Routine For Covid Patients: कोरोना पेशेंट का कैसा होना चाहिए डेली रूटीन, एक्‍सपर्ट से जानिए उनका डाइट चार्ट और मेडिकेशन

कोरोना वायरस संक्रमितों को होम आइसोलेशन के दौरान क्‍या खाना चाहिए और उनका डेली रूटीन कैसा होना चाहिए, इन प्रश्‍नों के उत्‍तर जानने के लिए पढ़ें ये लेख।

1 / 5

होम आइसोलेशन के दौरान कोरोना पेशेंट फॉलो करें ये डेली रूटीन

भारत में कोरोना वायरस महामारी विकराल रूप ले चुका है। अधिकांश लोग कोरोना वायरस का उपचार पाने के लिए अस्पताल, ऑक्सीजन और बेड की किल्लत से जूझ रहे हैं, तो वहीं तमाम लोग ऐसे भी हैं जो कोरोना के हल्‍के लक्षणों के साथ होम आइसोलेशन में है और अपने चिकित्सकों की मदद ले रहे हैं। मगर तमाम लोग ऐसे भी हैं जिन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि होम आइसोलेशन के दौरान किस प्रकार की रूटीन को फॉलो करना है ताकि वह जल्द से जल्द कोरोना से जारी जंग जीत सकें। जानी-मानी  आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट डॉक्‍टर दीक्षा भावसार ने कोरोना पेशेंट के लिए डेली रूटीन से जुड़ी कुछ जरूरी बातें शेयर की है जो उनके लिए फायदेमंद है।

2 / 5

कोरोना पेशेंट के लिए डेली रूटीन

डॉ दीक्षा ने कोरोना पेशेंट के लिए 3 अलग-अलग हिस्सों में डेली रूटीन के बारे में बताया है, जिसमें पहला पार्ट है ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर। दूसरे पार्ट में कोरोना पेशेंट की एक्टिविटी और तीसरे हिस्से में कोरोना पेशेंट के लिए कुछ नेचुरल और हर्बल टिप्स शेयर किया है, ताकि उनकी इम्यूनिटी मजबूत हो और शरीर की कमजोरी दूर हो सके। उनके इस डेली डाइट और एक्टिविटी रूटीन को फॉलो करने पर निश्चित रूप से आप जल्द से जल्द कोरोना पॉजिटिव से नेगेटिव हो जाएंगे।

3 / 5

कोरोना पेशेंट के लिए ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर

डॉ दीक्षा ने कोरोना संक्रमितों के लिए ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में क्या खाना चाहिए इसके बारे में बताया है। डॉक्टर दीक्षा के मुताबिक, ब्रेकफास्ट में मूंग या मसूर दाल का सूप, फल, बेसन, मूंग या रागी का चीला। इसके अलावा पोहा और अदरक या दालचीनी की चाय पी सकते हैं। जबकि लंच में मूंग दाल की खिचड़ी, बेसन या रागी या ज्वार की रोटी और हरी सब्जियां व दालें फायदेमंद हैं। वहीं डिनर में उन्होंने वेजिटेबल सूप (सहजन, पालक, अदरक, टमाटर) मूंग या मसूर दाल का सूप और बेसन का चीला खा सकते हैं।

Advertisement
Advertisement
4 / 5

कोरोना से संक्रमित व्यक्ति की अन्‍य हेल्‍दी एक्टिविटी

डॉक्टर दीक्षा के अनुसार, होम आइसोलेशन या क्‍वारंटीन के दौरान पूरे दिन में कम से कम पांच से छह बार भाप लें। नमक और हल्दी को पानी में डालकर गुनगुना करें और तीन से चार बार गरारा करें। रोजाना 20 मिनट ध्यान करें। कम से कम 30 मिनट अनुलोम-विलोम प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम और कपालभाति प्राणायाम करें। खाना-खाने के बाद 10 मिनट वज्रासन में बैठें और सोने के दौरान पेट के बल लेटें।  

5 / 5

कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए हर्बल औषधि

अगर आप कोरोना से संक्रमित हैं तो पूरे दिन में कम से कम 3 बार हर्बल चाय का सेवन करना चाहिए। पानी में आप अदरक डालकर रख दें और उस पानी को पिएं। अगर खांसी आ रही है तो काली मिर्च और हल्दी को शहद के साथ मिक्स करके थोड़ी-थोड़ी मात्रा में खा सकते हैं। बुखार होने पर महासुदर्शन घन वटी का सेवन चिकित्सीय परामर्श के अनुसार कर सकते हैं। सिर दर्द में पुदीने की चाय पी सकते हैं इससे आपको राहत मिलेगी। ब्लोटिंग होने पर अजवाइन की चाय फायदेमंद हो सकती है।