• हिंदी

PCOS में दवा से ज्यादा फायदेमंद हैं ये 5 मसाले, हार्मोंस को करते हैं बैलेंस

Spices For PCOS: पीसीओएस की समस्या में कुछ मसालों का सेवन काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। आइए, जानते हैं ऐसे ही कुछ मसालों के बारे में।

Written by priya mishra | Published : November 23, 2023 11:28 AM IST

1/6

पीसीओएस के लिए कौन से मसाले अच्छे हैं? - Which Spices Are Good For Pcos?

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) की समस्या से आजकल अधिकतर महिलाएं परेशान हैं। इस बीमारी में महिला के शरीर में पुरुष हार्मोन एंड्रोजन और टेस्टोस्टेरोन का अधिक मात्रा में उत्पादन होने लगता है। इसकी वजह से महिलाओं के शरीर में हार्मोंस का असंतुलन हो जाता है। पीसीओएस होने पर महिलाओं को अनियमित पीरियड्स, इन्सुलिन रेजिस्टेंस, शरीर पर अनचाहे बाल, एक्ने, वजन बढ़ाना और प्रजनन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। पीसीओएस होने पर आपको डॉक्टर से उचित परामर्श लेना चाहिए। इसके अलावा, हेल्दी डाइट और लाइफस्टाइल में जरूरी बदलाव के जरिए भी इस समस्या को मैनेज किया जा सकता है। क्या आप जानते हैं कि हमारी रसोई में कुछ ऐसे मसाले मौजूद हैं, जो इस परेशानी को कम करने में मदद कर सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको ऐसे कुछ मसालों के बारे में बताएंगे, जो हार्मोंस को बैलेंस करके पीसीओएस के लक्षणों को कंट्रोल करने में मदद करेंगे।

2/6

मेथी के बीज – Fenugreek Seeds For Constipation

कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने में मेथी के बीज बहुत फायदेमंद होते हैं। इसका सेवन करने के लिए रात को एक चम्मच मेथी के बीज को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उठकर खाली पेट इसका सेवन करें और पानी को पी जाएं। इसके नियमित सेवन से न सिर्फ कब्ज की परेशानी दूर होगी, बल्कि ब्लड शुगर लेवल भी नियंत्रित रहेगा।  Also Read - तलाक लेने से पहले कपल्स जरूर करें इन बातों पर डिस्कशन, टूटने से बच जाएगा रिश्ता

3/6

दालचीनी – Cinnamon For PCOS

पीसीओएस की समस्या में दालचीनी का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटी-डायबिटिक गुण होते हैं, जो हाई ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। इसके सेवन से मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता है, जिससे वजन घटाने में फायदा होता है। इसके नियमित सेवन से अनियमित पीरियड्स की समस्या को दूर करने में मदद मिल सकती है।

4/6

काली मिर्च – Black Pepper For PCOS

काली मिर्च का सेवन करने से इन्सुलिन सेंसटिविटी में सुधार होता है। इसमें मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण हार्मोंस को बैलेंस करने में मदद करते हैं। साथ ही, यह शरीर में जमा एक्स्ट्रा फैट को कम करने में भी मददगार है। आप सुबह खाली पेट कुटी हुई काली मिर्च को शहद के साथ मिलाकर खा सकती हैं।  Also Read - सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है शंख बजाना होते हैं ये 8 लाभ

5/6

सौंफ – Fennel Seeds For PCOS

पीसीओएस के लक्षणों को कम करने में सौंफ फायदेमंद साबित हो सकती है। यह पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं के शरीर में पुरुष हार्मोन एंड्रोजन को कम करने में मदद कर सकती है। इसका सेवन करने के लिए आप रात में एक चम्मच सौंफ को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें। सुबह इस पानी को करीब 5 मिनट तक उबालें। फिर इसे छानकर इसका सेवन करें।

6/6

हल्दी – Turmeric For PCOS

हल्दी में मौजूद औषधीय गुण पीसीओएस में हार्मोंस को बैलेंस करने में मददगार साबित हो सकते हैं। इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो इन्सुलिन रेजिस्टेंस, हाई ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं को अपनी डाइट में हल्दी को जरूर शामिल करना चाहिए।  Also Read - सफेद नमक नहीं खाने में आज से मिलाएं काला नमक, ये बीमारियां रहेंगी हमेशा दूर