Sign In
  • हिंदी

PM Modi On Healthcare: अब केवल हेल्थ नहीं वेलनेस पर भी करना है फोकस, हेल्थ वेबिनार में प्रधानमंत्री ने दिया One India, One Health का संदेश

प्रधानमंत्री ने कहा कि एंटी-कोविड वैक्सीनेशन के लिए इस्तेमाल किए गए को-विन जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म की सफलता बधाई के लायक है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि, हेल्थ बजट हेल्थकेयर सेक्टर को मजबूती देने की दिशा में सरकार की नीतियों की मदद करते हैं।

Written by Sadhna Tiwari |Updated : February 27, 2022 12:38 AM IST

भारत के आम बजट-2022 में हेल्थ सेक्टर के लिए घोषित प्रावधानों के बारे में चर्चा करने के लिए एक विशेष ऑनलाइन वेबिनार (post-budget health webinar 2022) का आयोजन शनिवार 26 फरवरी को किया गया। इस वेबिनार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  (Narendra Modi) ने एक्सपर्ट पैनल्स को संबोधित किया। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में भारत की टेक्नोलॉजी और डिजिटल शक्ति को आज पूरी दुनिया में पहचान मिली है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एंटी-कोविड वैक्सीनेशन (Covid Vaccination In India) के लिए इस्तेमाल किए गए को-विन (Co-Win) जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्म की सफलता बधाई के लायक है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि, हेल्थ बजट2022 हेल्थकेयर सेक्टर को मजबूती देने की दिशा में सरकार की नीतियों की मदद करते हैं। (PM Narendra Modi On Healtcare Budget 2022)

Also Read

More News

हेल्थ वेबिनार में प्रधानमंत्री ने दिए महत्वपूर्ण सुझाव

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ''स्वच्छ भारत मिशन (Swachh Bharat Mission) और फिट इंडिया मिशन (Fit India Mission) के अलावा पोषण मिशन (Poshan Mission), मिशन इंद्रधनुष (Mission Indradhanush) सहित आयुष्मान भारत मिशन (Ayushman Bharat Mission)  और जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) जैसी सभी योजनाओं को हमें अधिकतर लोगों तक पहुंचाने और उन्हें इन योजनाओं से लाभ पहुंचाने की दिशा में प्रयास करने होंगे।'' इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि,

  • हमारा फोकस केवल स्वास्थ्य ही नहीं वेलनेस पर भी है।
  • पीएम मोदी ने कहा, ''हमारा प्रयास क्रिटिकल हेल्थकेयर सुविधाओं को गांव-गांव और ब्लॉक स्तर पर पहुंचाने का है। हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मेंटेन करना और समय के साथ उन्हें अपग्रेड किया जाए।
  • प्राइवेट सेक्टर और अन्य सभी संबंधित क्षेत्रों को भी पहले से अधिक शक्ति के साथ इसे आगे बढ़ाने की दिशा में योगदान देना चाहिए।
  • भारत में ऐसे हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार करने की आवश्यकता है जो केवल महानगरों और शहरी क्षेत्र तक ही सीमित ना रहे.
  • वन हेल्थ, वन अर्थ (one health, one earth) से प्रेरणा लेकर भारत में वन इंडिया, वन हेल्थ (one India, One health) को बढ़ावा देना चाहिए। जिससे, ग्रामीण और दूर-दराज के स्थानों पर भी स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंच सकती हैं।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on