Advertisement

बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए क्या उसे ब्रेस्ट मिल्क की बजाए फार्मूला मिल्क दे सकते हैं?

क्या आप अपने बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए उसे फार्मूला मिल्क दे रही हैं? एक बार ये पोस्ट जरूर पढ़ लें!

भारतीय महिलाएं ऐसा सोचती हैं कि सही तरीके से वजन बढ़ना ही बच्चे का सही विकास है। कई महिलाएं बच्चे के वजन न बढ़ते देख ब्रेस्ट मिल्क छोड़ उसे फार्मूला मिल्क देने लगती हैं। लेकिन आपको बता दें कि बच्चे के जन्म के छह महीने तक ब्रेस्टफीडिंग कराना बहुत जरूरी है। क्या आपको पता है ब्रेस्ट मिल्क के क्या फायदे है?  यह बच्चे के समग्र विकास के लिए बहुत जरूरी है। लेकिन कुछ महिलाएं वजन बढ़ाने के चक्कर में बच्चे को फार्मूला मिल्क देने लगती हैं।

सवाल यह है कि क्या छह महीने से कम के बच्चे का वजन बढ़ाने के लिए उसे फार्मूला मिल्क देने सही है? केजे सोमैया कॉलेज, स्कूल ऑफ नर्सिंग के प्रिंसपल अवनि आपको इस बारे में तमाम जानकारी दे रही हैं। अवनि के अनुसार, मां का दूध बच्चे का वजन बढ़ाने, इम्युनिटी बढ़ाने और उसे तृप्त रखने के लिए जरूरी है। अगर इसे लेने के बावजूद बच्चे का वजन नहीं बढ़ रहा है, तो इसके कुछ अलग कारण हो सकते हैं।

हालांकि यह जरूरी नहीं है कि बच्चे का वजन तेजी से बढ़े। छह महीने के बाद बच्चे का दूध छुड़ाना धीरे-धीरे बंद करना चाहिए। अगर बच्चा दूध छोड़ने में समय ले रहा है, तो आप उसे थोड़ा-थोड़ा दूध पिलाते रहें। इससे भी बच्चे का वजन बढ़ता है क्योंकि कई बार सिर्फ तृप्त होना ही पर्याप्त नहीं है बल्कि भावनात्मक लगाव भी जरूरी होता है।

Read this in English

अनुवादक – Usman Khan

चित्र स्रोत - Shutterstock

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on