Advertisement

नई लचीली ई-त्वचा खुद का करेगी इलाज

कृत्रिम त्वचा 3,400 फीसदी से अधिक लचीली है और तुरंत अपने मूल रूप में वापस आ जाती है।

वैज्ञानिकों ने एक इलेक्ट्रॉनिक स्किन विकसित किया है, जो खुद को महसूस कर सकती है और खुद का इलाज कर सकती है। इसका प्रयोग प्रोस्टेटिक्स, घाव भरने के लिए दवा युक्त पट्टी और पहनावा प्रौद्योगिकी में किया जा सकता है। यह कृत्रिम त्वचा 3,400 फीसदी से अधिक लचीली है और यह तुरंत अपने मूल रूप में वापस आ जाती है। छूने के प्रति यह संवेदनशील है।

शोधकर्ताओं ने कहा कि इसका निर्माण हाइड्रोजेल और धातु कार्बाइड से किया गया है तथा यह विभिन्न सतहों पर चिपक सकती है। जब इसे टुकड़ों में काटा जाता है तो यह तुरंत जुड़कर खुद की मरम्मत कर लेता है।

सऊदी अरब के तुवाल स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (केएयूएसटी) के प्रोफेसर हुसम अलशरीफ ने बताया, "हमारी सामग्री ने पहले के सभी हाइड्रोजेल को पीछे छोड़ दिया है और नई कार्यक्षमताओं का प्रदर्शन किया है।"

Also Read

More News

शोध के मुख्य लेखक और यूनिवर्सिटी के पोस्टडॉक्टोरल छात्र यिझोऊ झांग ने कहा, "इस सामग्री की खींचने और जुड़ने की अलग-अलग संवेदनशीलता एक सफल खोज है, जो हाइड्रोजेल की संवेदनशीलता क्षमता में एक नया आयाम जोड़ता है।"

स्रोत:IANS Hindi.

चित्रस्रोत:Shutterstock.

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on