Advertisement

अनचाही प्रेग्नेंसी से बचाए बर्थ कंट्रोल पैच, जानें यूज करने का सही तरीका, फायदे और नुकसान

कंडोम, अन्वॉन्टेड पिल्स के सेवन के बाद भी आप गर्भधारण कर लेती हैं, तो कुछ दिनों के लिए बर्थ कंट्रोल पैच का इस्तेमाल करके देंखे। जन्म नियंत्रण पैच (What is Birth control patch in hindi) अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने का बेहद ही आसान तरीका है। जानें, बर्थ कंट्रोल पैच के फायदे और नुकसान...

Birth Control Patch Benefits in Hindi: शादी के बाद हर कपल चाहता है कि वो तीन-चार साल एक-दूसरे के साथ रिश्तों को इन्जॉय करे। अकेले घूमे-फिरे, एक-दूसरे के साथ क्वालिटी टाइम बिताए, क्योंकि बाद में रिश्ते, बच्चे की जिम्मेदारी बढ़ जाने से पर्याप्त समय नहीं मिल पाता। ऐसे में वे देर से पेरेंट्स बनने की प्लानिंग करते हैं, लेकिन कई बार कितनी भी प्लानिंग करने या सेफ सेक्स (Safe sex) करने के बाद भी अनचाही प्रेग्नेंसी (Unwanted pregnancy) हो जाती है। कंडोम, अन्वॉन्टेड पिल्स के सेवन के बाद भी कई बार ये सारी चीजें फेल हो जाती हैं और आप गर्भधारण कर लेती हैं। परेशान होने की जरूरत नहीं, आप कुछ दिनों के लिए बर्थ कंट्रोल पैच का इस्तेमाल करके देंखे। इसे इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है। जन्म नियंत्रण पैच (What is Birth control patch in hindi) से भी आप बर्थ कंट्रोल कर सकती हैं।

क्या है बर्थ कंट्रोल पैच 

बर्थ कंट्रोल पैच (Birth Control Patch in Hindi) एक सामान्य गर्भनिरोधक तरीका है। इस पैच को आपको अपने शरीर के किसी भी भाग के त्वचा पर चिपकाना होता है। इसे लगाने के बाद शरीर में एक हार्मोन रिलीज होता है, जो अनचाही प्रेग्नेंसी को रोकता है। इसे सप्ताह में एक बार बदल सकती हैं। यदि आपको भी बर्थ कंट्रोल पैच का इस्तेमाल करना है, तो इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका, इसके फायदे और नुकसान के बारे में पहले डॉक्टर से सलाह (Birth Control Patch Benefits in Hindi) जरूर ले लें।

जानें, कैसे करता है बर्थ कंट्रोल पैच काम

जन्म नियंत्रण पैच या बर्थ कंट्रोल पैच में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन हार्मोन होते हैं। ये हार्मोन्स बर्थ कंट्रोल पिल्स (Birth control pills) में भी मौजूद होते हैं। शरीर पैच से हार्मोन को अवशोषित (absorb) करता है और अंडे को अंडाशय या ओवरी में जाने से रोकता है, जिससे आप अनचाही प्रेग्नेंसी से बच जाती है। इसे त्वचा पर लगाने के बाद इसका असर एक हफ्ते के बाद ही शुरू होता है।

Also Read

More News

बर्थ कंट्रोल पैच के इस्तेमाल का सही तरीका

1 आप इसे पेट, बांह, कमर, पीठ कहीं भी लगा सकती हैं। जहां भी लगाना हो, वह भाग सूखा हो।

2 सबसे पहले इस पैच पर लगी पन्नी की ऊपरी परत को हटा दें। चिपचिपे हिस्से को ना छुएं।

3 पैच को त्वचा पर चिपका दें। एक हफ्ते के बाद इसे हटाना ना भूलें। तीन हफ्ते इसका इस्तेमाल करें, चौथे सप्ताह ब्रेक ले लें।

बर्थ कंट्रोल पैच के फायदे (Benefits of Birth Control Patch in Hindi) 

1 इस पैच को लगाने से ना सिर्फ आप अनचाही प्रेग्नेंसी से बचती हैं, बल्कि पीरियड्स के दर्द से भी राहत मिलती है।

2 अनचाही प्रेग्नेंसी से आप बची रहती हैं। ऐसे में बार-बार अबॉर्शन कराने के जोखिम से भी बचती हैं।

3 पीरियड्स के दौरान होने वाले हेवी ब्लीडिंग को कंट्रोल कर सकता है। शरीर में खून की कमी नहीं होती।

4 महिलाओं में ओवेरियन कैंसर (ovarian cancer), गर्भाशय कैंसर (uterine cancer), अल्सर, श्रोणि की सूजन (Pelvic inflammation) आदि होने के जोखिम को भी कम करता है।

क्या प्रेग्नेंसी में गर्म पानी पीना चाहिए? जानिए, फायदे और नुकसान

क्या प्रेग्नेंसी में चिया सीड्स खाना सुरक्षित है? जानें, इसके फायदे-नुकसान

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on