• हिंदी

हाई यूरिक एसिड की समस्या में गेहूं के बजाय खाएं ये 5 तरह की रोटियां, पेशाब से निकल जाएगी सारी गंदगी बाहर

Different types of roti For Uric Acid : खून में बढ़ते यूरिक एसिड के स्तर को कंट्रोल करने के लिए गेहूं के बजाय आप कुछ हेल्दी रोटियों का सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में-

Written by Kishori Mishra | Published : December 4, 2023 1:25 PM IST

1/6

यूरिक एसिड में खाएं ये 5 तरह की रोटियां

Different types of roti For Uric Acid : यूरिक एसिड हमारे ब्लड में मौजूद एक केमिकल है, जिसका निर्माण प्यूरीनयुक्त खाद्य पदार्थों के टूटने से होता है। शरीर में यूरिन एसिड का स्तर काफी ज्यादा बढ़ने से यह क्रिस्टल के रूप में जोड़ों में जमा होने लगता है, जिसकी वजह से जोड़ों में दर्द, सूजन, रेडनेस की परेशानी हो सकती है। यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए सबसे पहले प्यूरीन युक्त खाद्य पदार्थों को सीमित मात्रा में खाने की जरूरत होती है। इसके अलावा यूरिक एसिड को घटाने के लिए आपको कुछ हेल्दी खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जिससे यह गंदगी हमारे शरीर से बाहर हो जाए। यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आप गेहूं के आटे से बनी रोटी के बजाय कई अन्य हेल्दी अनाजों की रोटी का सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं यूरिक एसिड कंट्रोल करने के लिए कौन सी रोटियां खाएं?

2/6

ज्वार की रोटी ( Jowar Roti For High Uric Acid Patient )

शरीर में बढ़ते यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आप ज्वार के आटे (Is jowar roti good for uric acid?) से बनी रोटी का सेवन कर सकते हैं। यह फाइबर का काफी अच्छा स्त्रोत होता है, जो पाचन तंत्र को साफ करने में मदद कर सकता है। इससे शरीर में जमा अतिरिक्त गंदगी बाहर हो जाती है। यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में भी ज्वार की रोटी फायदेमंद साबित हो सकती है।  Also Read - जोड़ों में जमा यूरिक एसिड को पिघलाकर बाहर निकाल फेंकेगा किचन में रखा ये मसाला, जानें इस्तेमाल करने का तरीका

3/6

रागी की रोटी ( Ragi Ki Roti To Control Uric Acid )

रागी आयरन और फाइबर का काफी अच्छा स्त्रोत होता है। इस स्वादिष्ट रोटी का सेवन करने से आपके ब्लड में यूरिक एसिड के स्तर को कम किया जा सकता है। सर्दियों के दिनों में रागी की रोटी खाने से आपके शरीर में गर्माहट बनी रहती है। अगर आप यूरिक एसिड को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो रागी से बनी रोटी का सेवन करें।

4/6

ओट्स की रोटी ( Oats Roti Uric Acid Patient )

ओट्स यानी जई के आटे से बनी रोटी का सेवन करने से न सिर्फ ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिल सकती, बल्कि यह यूरिक एसिड के स्तर को भी कम कर सकता है। यूरिक एसिड में होने वाली सूजन और दर्द की स्थिति को कम करने के लिए आप सर्दियों में इसके आटे से बनी रोटी का सेवन कर सकते हैं।  Also Read - इन खट्टे-मीठे फलों को खाने से हमेशा यूरिक एसिड रहता है कंट्रोल, जोड़ों की सूजन को भी करता है कम

5/6

कोदो की रोटी ( Kodo Ki Roti Benefits )

कोदो यानी काउ ग्रास मिलेट से बनी रोटी का सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर कम हो सकता है। इसे कई अन्य तरह की औषधि का निर्माण करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इस स्पेशल अनाज को शुगर फ्री चावल के नाम से भी एक अलग पहचान मिली है।

6/6

बाजरे के आटे की रोटी ( Bajra Ki Roti For High Uric Acid )

बाजरा स्वास्थ्य के लिए काफी हेल्दी हो सकता है। सर्दियों के दिनों में बाजरे की रोटी का सेवन करने से ब्लड में बढ़ते यूरिक एसिड के स्तर को कम किया जा सकता है। यह यूरिक एसिड के क्रिस्टल को बनने से रोक सकता है। साथ ही यह शरीर के बढ़ते वजन को घटाने से लेकर ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद कर सकती है।  Also Read - दिन में सिर्फ 1 बार इस ड्रिंक को पीने से जोड़ों में जमा यूरिक एसिड हो जाएगा बाहर, घर पर इस तरह करें तैयार