Sign In
  • हिंदी

अब प्रदूषण फ्री सैनिटरी नैपकिन उपलब्ध

प्रदूषण को रोकने का नायाब तरीका।

Written by Agencies |Published : May 28, 2015 3:07 PM IST

ममता बनर्जी शासित पश्चिम बंगाल में महिलाओं को सशक्त बनाने और उनमें स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने के लिए स्कूलों, कॉलेजों और सार्वजनिक स्थलों पर सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीनें लगाई जा रही हैं। वर्तमान में कोलकाता के भवानीपुर एजुकेशन सोसाइटी कॉलेज में यह वेंडिंग मशीन लगाई गई है। इस वेंडिंग मशीन से उच्च गुणवत्ता वाले और किफायती दाम (10 रुपये में तीन) पर सैनिटरी नैपकिन प्राप्त होंगे। इससे महिलाओं व लड़कियों को दवा दुकान से सैनिटरी नैपकिन लाने और मांगने में शर्म से छुटकारा मिलेगा।

इस परियोजना को कोलकाता की कंपनी रॉबस्ट सॉल्यूशंस ने शुरू किया है। इस कंपनी के संस्थापक रौनक सरावगी ने कहा, 'हमें बंगाल सरकार की ओर से अनुमति मिली है और हम धीरे-धीरे अन्य जिलों में सेवा का विस्तार कर रहे हैं। इन स्वचालित मशीनों की स्थापना सरकारी और निजी दोनों कंपनियां कर सकती हैं।' सरावगी ने कहा कि कि इस परियोजना को देशभर में विभिन्न एजेंसियों द्वारा शुरू किया गया है।

सरावगी ने कहा, 'हमें कोलकाता के अग्रणी शैक्षणिक संस्थानों से अभूतपूर्व प्रतिक्रिया मिली है। हमारा नया उत्पाद सैनिटरी नैपकिन इन्सिनिरेटर (भस्मक) इस्तेमाल किए गए नैपकिन को नष्ट कर देता है। यह धुंआरहित और आसानी से प्रयोग करने योग्य है। इस्तेमाल किए हुए नैपकिन भी पर्यावरण को प्रदूषित करने वाले कारणों में से एक है।'

स्रोत: IANS Hindi

चित्र स्रोत:  Shutterstock image


हिन्दी के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमारा हिन्दी सेक्शन देखिए।लेटेस्ट अप्डेट्स के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो कीजिए।स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए न्यूजलेटर पर साइन-अप कीजिए।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on