• हिंदी

देशभर में मंडरा रहा डेंगू का खतरा, जानिए इसके लक्षण और बच्चों को डेंगू के मच्छर से सुरक्षित रखने के टिप्स

देशभर में मंडरा रहा डेंगू का खतरा, जानिए इसके लक्षण और बच्चों को डेंगू के मच्छर से सुरक्षित रखने के टिप्स

Dengue Fever :  देशभर के कई राज्यों में डेंगू का खतरा मंडरा रहा है। आइए जानते हैं डेंगू के लक्षण और बचाव के क्या टिप्स हैं?

Written by Kishori Mishra |Updated : July 21, 2023 1:07 PM IST

Dengue Fever : बरसात के सीजन में लगभग हर साल मच्छरों से होने वाली बीमारियों का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है। खासतौर पर डेंगू, मलेरिया के मामले काफी तेजी से सामने आते हैं। इस साल डेंगू के मामलों में काफी तेजी देखी जा रही है। देशभर के अलग-अलग राज्यों में डेंगू के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। मुख्य रूप से मध्य प्रदेश में इंदौर, झारखंड के जमशेदपुर और उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या में काफी तेजी देखी जा रही है, तो एक चिंता का विषय है। आइए जानते हैं इन जिलों का हाल और कैसे करें डेंगू से बचाव?

क्या है इन जिलों का हाल?

खबरों की मानें तो जमशेदपुर में जून और जुलाई महीने तक डेंगू के सिर्फ 22 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। लेकिन शुक्रवार को इस मामले में तेजी देखी गई है। बताया जा रहा है कि यहां शुक्रवार को करीब छह मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, जो एक चिंता का विषय बनी हुई है। वहीं, मध्य प्रदेश के इंदौर की बात करें, तो यहां पर बीते दिनों डेंगू के मामले काफी ज्यादा तेजी से बढ़ रहे हैं। अबतक डेंगू के मामलों की संख्या बढ़कर 28 हो चुकी है। वहीं, मलेरिया से पीड़ित मरीजों की संख्या 5 है। कानपुर की बात करें तो यहां पर डेंगू के मच्छर स्पॉट हुए हैं, जिसे लेकर स्वास्थ्यकर्मी काफी सतर्क हैं और लोगों से सतर्कता बरतने की अपील कर रहे हैं। 

मालूम हो कि दिल्ली बाढ़ के पानी से डूबा हुआ है, ऐसे में दिल्ली में भी डेंगू पनपने का खतरा काफी है। इस स्थिति में अगर आप दिल्ली में रहते हैं, तो आपको इस समस्या के प्रति सजग रहने की जरूरत है। ताकि आप स्थिति की गंभीरता को कम कर सकते हैं। 

Also Read

More News

क्या हैं डेंगू के लक्षण - Dengue Symptoms

इन दिनों होने वाले शरीर में बदलाव को नजरअंदाज न करें, ताकि आपकी स्थिति गंभीर होने से बच सके। आइए जानते हैं इसके (dengue lakshan) लक्षण-

  • तेज सिरदर्द और बुखार का होना 
  • मांसपेशियों और जोड़ों में काफी ज्यादा दर्द होना। 
  • आंखें लाल होना और दर्द जैसा महसूस होना 
  • उल्टी और जी मिचलाना
  • दस्त और स्किन पर लाल-लाल दानें नजर आना। 

डेंगू के गंभीर मामलों में नाक, मुंह, मसूड़ों से खून आना और प्लेटलेस्ट की संख्या में तेजी से गिरावट आना हो सकता है। इस स्थिति में मरीज तुरंत इमर्जेंसी में भर्ती कराने की जरूरत पड़ सकती है।

डेंगू से कैसे करें बचाव - Dengue Prevention Tips

  • डेंगू से बचने के लिए आपको अधिक सतर्क होने की जरूरत है। मुख्य रूप से इसके बचाव के लिए मच्छरों के काटने से बचें। इसके अलावा अपनी इम्युनिटी को मजबूत बनाए रखने की कोशिश करें। 
  • हमेशा घर से बाहर निकलते समय पूरी आस्तीन के कपड़े पहनें, घर के आसपास जलजमाव न होने दें और रात में सोते समय मच्छरदानी का इस्तेमाल जरूर करें। 
  • अगर आपको बुखार के साथ तेज सिरदर्द हो रहा है, तो शरीर को आराम दें। अपने शरीर को हाइड्रेट करें, अधिक से अधिक पानी पिएं। 

बच्चों की डेंगू से किस तरह करें देखभाल? - Dengue fever prevention tips for kids

  • इस बरसात और डेंगू के सीजन में बच्चों को घर से बाहर न खेलने दें। 
  • अगर आपका बच्चा घर से बाहर जा रहा है, तो उन्हें पूरी बाजू के कपड़े पहनाएं। 
  • बच्चों को इन दिनों हल्के रंग के कपड़े पहनाएं। 
  • घर के आसपास जमा पानी को साफ करें और बच्चों को जमा पानी के आसपास न रहने दें। 
  • शाम के समय घर के खिड़की और दरवाजे बंद करके रखें। 
  • बच्चों के खुले स्किन पर मच्छर न काटने वाली दवा लगाएं। 
  • उन्हे तरल पदार्थ और पानी पिलाने की कोशिश करें। 

डेंगू काफी गंभीर समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में इससे बचाव ही आपके लिए बेहतर उपाय है। वहीं, डेंगू के लक्षण दिखने पर इसे नजरअंदाज न करें और समय पर अपनी जांच कराएं।