Advertisement

आईसीएमआर का दावा, भारत में अगस्त के आखिरी सप्ताह में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, मगर...

कोरोनावायरस की तीसरी लहर अगस्त के अंत में भारत में सकती है मगर यह दूसरी लहर जितनी घातक नहीं होगी, यह बात आईसीएमआर के एक बड़े डॉक्टर ने एक साक्षात्कार के दौरान कही है.

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) में एपिडेमियोलॉजी और संक्रामक रोगों के प्रमुख डॉक्टर समीर पांडा ने एक टीवी चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में कहा, 'कोरोना की तीसरी लहर राष्ट्रव्यापी होगी लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि यह दूसरी लहर जितनी तीव्र और घातक होगी।'

डॉक्टर समीर पांडा ने थर्डवेव आने के 4 कारकों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पहला कारक कोरोना की पहली व दूसरी लहर में हासिल की गई इम्यूनिटी का कम होना है, अगर लोगों की इम्युनिटी कम होती है तो तीसरी लहर आ सकती हैं.

दूसरे कारक में उन्होंने बताया कि कोरोना का नया वेरिएंट अब तक हासिल की गई इम्यूनिटी पर अपनी बढ़त बना सकता है, जबकि तीसरा कारक यह हो सकता है कि अगर नया वेरिएंट इम्युनिटी को पार नहीं कर पाता है तो इसकी प्रकृति तेजी से फैलने वाली हो सकती है.

Also Read

More News

डॉक्टर पांडा ने चौथे कारक के तौर पर राज्यों में प्रतिबंध में ढील देना बताया है उन्होंने कहा कि इससे नए मामलों में तेजी से वृद्धि हो सकती है, डॉक्टर पांडा ने कहा कि देश में डेल्टा और डेल्टा प्लस दोनों वेरिएंट फैले हुए हैं डेल्टा वेरिएंट से किसी और सार्वजनिक स्वास्थ्य के खतरे की उम्मीद नहीं है.

डॉक्टर पांडे के बयान पर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि कोरोनावायरस की तीसरी लहर लोगों की प्रतिरक्षा को कम करके उत्पन्न हो सकती है, कोरोनावायरस के अन्य संस्करणों या वेरिएंट के पैदा होने का कारण सरकारों द्वारा लॉकडाउन में ढील देना हो सकता है.

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि अलग-अलग परिदृश्य के तहत कोरोनावायरस की संभावित तीसरी लहर को लेकर अध्ययन और मॉडल प्रस्तुत किए गए हैं. आईआईटी के एक ऐसे मॉडल से पता चलता है कि यदि सभी प्रतिबंध हटा दिए जाएं और यदि कोई भी वायरस या वेरिएंट इम्यूनिटी से बचने में सक्षम है तो अगली लहर दूसरी लहर से भी बड़ी हो सकती है. हालांकि अगर कुछ प्रतिबंध रखे जाते हैं और वायरस का संक्रमण नहीं होता है तो मामलों में ज्यादा वृद्धि नहीं होंगी।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on