World Health Day 2021: अगर डायबिटीज है तो कभी न करें इन 5 फूड का सेवन, इंसुलिन बनने में होगी समस्या

आज विश्‍व हेल्‍थ दिवस (World Health Day) के मौके पर हम आपको 5 ऐसे फूड्स के बारे में बता रहे हैं जिनका सेवन डायबिटीज के मरीजों को नहीं करना चाहिए।

1 / 7

डायबिटीज है तो कभी न करें इन 5 फूड का सेवन

अपनी हेल्‍थ को सही रखना और पूरी तरह से फिट रहना हर व्‍यक्त्ति की प्राथमिकता होनी चाहिए, लेकिन क्‍या ऐसा हो पाता है? इंसान जब छोटा होता है तो अमूमन उसका पूरा फोकस खाने-पीने पर रहता है और बड़ा होता है तो अंधा होकर पैसों के पीछे भागता है और बुढ़ापे में सोचता है कि जिंदगी के आखिरी पलों में क्‍यों न मनपसंद चीजें खाई जाएं! हालांकि इस मानसिकता के पीछे कहीं न कहीं हमारा वातावरण, हमारा लालन-पालन और हमारी शिक्षा का गहरा प्रभाव होता है। एक सर्वे के अनुसार जिन बच्‍चों को बचपन से ही हेल्‍थ संबंधी टिप्‍स दी जाती हैं उनका झुकाव जिंदगीभर अपने स्‍वास्‍थ्‍य की ओर होता है और वो ये समझते हैं कि स्‍वस्‍थ रहना जिंदगी का सबसे बड़ा काम है। हर साल 7 अप्रैल को विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस (World Health Day) मनाया जाता है। ताकि हर व्‍यक्ति अपनी हेल्‍थ के बारे में सोच सके। आज इस मौके पर हम बात करते हैं भारत को ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया को साइलेंट तरह से डसने वाली बीमारी डायबिटीज के बारे में। जी हां, मधुमेह या शुगर एक ऐसी बीमारी बनकर उभर कर रही है जो सबसे ज्‍यादा लोगों को अपना शिकार बना रही है। डायबिटीज तब होती है जब आपका ब्‍लड ग्‍लूकोज बढ़ने लगता है। कार्बोहाइड्रेट, फैट्स, प्रोसेस्‍ड फूड्स और यहां तक कि नेचुरल शुगर भी आपके ब्‍लड शुगर लेवल को बढ़ा सकते हैं। लेकिन अगर किसी व्‍यक्ति को डायबिटीज है तो इसका मतलब ये नहीं है कि उसे अपनी पसंद की चीजों को खाना बंद कर देना चाहिए। बल्कि इस स्थिति में आपको अपने द्वारा खाई जाने वाली हर एक चीज (What to eat and what not in Diabetes in hindi) पर ध्‍यान देना चाहिए।

2 / 7

डायबिटीज में हेल्‍दी और बैलेंस्‍ड डाइट की भूमिका (Healthy And Balanced Diet In Diabetes In Hindi)

डायबिटीज एक लाइफस्‍टाइल से जुड़ी बीमारी है। इसलिए अगर आपका लाइफस्‍टाइल अच्‍छा है यानि कि आप हेल्‍दी और संतुलित डाइट ले रहे हो, समय पर सो रहे हो और उठ रहे हो, एक्‍सरसाइज और योगा-मेडिटेशन कर रहे हो, वॉक कर रहे हो और स्‍ट्रेस फ्री हो तो डायबिटीज जैसी कई अन्‍य लाइफस्‍टाइल से जुड़ी बीमारियां जैसे कि ब्‍लड प्रेशर, कोलेस्‍ट्रॉल, अस्‍थमा और हार्ट संबंधी रोग भी कंट्रोल में रहते हैं। डायबिटीज को समय पर चेक न करना आपको कई गंभीर परिणाम भुगतने पर मजबूर कर सकता है। डायबिटीज को बढ़ाने में आपके द्वारा सेवन किए जाने फूड बड़ी भूमिका निभाते हैं। कुछ फूड्स ऐसे हैं जिन्‍हें यदि ज्‍यादा मात्रा में खाया जाए तो डायबिटीज को बढ़ाने के साथ ही इंसुलिन को बनने में भी दिक्‍कत आती है। इसलिए आज हम आपको ऐसे फूड्स की लिस्‍ट बता रहे हैं जिन्‍हें मधुमेह के मरीजों को नहीं खाना चाहिए।

3 / 7

फ्राइड फूड (Fried Food In Hindi)

डीप फ्राइड फूड्स जैसे कि फ्रेंच फ्राइज, समोसे, ब्रेडपकौड़ा और चिप्‍स आदि डीप फ्राई होते हैं इसलिए इनमें कार्बोहाइड्रेट की भारी मात्रा होती है। ये फूड्स ब्‍लड शुगर लेवल को ट्रिगर करने के साथ ही अपनी हेल्‍थ को कई तरह से नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए मधुमेह के रोगियों को फ्राइड फूड के सेवन से भी बचना चाहिए।

Advertisement
Advertisement
4 / 7

फ्लेवर वाली दही (Favoured Yogurt In Diabetes In Hindi)

अधिकतर लोगों का लगता है कि फ्लेवर वाली दही में भारी मात्रा में प्रोबॉयोटिक्‍स होते हैं जो उनकी हेल्‍थ को लाभ पहुंचाते हैं। लेकिन फ्लेवर्ड योगर्ट आपकी सेहत के लिए उतना फायदेमंद नहीं होता है जितना कि आप सोचते हैं। क्‍योंकि इनमें आर्टिफिशियल फ्लेवर के साथ ही भारी मात्रा में शुगर होती है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को जितना हो फ्लेवर वाली दही का सेवन करने से बचना चाहिए।

5 / 7

फुल फैट मिल्‍क (Full-fat Milk In Hindi)

दूध एक कम्‍प्‍लीट फूड होता है क्‍योंकि इसमें प्रोटीन के साथ ही भारी मात्रा में न्‍यूट्रीशंस भी होते हैं। लेकिन डायबिटीज के मरीज जब दूध का सेवन करें तो उन्‍हें थोड़ा सा सावधान होने की जरूरत होती है। मधुमेह के रोगियों को फुल फैट दूध के सेवन से बचना चाहिए क्‍योंकि इसमें भारी मात्रा में सेचुरेटिड या हनहेल्‍दी फैट होता है। इससे इंसुलिन बनने में दिक्‍कत आ सकती है। इसलिए डायबिटीज के मरीज फुल फैट मिल्‍क का सेवन न करें।

6 / 7

रिफाइंड फ्लोर या मैदा (Refined Flour In Diabetes)

डायबिटीज के मरीजों को रिफाइंड फ्लोर या मैदा से बनी चीजें जैसे कि व्‍हाइट ब्रेड, व्‍हाइट राइज, पास्ता, बेकरी आइटम और स्‍नेक्‍स का सेवन नहीं करना चाहिए। हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण ये चीजें जैसी से कार्बोहाइड्रेट को ग्‍लूकोज में बदलती हैं। सिर्फ इतना ही नहीं इससे ब्रेन फंक्‍शन घटने के साथ ही कई तरह के मानसिक बीमारियां होने का भी खतरा रहता है। इसलिए रिफाइंड आटे की बजाय गेंहू के आटे का सेवन करें। इसमें भारी मात्रा में फाइबर होता है।

7 / 7

डायबिटीज में फलों का जूस नहीं पीना चाहिए (Fruit Juices In Diabetes In Hindi)

फल खाना हर व्‍यक्ति के लिए फायदेमंद होता है यहां तक कि डायबिटीज के मरीजों के लिए भी। लेकिन फलों का जूस डायबिटीज का मरीजों के लिए उतना ही नुकसानदायक ( fruit juices are bad for diabetes paitent in hindi) भी होता है। फलों का जूस बनने से उनमें से फाइबर चले जाते हैं और जूस में फ्रुक्टोज रह जाता है जो ब्‍लड शुगर को तेजी से बढ़ाता है। इसलिए यदि आप डायबिटीज के मरीज हैं तो जूस के बजाय फल खाएं। अगर कभी आपका जूस पीने का मन कर रहा है तो उसे छाने बिना पीएं।