Advertisement

Type 2 Diabetes: कोरोना महामारी में किया वेट गेन तो बढ़ेगा टाइप-2 डायबिटीज का खतरा, जानिए बचाव के तरीके

नियमित एक्सरसाइज करें। हर दिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि बहुत फायदेमंद है.

नेशनल हेल्‍थ सर्विस का कहना है कि अगर महामारी के दौरान किसी व्‍यक्ति का वजन महामारी के दौरान 1kg भी बढ़ता है तो डायबिटीज की चपेट में आने के चांस 8% तक बढ़ जाते हैं.

किसी भी व्‍यक्ति को डायबिटीज (Diabetes) होने के 2 कारण होते हैं। पहला होता है जेनेटिक (अगर आपके DNA में किसी को शुगर है तो आपको भी डायबिटीज हो सकता है) और दूसरा होता है हमारा लाइफस्‍टाइल। ज्‍यादातर लोग खराब लाइफस्‍टाइल के कारण शुगर की चपेट में आते हैं। यह एक ऐसी बीमारी है जो अगर एक बार हो गई तो इसे दवा से पूरी तरह ठीक नहीं किया जा सकता है। दवा के साथ ही बैलेंस डाइट, वॉकिंग और हल्‍की-फुल्‍की एक्‍सरसाइज से आप इसे कंट्रोल कर सकते हैं। लेकिन हाल ही में यूके में हुई एक रिसर्च ने सभी को चौंका दिया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के दौरान किसी व्‍यक्ति का वजन बढ़ता है तो उसका टाइप-2 डायबिटीज की चपेट में आने का खतरा बढ़ जाएगा।

"द लैंसेट डायबिटीज एंड एंडोक्रिनोलॉजी" (The Lancet Diabetes & Endocrinology) में छपी रिपोर्ट में कहा गया है कि नेशनल हेल्‍थ सर्विस डायबिटीज प्रिवेंशन प्रोग्रााम (National Health Service (NHS) Diabetes Prevention Programme) में नामांकन 40 साल की उम्र से कम के लोगों ने अपने वजन में काफी अंतर देखा है। सभी लोगों ने अपने वजन में करीब 1kg का अंतर देखा है। नेशनल हेल्‍थ सर्विस का कहना है कि अगर महामारी के दौरान किसी व्‍यक्ति का वजन महामारी के दौरान 1kg भी बढ़ता है तो डायबिटीजकी चपेट में आने के चांस 8% तक बढ़ जाते हैं।

Also Read

More News

डायबिटीज और ओबेसिटी के लिए एनएचएस के नेशनल क्लिनिकल डायरेक्‍टर, डॉ जोनाथन वल्लभजी का कहना है "महामारी ने हमारे जीवन के हर हिस्से को बदल दिया है। महामारी का असर सिर्फ शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य पर ही नहीं बल्कि मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर भी देखने को मिल रहा है। हजारों लोगों को इसके लिए भारी कीमत चुकानी पड़ रही है। कुछ लोग ऐसे हैं जिनका वजन काफी तेजी से बढ़ रहा है।" उन्‍होंने आगे कहा है "वजन बढ़ने के कारण व्‍यक्ति सीधे तौर पर टाइप-2 डायबिटीज की चपेट में आ सकता है। जिसके कारण कैंसर, अंधापन, हार्ट अटैक और हार्ट स्‍ट्रोक जैसी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।"

Adding selenium to your diet may protect against obesity:

टाइप 2 डायबिटीज से बचाव के आसान तरीके

  • नियमित एक्सरसाइज करें। हर दिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि बहुत फायदेमंद है।
  • सेहतमंद भोजन खाएं। साबुत अनाज, फल और सब्जियों से भरपूर आहार शरीर के लिए बहुत अच्छा होता है। रेशेदार भोजन यह सुनिश्चित करेगा कि आप लंबी अवधि के लिए पेट भरा महसूस करें और किसी भी तरह की तलब को रोकें। जितना हो सके, प्रोसेस्ड और रिफाइंड फूड से बचें।
  • शराब के सेवन को सीमित करें और धूम्रपान छोड़ दें। बहुत अधिक शराब वजन बढ़ाने की ओर ले जाती है और आपके रक्तचाप और ट्राइग्लिसराइडके स्तर को बढ़ा सकती है। पुरुषों को दो ड्रिंक प्रतिदिन और महिलाओं को एक ड्रिंक प्रतिदिन तक सीमित रखना चाहिए। धूम्रपान करने वालों को धूम्रपान न करने वालों की तुलना में मधुमेह का दोगुना रिस्क रहता है। इसलिए, इस आदत को छोड़ना एक अच्छा विचार है।
  • अपने जोखिम कारकों को समझें। ऐसा करना आपको जल्द से जल्द निवारक उपाय करने और जटिलताओं से बचने में मदद कर सकता है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on