Advertisement

इन 2 ब्लड ग्रुप वाले लोगों को वजन घटाना बहुत मुश्किल

भारत में मोटापा के शिकार लोगों की संख्या बहुत ज्यादा है। कुल आबादी का अधिकांश हिस्सा वजन घटाने के लिए संघर्ष कर रहा है। वजन घटाने के लिए तमाम तरह के डाइट टिप्स और एक्सरसाइज टिप्स लोग लेत रहते हैं।

भारत में मोटापा के शिकार लोगों की संख्या बहुत ज्यादा है। कुल आबादी का अधिकांश हिस्सा वजन घटाने के लिए संघर्ष कर रहा है। वजन घटाने के लिए तमाम तरह के डाइट टिप्स और एक्सरसाइज टिप्स लोग लेत रहते हैं। लेकिन क्या कभी आपने सोचा कि कुछ लोग बहुत ज्यादा मेहनत करने के बाद भी वजन घटाने में नाकाम रहते हैं। वहीं कुछ लोग बहुत ही आसानी से कई किलो अपना वजन कम कर लेते हैं। इसके बारे में आपको ज्यादा अब परेशान होने की जरूरत नहीं है। हेल्थ रिपोर्ट और शोध में यह पाया गया है कि दो ब्लड ग्रुप ऐसे होते हैं जो वजन कम करने की प्रक्रिया को बहुत धीमा कर देते हैं।

न्यूट्रिशनिस्ट एक्सपर्ट्स बताते हैं कि इंसान में पाये जाने वाले AB+ और AB- ब्लड ग्रुप ऐसे हैं जो वजन कम करने की प्रक्रिया को बहुत मुश्किल बना देते हैं। न्यूट्रिशनिस्ट और डाइट एक्सर्ट्स की मानें तो ये दोनों ब्लड ग्रुप ऐसे होते हैं जो इंसान को खाने की आदत बदलने नहीं देते हैं। जो लोग अपने खाने की आदत को आसानी से बदल नहीं पाते हैं वो अपना वजन भी नहीं घटा पाते हैं। कुछ लोगों का पेट बहुत टाइट होता, जानें क्यों है खतरनाक।

वहीं जो लोग अपने खाने की आदत को आसानी से बदल लेते हैं वो आसानी से वजन कम कर लेते हैं। आसानी से वजन घटाने वाले लोगों में O+ और B+ ब्लड ग्रुप वाले लोग होते हैं। B+ ब्लड ग्रुप वाले लोगों का वजन भी बहुत कम बढ़ता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो ऐसा इसलिए होता है क्योंकि B+ ब्लड ग्रुप वालों का बेसल मेटाबॉलिक रेट (BMR) बहुत अधिक होता है। BMR अधिक होने की वजह से इन लोगों का वजन बहुत अधिक नहीं बढ़ पाता है। वहीं A+ ब्लड ग्रुप वालों का वजन उनके अनुवांशिक लक्षणों पर निर्भर करता है।

Also Read

More News

इस समस्या से कैसे छुटकारा पाएं

ब्लड ग्रुप के अनुसार वजन कम या ज्यादा होने की समस्या को देखते हुए इससे कैसे निपटा जाय यह सवाल आपके भी मन में आ रहा होगा। इसके लिए भी आजकल हल निकाल लिया गया है। ब्लड ग्रुप के अनुसार खान-पान करके आप अपने वजन को नियंत्रित रख सकते हैं।

वजन नियंत्रित करने के साथ वजन कम करना हो तो आपको अपने ब्लड ग्रुप के हिसाब से डाइट का चयन कर सकते हैं। ब्लड ग्रुप के अनुसार डाइट बताने वाले एक्सपर्ट्स की मानें तो डाइट इंसान की प्रकृति के हिसाब से हो तो सेहत अच्छी रहने के साथ इंसान मोटापे जैसी परेशानी का शिकार भी नहीं होता है।  सूप जो पेट का मोटापा और वजन घटाता है।

ब्लड ग्रुप के हिसाब से जो डाइट बनाई गयी हैं वो पचने में आसान होने के साथ शरीर को जरूरी पोषण देती हैं। ब्लड ग्रुप के हिसाब से खान-पान में बदलाव करने से इंसान ज्यादा समय तक जीवित रहने के साथ-साथ हमेशा स्वस्थ्य रह सकता है।

आइए जानते हैं अलग-अलग ब्लड ग्रुप वालों को कैसे अपने खान-पान को नियंत्रित करना चाहिए।

O ब्लड ग्रुप वालों की डाइट 

ओ ब्लड ग्रुप वाले लोगों को उच्च प्रोटीन वाले खाद्य पदार्थ, बहुत सारी सब्जियां और मछली खाना चाहिए लेकिन सीमित बीन्स, फलियां और अनाज खाने चाहिए। वजन कम करने के लिए इन लोगों को समुद्री भोजन, रेड मीट, ब्रोकोली, पालक और जैतून का तेल खाना चाहिए। उन्हें डेयरी, मक्का और गेहूं खाने से बचना चाहिए।  5 प्रकार के होते हैं बेली फैट, क्या आप जानते हैं ?

A ब्लड ग्रुप वालों की डाइट 

ए ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सब्जियां, फल, टोफू, टर्की, साबुत अनाज और समुद्री भोजन चुनना चाहिए और मांस से बचना चाहिए। वजन कम करने के लिए, आपको अधिक अनानास, जैतून का तेल, समुद्री भोजन, सब्जियां और सोया खाना चाहिए। आपको डेयरी, मक्का, किडनी बीन्स और गेहूं खाने से भी बचना चाहिए।

B ब्लड ग्रुप वालों की डाइट 

बी रक्त समूह के लोगों को एक विविध आहार का विकल्प चुनना चाहिए जिसमें मांस, फल, समुद्री भोजन, डेयरी और अनाज शामिल हैं। वजन कम करने के लिए आपको हरी सब्जियां, जिगर, अंडे और नद्यपान का अधिक सेवन करना चाहिए और मकई, चिकन, गेहूं और मूंगफली खाने से बचना चाहिए।  बेली फैट कम करने के लिए बहुत फायदेमंद हैं ये 4 चाय, जरूर पिएं।

AB ब्लड ग्रुप वालों की डाइट 

एबी ब्लड ग्रुप वाले लोगों को डेयरी, मेमने, टोफू, मछली, फल, सब्जियां और अनाज खाने चाहिए। वजन कम करने के लिए आपको अधिक टोफू, समुद्री भोजन, हरी सब्जियां और केल्प खाना चाहिए। चिकन, मकई, किडनी बीन्स और एक प्रकार का अनाज बचना चाहिए।

अधिक बेली फैट होना भी है नुकसानदायक, हो सकती हैं ये 5 गंभीर बीमारियां।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on