• हिंदी

पेशाब करते समय ये 5 लक्षण हो सकते हैं ब्लैडर कैंसर का संकेत, इग्नोर किया तो आ सकती है ऑपरेशन की नौबत

Bladder cancer early symptoms: ब्लैडर कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के शुरुआती लक्षण कई बार इतने सामान्य होते हैं कि लोग उन्हें इग्नोर कर देते हैं। इस लेख में हम आपको पेशाब से जुड़े कुछ लक्षण बताएंगे जो ब्लैडर कैंसर का संकेत हो सकते हैं।

Written by Mukesh Sharma | Updated : August 23, 2023 1:51 PM IST

पेशाब में ब्लैडर कैंसर के लक्षण (Bladder Cancer Symptoms In Urine)

Early symptoms of bladder cancer: आजकल कैंसर जैसी बीमारियां होने का खतरा लगतार बढ़ता ही जा रहा है और इसमें से कुछ कैंसर बेहद गंभीर होते हैं। ब्लैडर कैंसर की बात करें तो यह भी एक गंभीर प्रकार का कैंसर माना जाता है। वैसे तो ब्लैडर कैंसर को ज्यादा कॉमन कैंसर की श्रेणी में नहीं रखा जाता है, लेकिन इससे होने वाले लक्षण बहुत ही ज्यादा कॉमन हो सकते हैं। सामान्य पेशाब से जुड़े कुछ लक्षण भी ब्लैडर कैंसर का संकेत हो सकते हैं। लेकिन कई बार इन लक्षणों को इग्नोर कर दिया जाता है, क्योंकि बहुत ही लोगों को इनके बारे में पता होता है। इस लेख में हम आपको पेशाब से जुड़े कुछ ऐसे ही 5 लक्षणों के बारे में बताने वाले हैं, जो ब्लैडर कैंसर का संकेत हो सकते हैं।

1. पेशाब करते समय दर्द (Pain While Urinating In Bladder Cancer)

कई बार पेशाब करते समय अजीब सा दर्द व चुभन महसूस होती है और हम इसे सामान्य समझ कर इग्नोर कर देते हैं। लेकिन इसे कभी भी इग्नोर नहीं करना चाहिए, क्योंकि पेशाब करते समय दर्द, चुभन या जलन महसूस होना कई बार मूत्राशय में कैंसर का संकेत हो सकता है। Also Read - Dinesh Phadnis: CID फेम Dinesh Phadnis की लिवर डैमेज होने से गई जान

2. बार-बार पेशाब आना (Frequent Urination In Bladder Cancer)

कुछ लोगों को बार-बार पेशाब आने से जुड़ी समस्याएं अक्सर होती रहती हैं, जो उन्हें किसी न किसी अंदरूनी बीमारी के कारण होती हैं। लेकिन जिन लोगों को पहले बार ऐसी किसी प्रकार की समस्या महसूस हो रही है, तो उसे एक बार डॉक्टर से इस बारे में बात जरूर कर लेनी चाहिए।

3. पेशाब में खून (Blood In Urine In Bladder Cancer)

पेशाब करते समय खून आना ज्यादातर मामलों में किसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है। यदि आपके पेशाब में खून आ रहा है, तो यह किसी न किसी अंदरूनी बीमारी का ही संकेत हो सकता है और इसमें ब्लैडर कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। Also Read - Cholesterol and Dementia: स्टडी में खुलासा, कोलेस्ट्रोल बढ़ा सकता है Dementia का खतरा!

4. पेशाब के रंग में बदलाव (Changes In Urine In Bladder Cancer)

पेशाब के रंग में बदलाव होने पर ज्यादातर उसे इग्नोर ही कर देते हैं, लेकिन कई बार इग्नोर करना महंगा पड़ सकता है। कुछ अध्ययनों में यह पाया गया है कि ब्लैडर कैंसर होने पर पेशाब के रंग में भी कुछ बदलाव होने लग जाते हैं। किसी भी प्रकार का बदलाव होते ही डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

5. पेशाब में बदबू (Odor In Urine In Bladder Cancer)

पेशाब में होने वाली किसी भी प्रकार की बदबू भी कैंसर का संकेत हो सकती है। कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि शरीर के कुछ हिस्सों में होने वाला कैंसर भी पेशाब की गंध में बदलाव ला देता है। वहीं ब्लैडर कैंसर के मामलों में ऐसा होने की संभावना ज्यादा रहती है। Also Read - हार्टबर्न होने पर सबसे पहले क्या करें? जानिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं