Sign In
  • हिंदी

जब दूसरी बार आ रही हो घर में खुशखबरी, तो इन बातों का जरूर रखें ध्‍यान

खुशी का यह दूसरा मौका बर्डन और तनाव का कारण न बनें, इसके लिए अपनाएं ये टिप्स। © Shutterstock.

खुशी का यह दूसरा मौका बर्डन और तनाव का कारण न बनें, इसके लिए अपनाएं ये टिप्स।

Written by Yogita Yadav |Updated : October 5, 2019 7:57 PM IST

घर में दूसरे बच्‍चे (planning for second baby) का आना माता-पिता के साथ ही पहले बच्‍चे के लिए भी खुशी का मौका होता है। पर यह मौका तनाव और बोझ में बदल जाता है अगर आपने पहले से इसके लिए तैयारी नहीं की है। पहली प्रेगनेंसी के मुकाबले आप दूसरी प्रेगनेंसी में आप काफी मेच्‍योर हो चुकी हैं, पर उम्र भी कुछ बढ़ गई है। इसलिए दूसरी प्रेगनेंसी और दूसरे बेबी के साथ मदरहुड एन्‍ज्‍वॉय करने के लिए जरूरी है कि आप इन बातों का ध्‍यान रखें।

इस तरह करें दूसरे बच्‍चे की तैयारी (planning for second baby) 

मेच्‍योरिटी के साथ उम्र भी 

दूसरी बेबी प्‍लान करने से पहले जरूरी है कि जरूरी चैकअप करवा लें। इनमें थायराइड का चैकअप सबसे ज्‍यादा जरूरी है। इसके साथ ही हेल्‍दी प्रेगनेंसी के लिए हीमोग्‍लोबीन और विटामिन डी की जांच करवा लेना भी बहुत जरूरी है।

क्‍या होगा सपोर्ट सिस्‍टम 

दूसरे बेबी की डिलीवरी डेटसे पहले ही घरेलू तैयारियां पूरी कर लें। पहला बच्‍चा अगर अभी दो ढाई साल का ही है तो यह भी तैयारी करें कि दो बच्‍चों की परवरिश के लिए आपका सपोर्ट सिस्‍टम क्‍या रहेगा। अगर बच्‍चा स्‍कूल जाने लगा है, तब भी दूसरे बच्‍चे के साथ आप उस पर ध्‍यान न दे पाएं तो उसके स्‍कूल की जिम्‍मेदारियों को पूरा करने में कौन मदद करेगा।

Also Read

More News

siblings-baby-kit

न भूलें पहले बेबी को 

डिलीवरी के दौरान जब आपको हॉस्पिटल में रहना होगा, उस समय पहला बच्‍चा कहां और किसके साथ रहेगा इस पर गहनता से विचार करें। बच्‍चे की सुविधा और सुरक्षा के लिए जरूरी सामान का बैग पैक करे और जरूरी निर्देशों के साथ उनके सुपुर्द करें।

ये है जरूरी सामान 

दूसरे बच्‍चे के लिए जरूरी सामान की लिस्‍ट बनाएं। हो सकता है कुछ सामान आपने पहले से ही इकट़ठा कर रखा हो। उन्‍हें निकालें और चैक करें कि क्‍या यह उपयोग करने की स्थिति में हैं या नहीं। फीडिंग बॉटल, डायपर बैग को कीटाणू मुक्‍त करें। छोटे बच्‍चों के कपड़ों में चयन के लिए जेंडर की परवाह नहीं की जाती। अगर पहले बच्‍चे के कपडे आपने पहले से सुरक्षित रखें हैं तो उन्‍हें निकाल कर साफ करें और धूप लगाएं। जिससे वे कीटाणुमुक्‍त हो जाएं।

सीनियर बेबी

डिलीवरी से लेकर, नर्सरी, बेबी सिटिंग आदि के लिए कई बार पंजीकरण की जरूरत होती है। जिन भी चीजों के लिए पंजीकरण की आवश्‍यकता पड़ने वाली है, वह पहले ही करवा लें। अब आपका ज्‍यादातर ध्‍यान दूसरे बच्‍चे पर होगा। ऐसे में पहला बच्‍चा परेशान न हो, इसके‍ लिए पहले से ही उसे अपने छोटे-मोटे कामों के लिए आत्‍मनिर्भर बनाना शुरू करें। जरूरत की चीजों की पहचान और डिमांड करना सिखाना भी जरूरी है।

बातें करती रहें

घर में आने वाले नए मेहमान के लिए पहले बच्‍चे को तैयार करना सबसे ज्‍यादा जरूरी है। आप उसका समय और केयर किसी दूसरे के साथ शेयर करने वाली हैं। और यह कोई उसका अपना बहुत खास है। कैसे वे एक दूसरे की खुशियों और रोमांच में साझीदार बनने वाले हैं, इसके लिए बड़े बच्‍चे को तैयार करें।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on