• हिंदी

फरवरी से 800 रुपये में मिलेगी दुनिया की पहली नेजल कोविड वैक्सीन! जानें कहां और कैसे मिलेगी ये वैक्सीन

फरवरी से 800 रुपये में मिलेगी दुनिया की पहली नेजल कोविड वैक्सीन! जानें कहां और कैसे मिलेगी ये वैक्सीन
फरवरी से 800 रुपये में मिलेगी दुनिया की पहली नेजल कोविड वैक्सीन! जानें कहां और कैसे मिलेगी ये वैक्सीन

iNCOVACC Covid Vaccine : स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया का कहना है कि ये दुनिया की पहली नाक में डाली जाने वाली वैक्सीन है, जो कि आत्म निर्भर भारत के लिए शानदार ट्रिब्यूट है।

Written by Jitendra Gupta |Published : January 27, 2023 11:28 AM IST

iNCOVACC Covid Vaccine : भारत बायोटेक ने वो काम कर ही दिया, जिसका दुनिया भर के देशों को बेसब्री से इंतजार था। दरअसल भारत बायोटिक ने दुनिया की पहली इंट्रानेजल कोविड वैक्सीन बना ली है, जिसका नाम iNCOVACC है। इस वैक्सीन को 74वें गणतंत्र दिवस के मौके पर लॉन्च किया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने वैक्सीन को लॉन्च कर भारत की वैक्सीन निर्माण और नई तकनीक को इजात करने की क्षमता को सराहते हुए कहा कि आज दुनियाभर में इसकी तारीफ हो रही है। कैसी है ये वैक्सीन और बाजार में कितने दाम में मिलेगी आइए जानते हैं इसके बारे में।

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया का कहना है कि ये दुनिया की पहली नाक में डाली जाने वाली वैक्सीनहै, जो कि आत्म निर्भर भारत के लिए शानदार ट्रिब्यूट है। वहीं भारत बायोटेक का कहना है कि ये वैक्सीन कम और मध्यम आय वाले देशों के लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी। आइए जानते हैं क्या है वैक्सीन की खासियत।

नेजल वैक्सीन iNCOVACC की पांच विशेषताएं

1-नवंबर में मिली थी मंजूरी

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने नवंबर में iNCOVACC (BBV154) को मंजूरी दी थी। हालांकि इसे सिर्फ बुजुर्गों के लिए आपात स्थिति में ही प्रयोग करने की मंजूरी दी गई थी।

Also Read

More News

2-नाक का रास्ता सबसे सेफ

हमारी नाक का रास्ता इम्यून सिस्टम से काफी हद तक जुड़ा हुआ होता है इसलिए ये रास्ता वैक्सीन की दक्षता के लिए प्रभावी तरीके से काम करता है। इस रास्ते में हुआ इंफेक्शन इम्यून रिस्पॉन्स के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि ये कोविड संक्रमण और उसे फैलने से रोकने के लिए महत्वपूर्ण है।

3-इतने रुपये में मिलेगी वैक्सीन

भारत बायोटेक का कहना है कि ये वैक्सीन कोविन पर उपलब्ध है और ये 800 रुपये की कीमत में मिलेगी। इसके अलावा ये केंद्र और राज्य सरकार को 325 रुपये में सप्लाई की जाएगी।

4- 3 हजार लोगों पर हुआ ट्रायल

कंपनी का ये भी दावा है कि इस वैक्सीन को 3000 लोगों पर ट्रायल किया गया था, जिसमें फेज 1, 2, 3 शामिल है। सभी लोगों पर पॉजिटिव परिणाम सामने आए हैं। बताया जा रहा है कि ये वैक्सीन फरवरी के पहले सप्ताह से बाजार में उपलब्ध होगी।

5-क्या-क्या होंगे फायदे

नेजल स्प्रे के रूप में इस्तेमाल होने के बाद सिरिंज, नीडल, एल्कोहल वाइप्स, बैंडेज और दूसरी चीजों की जरूरत खत्म हो जाएगी, जिससे आपको काफी पैसे बचाने में मदद मिलेगी। इसके अलावा बायोमेडिक्ल वेस्ट में भी कमी आएगी। इस वैक्सीन को फ्रिज में 2 से 8 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर रख जा सकता है।