Sign In
  • हिंदी

यूपी के प्राइवेट अस्पतालों को डॉक्टरों की फोटो, नाम और फोन नंबर का डिस्प्ले लगाना अनिवार्य

अधिकारियों के अनुसार, डॉक्टरों का विवरण डालने से रोगी यह जान सकेंगे कि योग्य डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं।

Written by Atul Modi |Published : October 5, 2022 7:08 PM IST

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग ने जिले के सभी निजी अस्पतालों के लिए वहां काम करने वाले डॉक्टरों की फोटो और फोन नंबर लगाना अनिवार्य कर दिया है। इन लिस्ट को ऐसे स्थान पर डिस्प्ले किया जायेगा जहां रोगी और उनके परिजन आसानी से देख सकें। इसके अलावा, अस्पतालों को डिस्प्ले बोर्ड पर अपने फोन नंबरों के साथ आपातकालीन चिकित्सा अधिकारियों की विशेषता के बारे में जानकारी भी लगानी होगी।

यूपी के अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.ए.पी. सिंह ने कहा, "डॉक्टरों का विवरण डालने से रोगी यह जान सकेंगे कि योग्य डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। इसके अलावा, उन्हें पता चल जाएगा कि आपात स्थिति में किससे संपर्क करना है। इससे अस्पताल के निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य अधिकारियों को भी मदद मिलेगी।"

उन्होंने कहा, "अब तक अस्पतालों को मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) द्वारा जारी लाइसेंस रखना होगा, जिसे निरीक्षण के दौरान प्रदर्शित किया जाना है। यह कदम स्वास्थ्य विभाग द्वारा छापेमारी के दौरान अस्पतालों में काम करने वाले कई अयोग्य डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और नर्सो के मिलने के बाद उठाया गया है।"

Also Read

More News

अधिकारियों ने बताया, "शहर में करीब 350 अस्पताल और नर्सिग होम लाइसेंस के साथ हैं।"

18 अस्पतालों में छापेमारी

स्वास्थ्य विभाग द्वारा 18 अस्पतालों में छापेमारी के दौरान 10 अस्पतालों में खामियां पाई गईं और उन पर नोटिस तामील किया गया। सबसे आम विसंगति अस्पताल से आपातकालीन चिकित्सा अधिकारियों की अनुपस्थिति थी। तीन निजी अस्पतालों में पैरामेडिकल व नर्सिग स्टाफ अप्रशिक्षित था।

इसके अलावा, हरदोई रोड पर दो अस्पतालों के दौरे से पता चला कि डॉक्टर आधुनिक चिकित्सा के अभ्यास के लिए योग्य नहीं थे। उनके पास बीएचएमएस और बीएएमएस की डिग्री थी।

डॉ. ए.पी. सिंह ने कहा, "अयोग्य कर्मचारियों द्वारा चलाए जा रहे अस्पतालों के खिलाफ हम विशेष अभियान चला रहे हैं। इसमें लिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, उनके खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।"

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on