Advertisement

आयुष्मान भारत क्यों है एक बड़ा कदम ?

क्या यह सही दिशा में उठाया गया एक बड़ा कदम साबित होगा।

स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र से जुड़े लोगों ने केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत की सराहना की है, और इसे सही दिशा में उठाया गया एक कदम बताया है। उन्होंने कहा है कि इससे स्वास्थ्य सेवा से देश के गरीबों को लाभ मिलेगा।

हार्टकेयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के के अग्रवाल ने कहा, "आयुष्मान भारत योजना से निम्न मध्यम वर्ग की 40 प्रतिशत आबादी को लाभ होगा और आम आदमी के कल्याण के लिए यह सही दिशा में उठाया गया कदम है। इसमें ईएसआई, सीजीएचएस आदि के तहत कवर किए गए लोगों को शामिल नहीं किया गया है, लेकिन गुणवत्ता वाली हेल्थकेयर तक पहुंच की कमी वाले लोगों को इसका लाभ मिलेगा।"

यह भी पढ़ेंः 5 आदतें जो आपको हमेशा रखती हैं जवां।

Also Read

More News

एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स के सीईओ अरिंदम हल्दर ने कहा कि आयुष्मान भारत से स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव आएंगे।

हल्दर ने कहा, "मुझे उम्मीद है कि आयुष्मान भारत योजना देश में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र की चुनौतियों- क्रोनिक सेकण्डरी एवं टर्शरी बीमारियों के इलाज के लिए बुनियादी सुविधाओं की कमी, इलाज की अत्यधिक लागत और इलाज पर आने वाले भारी व्यय- को दूर करने में कारगर साबित होगी। हम भारत सरकार की इस पहल का स्वागत करते हैं।"

यह भी पढ़ेंः रोना सेहत के लिए फायदेमंद है या हानिकारक ?

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को झारखंड की राजधानी रांची में आयुष्मान भारत के तहत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाई) का शुभारंभ किया। सरकार का दावा है कि आयुष्मान भारत दुनिया की पहली ऐसी योजना है, जिसके अंतर्गत 50 करोड़ से अधिक लोगों को पांच लाख रुपये तक का बीमा मिलेगा।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on