Sign In
  • हिंदी

Winter Vagina Problem: सर्दी में 'विंटर वजाइना' की समस्‍या, बढ़ा सकती है परेशानी

वजाइना में ठंड में आने वाली परेशानी और उसका बचाव। ©Shutterstock.

ठंड का असर शरीर के बाकी हिस्सों की तरह प्राइवेट पार्ट पर भी पड़ता है। अक्सर ठंड आपने देखा होगा कि ठंड में होंठ फटने लग जाते है और स्किन ड्राय होने लगती है।

Written by Editorial Team |Updated : November 7, 2019 4:18 PM IST

ठंड का मौसम आ चुका है और हर जगह कड़ाके की ठंड पड़ना शुरु हो चुकी है। ठंड का असर शरीर के बाकी हिस्‍सों की तरह प्राइवेट पार्ट पर भी पड़ता है। अक्‍सर ठंड आपने देखा होगा कि ठंड में होंठ फटने लग जाते है और स्किन ड्राय होने लगती है। इसी तरह ठंड में ड्राय वजाइना की समस्‍याएं महिलाओं में ज्‍यादा देखने को मिलती है, इसे विंटर वजाइना भी कहा जाता है।

इस वजह से महिलाओं को काफी समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे वजाइना में इचिंग और सेक्‍स के दौरान महिलाओं को कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है, आइए जानते है इस विंटर वजाइना के बारे में।

जवां रहने और खूबसूरत दिखने का ''रोजाना सेक्स'' से क्या है संबंध ?

Also Read

More News

सेक्स पावर बढ़ानी है तो अपनाएं ये 8 उपाय।

नमी खो जाने के वजह से "शुष्क शरद ऋतु और सर्दियों की सर्द हवा हमारे शरीर की नमी को कम कर देती है, जिससे हमारी त्वचा डिहाइड्रेड हो जाती है और त्वचा फट जाती है, और त्‍वचा खुदरी हो जाती है। इसी तरह ज्‍यादा देर तक ठंड में रहने प्राइवेट पार्ट से भी नमी खोने लगती है, जिसे वजह से सूखेपन की समस्‍या होने लगती है।

सेक्‍स लाइफ पर पड़ता है असर

सर्दियों में वजाइना ड्रायनेस की वजह से वजाइना में लुबिक्रेशन में कमी आ जाती है। जिस वजह से सेक्‍स के दौरान पर्याप्‍त मात्रा में लुब्रिकेंट नहीं होने से पेन‍िट्रेशन के दौरान दिक्‍कत होती है। और इस वजह से सेक्‍स लाइफ पर असर पड़ता है। क्या अत्यधिक सेक्स करने के साइड-इफेक्ट्स होते हैं ?

वैक्‍स से बचती है कई महिलाएं

सर्दियों में अधिक स्किन ड्राय होने की वजह से शेविंग और वैक्सिंग करने से बचती है और पर्सनल हाईजीन के अभाव इस महिलाएं सेक्‍स करने से एक इस वजह से भी कतराती है। ओरल सेक्स कैसे आपकी जिंदगी तबाह कर सकता है ?

इन बातों का रखें ध्‍यान

वजाइना ड्रायनेस की समस्‍या से बचने के ल‍िए ज्‍यादा से ज्‍यादा हरी पत्तियों वाली सब्जियां खाएं और केमिकलयुक्‍त कठोर साबुन का इस्‍तेमाल करने से बचें। इस मौसम में humidifier से भी काफी मदद मिल सकती है। उम्र के अलावा इन 5 कारणों से भी चेहरे पर बढ़ने लगती हैं झुर्रियां।

एस्‍ट्रोजन स्‍तर में कमी

कई विशेषज्ञों का मानना है कि वजाइना ड्रायनेस की मुख्‍य एक वजह एस्‍ट्रोजन स्‍तर में कमी आना होता है। मौसम में आए बदलाव से इसका कोई लेना देना नहीं होता है। पार्टनर से मैच नहीं करती सेक्स ड्राइव ? अपनाएं ये उपाय।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on