे पादोत्तानासन

यूं करें पवनमुक्तासन

अपनी पीठ के बल जमीन पर सीधे लेट जाएं। धीरे-धीरे सांस लें। अपने पैरों को एक साथ उठाएं और पैर के घुटनों को मोड़ें। अपने पैर के घुटनों को छाती की तरफ अपने मुंह के पास लाएं और पैरों को अपने हाथों की उगंलियों से जकड़ लें। आपकी जांघें आपके पेट को छूना चाहिए और आपके पैर के घुटने आपकी नाक को छुए ऐसा प्रयास करें। इस स्थिति में 20 से 30 सेंकड तक रहें। धीरे-धीरे सामान्‍य मुद्रा में वापस आ जाएं। इस आसन को आप दिन में 5 से 10 बार करें। यदि आप कब्‍ज वाले बवासीर से परेशान हैं तो यह योग आपके लिए बहुत ही लाभकारी है। जिन लोगों को उच्‍च रक्‍तचाप, अस्‍थमा है और गर्भवती महिलाओं को इसे नहीं करना चाहिए।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on