Advertisement

संयुक्त राष्ट्र: छत्तीसगढ़ नसबंदी मामले के लिए जवाबदेही की मांग

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या कोष और अंतर्राष्ट्रीय योजनाबद्ध अभिभावकता महासंघ (आईआईपीएफ) ने कहा कि वह गर्भनिरोधक अपनाने के लिए लोगों को किभी भी किसी तरह के प्रलोभन देने के खिलाफ है, साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ नसबंदी मामले में होने वाली मौतों की जवाबदेही तय करने की मांग की है। छत्तीसगढ़ में नसबंदी ऑपरेशन के कारण 13 महिलाओं की मौत पर प्रतिक्रिया देते हुए यूएनएफपीए के कार्यकारी निदेशक बाबातूंडे ओसोटिमोहिन और आईपीपीएफ के महानिदेशक तेवड्रोस मेलेस्से ने एक विज्ञप्ति जारी कर गुरुवार को कहा, 'सभी तरह के गर्भनिरोधकों की गुणवत्ता के साथ आधुनिक गर्भ निरोधकों की एक पूरी श्रृंखला की उपलब्धता सुनिश्चित कराना बड़ा महत्वपूर्ण है। जो कि बिना किसी प्रोत्साहन के पूरी तरह से जानकार पुरुषों और महिलाओं द्वारा स्वतंत्र रूप से चुना जाना चाहिए।'

इन संस्थाओं के प्रमुखों ने खुद को 'अधिकार आधारित परिवार नियोजन का मजबूत वकील बताया' साथ ही उन्होंने मामले की जांच का स्वागत किया। उन्होंने कहा, "हम इस हादसे के लिए जिम्मेदार सभी लोगों की जवाबदेही की मांग करते हैं, ताकि वे लोग जो कम मानकों पर सेवा प्रदान कर रहे थे वे दण्ड से न बच पाएं।' पढ़े: रमन: नसबंदी मामले की होनी चाहिए न्यायिक जाँच

स्रोत: IANS Hindi

Also Read

More News

चित्र स्रोत: Getty images

प्रस्तुत प्रतिकृति (इमेज) मूल वर्णन पर आधारित कल्पित प्रतिरूप है।


लेटेस्ट अप्डेट्स के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो कीजिए।स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए न्यूजलेटर पर साइन-अप कीजिए।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on