Advertisement

दिमाग को सुकून देने के साथ याद्दाश्त बढ़ाते हैं ये 5 तरीके, सुबह-शाम करने से मिलेगा दोगुना लाभ

शरीर को तो हम कई तरह से स्वस्थ रखते हैं लेकिन मानसिक सुकून के लिए हमें पता ही नहीं होता है कि हमें क्या करना चाहिए। आज हम आपको 5 ऐसे तरीके बता रहे हैं जो दिमाग को सुकून देने के साथ ही याद्दाश्त बढ़ाने में भी मदद करते हैं।

1 / 6

1

याद्दाश्त बढ़ाते हैं ये 5 तरीके- शरीर को तो हम कई तरह से स्वस्थ रखते हैं लेकिन मानसिक सुकून के लिए हमें पता ही नहीं होता है कि हमें क्या करना चाहिए। आज हम आपको 5 ऐसे तरीके बता रहे हैं जो दिमाग को सुकून देने के साथ ही याद्दाश्त बढ़ाने में भी मदद करते हैं।

2 / 6

2

अश्वगंधा- अश्वगंधा को आयुर्वेद में काफी उच्च स्थान दिया है। इसके सेवन से शरीर को कई तरह के लाभ होते हैं और कई रोगों का निवारण भी होता है। अश्वगंधा की सबसे बड़ी खासियत यह है कि ये स्मृति बढ़ाने में काफी लाभदायक है। अश्वगंधा का प्रयोग लगभग सभी हर्बल मस्तिष्क टॉनिक को बनाने में किया जाता है। अश्वगंधा समझने की शक्ति को बढ़ाने का काम करती है। Also Read - Weight Loss: ये फल खाने से आपका वजन होगा कम, जानें और क्या हैं इसके फायदे, Watch Video

3 / 6

3

मुलेठी- मुलेठी एक आयुर्वेदिक औषधीय जड़ी बूटी है जो मुख्य रूप से खांसी दूर करती है। लेकिन बहुत कम लोग यह जानते हैं कि मुलेठी के सेवन से मानसिक स्वास्थ्य भी दुरुस्त होता है। जो लोग तनाव में रहते हैं उनके लिए मुलेठी का सेवन बहुत अच्छा होता है। इसके अलावा यह शरीर के तंत्रिका तंत्र में संचलन बढ़ाने और खून में शर्करा के स्तर को संतुलित करने का काम भी करती है।

Advertisement
Advertisement
4 / 6

5

हेल्दी डाइट- हमारे खान-पान का भी दिमाग पर असर पड़ता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो डायट से मिलने वाली एनर्जी और शुगर का 20 प्रतिशत हिस्सा दिमाग के काम आता है। शरीर में यदि शुगर का लेवल कम या ज्यादा है होता है तो इसका असर दिमाग पर भी पड़ता है। दिमाग को बेहतर रखने के लिए नट्स, मछली और फल फायदेमंद होते हैं। Also Read - ऑमलेट बनाने के बेस्ट तरीके और उससे मिलने वाले फायदे

5 / 6

6

दालचीनी पाउडर- खाना बनाने में मसाले के तौर पर दालचीनी का प्रयोग किया जाता है। आयुर्वेद में दालचीनी को औषधी बताया गया है। रात को सोने से पहले शहद के साथ एक चुटकी दालचीनी पाउडर लेने से मानसिक तनाव दूर होता है और इससे आपका दिमाग तेज होता है। दिमाग को कमजोर करने में मानसिक तनाव सबसे बड़ा कारण है।

6 / 6

तनाव से रहें दूर- जो लोग हमेशा तनाव में रहते हैं वह धीरे धीरे मानसिक रूप से कमजोर होते जाते हैं। ऐसे लोगों को अक्सर सिर में दर्द और कमजोर याद्दाश्त की शिकायत रहती है। इसलिए डॉक्टर्स कहते हैं कि तनाव कम से कम लेना चाहिए, नहीं तो ​यह डिप्रेशन का रूप ले सकता है। अपने दिमाग को आराम देने के लिए आपको एकांत या कुछ नयी जगहों में जाना चाहिए जहां दिमाग पर कोई तनाव न हो। इससे दिमाग में पड़ने वाले तनाव को कम किया जा सकता है। Also Read - Heart Attack In Women: महिलाओं में हार्ट अटैक के क्या हैं लक्षण, इससे कैसे बच सकते हैं, Watch Video