5 फैट्स जो डायबीटिक्स के लिए हैं बेहतरीन।

जानिये डायबिटीज होने पर कौन-सा तेल खाना अच्छा होता है?

1 / 6

Omega-3-fats2 Hindi

डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए हर तरह के फैट खराब नहीं होते। सैचुरेटेड फैट जैसे ट्रांस-फैट मधुमेह वालों की सेहत के लिए बहुत ज़्यादा नुकसान कर सकते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हेल्दी फैट्स भी ना खाए जाएं। यहां हम बता रहे हैं 5 फैट्स के बारे में जो डायबीटिक्स के लिए हैं बेहतरीन।

2 / 6

Avocado1 Hindi

एवोकाडो: मेटाबॉलिक सिंड्रोम उन खतरनाक कारकों का एक समूह है जिसमें हाई ब्लड ग्लूकोज, हाई ब्लड प्रेशर और मोटापा शामिल होता हैं। इन सभी की वजह से टाइप-2 डायबिटीज़ और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। एवोकाडो का फल कैरोटीनॉयड्स, मिनरल, फिनोलिक्स, विटामिन और फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत है। यह मधुमेह के रोगियों में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने के अलावा मधुमेह को बढ़ने से भी रोकता है।[1]

3 / 6

Eat-healthy-fats1 Hindi

ऑलिव ऑयल: भारतीय सुपरमार्केट्स में हाल के वर्षों में ऑलिव ऑयल काफी ज़्यादा दिख रहा है। कई स्टडीज़ में मधुमेह को रोकने और मैनेज करने में इस तेल की भूमिका को दर्शाया गया है। [2]

Advertisement
Advertisement
4 / 6

Fish-oil-F Hindi

मछली का तेल: मैकेरल, सार्डिन और टूना जैसी ऑइली मछली में हेल्दी ओमेगा-3 मिलता हैं, जो दिल की सेहत को संभालने का काम करता है। स्टडीज़ से पता चलता है कि ऑइली फिश वाला भोजन डायबिटीक्स के खून में खतरनाक लिपिड लेवल को कम करने में मदद कर सकता है। [3]

5 / 6

Walnuts-2-1-2 Hindi

अखरोट: पौधों पर आधारित ओमेगा-3 फैटी एसिड के सबसे अमीर स्रोतों में से एक है अखरोट। यह स्वादिष्ट नट महिलाओं में टाइप 2 डायबिटीज़ के जोखिम को कम करने वाला साबित किया गया है।[4]

6 / 6

Flaxseeds-hindi-1 Hindi

फ्लैक्सीड: फ्लैक्सीड में सेक्विइसोल्यिरिसिनोल डिग्लुकोसाइड (secoisolariciresinol diglucoside) नामक यौगिक होते हैं जिसे टाइप 1 डायबिटीज की संभावना को कम करने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा यह टाइप 2 डायबिटीज़ की संभावना वाले लोगों में डायबिटीज़ उभरने में देर करता है।[5]