Sign In
  • हिंदी

इन 4 तरह के लोगों को सबसे ज्यादा होती है विटामिन डी की जरूरत, ऐसे लोगों में जरूर पाई जाती है विटामिन डी की कमी

शरीर में विटामिन डी की कमी होने से मूड स्विंग, चिड़चिड़ापन, शरीर में दर्द, मांसपेशियों में ऐंठन और हड्डियों का कमजोर होना प्रमुख है। आजकल अधिकांश लोगों में विटामिन डी की कमी पाई जाती है।

Written by Atul Modi | Published : March 13, 2022 2:29 PM IST

1/5

विटामिन डी की कमी सबसे ज्यादा किसे होती है?

विटामिन डी एक ऐसा जरूरी पोषक तत्व है, जिसका सोर्स अन्य पोषक तत्वों के मुकाबले काफी कम देखा गया है। कुछ खाद्य पदार्थों को छोड़ दिया जाए तो सूर्य ही एक ऐसा माध्यम है जो हमारे शरीर में प्राकृतिक रूप से विटामिन डी का उत्पादन होता है। जब हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी होती है तो कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। विटामिन डी की कमी के चलते सबसे पहले हमारी हड्डियों में मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं इसके अलावा भी कई दिक्कतें हैं जिनका सामना हमें करना पड़ता है। तो आज हम इस लेख में जानेंगे कि वे कौन से लोग हैं जिनमें सबसे ज्यादा विटामिन डी की कमी देखी जा सकती है। 

2/5

बंद कमरे में रहने वाले लोग

जो लोग सुबह देर से उठते हैं और हमेशा बंद कमरे में ही रहते हैं या जिनका ऑफिस में सीटिंग जॉब है, उनमें अक्सर विटामिन डी की कमी देखने को मिलती है, क्योंकि ऐसे लोगों को सुबह की धूप नहीं मिल पाती है; जोकि विटामिन डी का सबसे बड़ा सोर्स है।  Also Read - मां बनने के बाद 40 दिन तक जरूर खाएं ये 5 फूड, जानिए डिलीवरी के बाद क्या खाना चाहिए

3/5

नॉनवेज अधिक खाने वाले लोग

विशेषज्ञों की माने तो जो लोग नॉनवेज का अधिक सेवन करते हैं उनमें भी विटामिन डी की कमी हो सकती है, क्योंकि नॉनवेज प्रोटीन का बड़ा सोर्स है लेकिन विटामिन डी की पूर्ति के लिए फल, सब्जियां और ड्राई फ्रूट्स के अलावा धूप सेकना बहुत जरूरी है। 

4/5

सीनियर सिटीजंस में

अधिक उम्र के लोगों में खासकर जो 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोग हैं उनमें भी विटामिन डी की समस्या देखने को मिल सकती है। ये वे लोग होते हैं जो ज्यादा समय घर के अंदर बिताते हैं और खानपान का विशेष ध्यान नहीं रखते हैं। ऐसे लोगों में चिड़चिड़ापन, अनिद्रा, तनाव और जॉइंट पेन जैसी समस्याएं देखने को मिल सकते हैं। Also Read - किडनी डायलिसिस से बचाव में कारगर आयुर्वेद! एक्सपर्ट ने बताया कौन सी परेशानियां बनाती हैं अपना शिकार

5/5

जिनकी स्किन डार्क होती है

विशेषज्ञों की मानें तो डार्क स्किन वाले लोगों में त्वचा की ऊपरी परत में मेलानिन की मात्रा अधिक होती हैं जिसके कारण उन्हें विटामिन डी की अधिक मात्रा की जरूरत पढ़ती है। ऐसे लोगों को नियमित तौर पर धूप सेकना चाहिए। साथ ही फल, सब्जी और ड्राई फ्रूट्स का भी सेवन करना चाहिए।