Sign In
  • हिंदी

शोध में खुलासा, ओरल सेक्स बढ़ाता है बैक्टीरियल वेजिनोसिस, जानें योनि में होने वाला यह इंफेक्शन कितना है खतरनाक

शोध में खुलासा, ओरल सेक्स बढ़ाता है बैक्टीरियल वेजिनोसिस, जानें योनि में होने वाला यह इंफेक्शन कितना है खतरनाक।© Shutterstock.

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (Bacterial vaginosis) योनि में होने वाला एक संक्रमण है, जो उस भाग में अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच असंतुलन के कारण होता है। इससे सूजन हो सकता है। जानें, क्या है बैक्टीरियल वेजिनोसिस, इसके कारण और लक्षण...

Written by Anshumala |Updated : August 30, 2020 1:44 PM IST

Bacterial Vaginosis in Hindi: हाल ही में हुए एक अध्ययन में ओरल सेक्स (Oral sex) और बैक्टीरियल वेजिनोसिस या बीवी (Bacterial vaginosis or BV) के होने के बीच संबंध पाया गया है। हालांकि, बैक्टीरियल वेजिनोसिस कोई यौन संचारित संक्रमण (STI) नहीं है। बैक्टीरियल वेजिनोसिस (Bacterial vaginosis) योनि में होने वाला एक संक्रमण (infection of vagina) है, जो उस भाग में अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच असंतुलन के कारण होता है। इससे सूजन (inflammation) हो जाता है। आपकी योनि में लैक्टोबैसिली (lactobacilli) नामक लैक्टिक एसिड का निर्माण करने वाला बैक्टीरिया होना चाहिए।

यह अन्य हानिकारक बैक्टीरिया को वहां बढ़ने से रोकता है। हालांकि, यदि इसकी संख्या कम होती है, तो आपकी योनि कम एसिडिक हो जाएगी, जिससे बैड बैक्टीरिया को पनपने और संक्रमण बढ़ाने का मौका मिल जाता है। बैक्टीरियल वेजिनोसिस (Bacterial Vaginosis in Hindi) किसी भी उम्र की महिलाओं को प्रभावित कर सकता है। यह ज्यादातर 15 से 44 वर्ष की महिलाओं में अधिक होता है। योनि में होने वाला यह संक्रमण क्लैमाइडिया (chlamydia) और गोनोरिया (gonorrhea) जैसे एसटीआई के विकास के जोखिम को भी बढ़ाता है।

बीवी के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया फ्यूसोबैक्टेरियम न्यूक्लियेटम

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में हुए अध्ययन से पता चलता है कि ओरल सेक्स संभवतः बैक्टीरियल वेजिनोसिस को बढ़ावा (Oral sex can trigger bacterial vaginosis) दे सकता है। अध्ययन में शोधकर्ताओं ने बीवी के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया फ्यूसोबैक्टेरियम न्यूक्लियेटम के विकास के बीच के लिंक की जांच की। फ्यूसोबैक्टेरियम न्यूक्लियेटम (Fusobacterium nucleatum) आमतौर पर ओरल कैविटी (Oral cavity) में पाया जाता है, डेंटल प्लाक का एक प्रमुख घटक है और मसूड़ों की बीमारी से संबंधित होता है।

Also Read

More News

चूहों और ह्यूमन वेजाइनल नमूनों में बैक्टीरिया के व्यवहार (bacterial behavior) का अध्ययन करने के बाद, शोधकर्ताओं ने उल्लेख किया कि फ्यूसोबैक्टेरियम न्यूक्लियेटम बीवी में फंसे अन्य बैक्टीरिया के विकास में सहायता करता है। इस अध्ययन से प्राप्त जानकारी के आधार पर विशेषज्ञों ने निष्कर्ष निकाला है कि ओरल सेक्स बैक्टीरियल वेजिनोसिस के लिए एक संभावित ट्रिगर हो सकता है।

इससे पहले ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया था कि जो महिलाएं होमोसेक्सुअल (homosexual) और हेरियोसेक्सुल (hereosexual) के दौरान ओरल सेक्स में लिप्त हुईं, उनमें बीवी (BV) होने की अशांक अधिक थी। जब ओरल सेक्स इस तरह से रिस्की (Side effects of Oral sex in hindi) हो सकता है, तो विशेषज्ञों का मानना ​​है कि डेंटल डैम जैसे उपकरणों का उपयोग करने से मुंह से योनि तक पैथोजेन्स के संचरण से बचा जा सकता है।

क्या है बैक्टीरियल वेजिनोसिस (What is bacterial vaginosis?)

बैक्टीरियल वेजिनोसिस (Bacterial Vaginosis in Hindi) महिलाओं में होने वाला एक यौन संचारित इंफेक्शन है। वेजाइना में बैक्टीरिया मौजूद होते हैं, लेकिन जब हानिकारक बैक्टीरिया बढ़ने लगते हैं, तो योनि में मौजूद बैक्टीरिया का संतुलन बिगड़ने लगता है। ये ही अलग तरह के बैक्टीरिया परेशानी का कारण बनते हैं। बैक्टीरियल वेजिनोसिस (BV) तब होता है, जब समस्या उत्पन्न करने वाले बैक्टीरिया जो आमतौर पर शरीर में सामान्य रूप से होते हैं, उनकी मात्रा बढ़ जाती है। ये ही बैक्टीरिया नॉर्मल वेजाइनल लैक्टोबेसिली को बदल देते हैं, जिससे संतुलन बिगड़ने लगता है। कई बार असुरक्षित यौन संबंध बनाने से भी बैक्टीरियल वेजिनोसिस (Bacterial Vaginosis) के होने का रिस्क बढ़ जाता है। कई अन्य एक्टिविटीज भी हैं, जो इस समस्या को जन्म दे सकती हैं।

बैक्टीरियल वेजिनोसिस के कारण (causes of Bacterial vaginosis)

असुरक्षित यौन संबंध बनाना।

ओरल सेक्स से बढ़ सकता है बैक्टीरियल वेजिनोसिस होने का खतरा।

वेजाइन की साफ-सफाई करने के लिए हार्श साबुन, लिक्विड प्रोडक्ट का इस्तेमाल।

टैम्पॉन का इस्तेमाल अधिक देर तक करना।

कई लोगों के साथ असुरक्षित यौन संबंध स्थापित करना।

टॉयलेट शीट या स्विमिंग पूल के इस्तेमाल से बैक्टीरियल वेजिनोसिस नहीं होता।

सेक्स नहीं करने से शरीर की इम्यूनिटी हो जाती है कम, त्वचा दिखती है बेजान, ये हैं सेक्स ना करने के 8 नुकसान

बैक्टीरियल वेजिनोसिस के लक्षण (Symptoms of Bacterial vaginosis)

बैक्टीरियल वेजिनोसिस संक्रमण होने पर सबसे आम लक्षण जो नजर आता है, वह है व्हाइट लिक्विड का डिस्चार्ज होना। सुरक्षित तरीके से सेक्स ना करने से बैक्टीरियल वेजिनोसिस होने की संभावना बढ़ जाती है। साथ ही बैक्टीरियल वेजिनोसिस होने पर यौन संचारित रोग (Sexual transmited disease) होने का खतरा भी बढ़ जाता है। यदि आपको बैक्टीरियल वेजिनोसिस हुआ है, तो आपमें कुछ लक्षण (bacterial vaginosis symptoms) नजर भी आ सकते हैं और नहीं भी। लक्षणों में योनि से पानी की तरह स्राव, उसके रंग में परिवर्तन, योनि से मछली जैसी गंध आना, पेशाब के दौरान जलन और वेजाइन के आसपास खुजली शामिल हैं। विभिन्न कारकों जैसे डाउचिंग, कई साथी के साथ संभोग करना, धूम्रपान करना, योनि में वेजाइनल डियोडरेंट्स का इस्तेमाल करना, स्नान करते समय एंटीसेप्टिक लिक्विड का यूज करना बैक्टीरियल वेजिनोसिस के विकास के जोखिम को बढ़ा सकता है।

वेजाइना यानी योनि से सफेद रंग का स्राव हो सकता है।

योनि से सड़ी हुई मछली जैसी गंध आ सकती है।

पेशाब करते समय जलन या दर्द होना।

योनि के बाहरी त्वचा पर खुजली होना।

वेजाइना के आसपास सूजन और लाल हो जाना।

इस तरह के लक्षण नजर आएं, तो डॉक्टर से मिलें। आपको डॉक्टर एंटीबायोटिक्स दवाएं लिख सकता है।

सेक्स के बाद वेजाइना से ब्लीडिंग होने के कारण, लक्षण और रिस्क फैक्टर्स

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on