• हिंदी

अमेरिका में कुत्तों में दिखी ये अजीबो-गरीब बीमारी, क्या इंसान भी आ सकते हैं इसकी चपेट में, पढ़ें डिटेल्स

अमेरिका में कुत्तों में दिखी ये अजीबो-गरीब बीमारी, क्या इंसान भी आ सकते हैं इसकी चपेट में, पढ़ें डिटेल्स

यह श्वसन मार्ग से जुड़ी एक बीमारी है जो अमेरिका के कई राज्यों में कुत्तों में देखी गयी है। यहां कई मामलों की पुष्टि की गयी है।

Written by Sadhna Tiwari |Updated : November 22, 2023 7:33 PM IST

Mysterious Disease In Dogs: अगर आपके घर में भी कोई पालतू कुत्ता है तो आपको पता ही होगा कि उनकी देखभाल और स्वास्थ्य का कितना ख्याल रखने की जरूरत पड़ती है। वहीं कुत्तों का अपने घरवालों से लगाव भी बहुत अधिक होता है। ऐसे में इंसानों से कुत्तों और कुत्तों से उनके मालिक में कई तरह की बीमारियों के फैलने का रिस्क भी अधिक होता है।अमेरिका में बीते कुछ समय से ऐसी ही एक बीमारी चिंता का विषय बनी है क्योंकि यह इंसानों के आसपास रहने वाले कुत्तों में देखी जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार यह श्वसन मार्ग से जुड़ी एक बीमारी है जो अमेरिका के कई राज्यों में कुत्तों में देखी गयी है। यहां कई मामलों की पुष्टि की गयी है।

यह बीमारी कुत्तों के श्वसन मार्ग या रेस्पिरेटरी सिस्टम पर असर डाल रही है और इसी के चलते कुत्तों में लगातार खांसी की समस्या बनी रहती है।

क्यों बढ़ रही है कुत्तों में रहस्यमयी बीमारी?

एक्सपर्ट्स का कहना है कि कुत्तों में इस बीमारी के जो लक्षण दिख रहे हैं वह केनेल खांसी के लक्षणों जैसे हैं। हालांकि, ये बहुत गम्भीर हो सकते हैं। इस रहस्यमय बीमारी से पीड़ितों कुत्तों में खांसी के साथ घुर्घुराहट जैसी आवाज आती है। इसके साथ ही इस तरह के लक्षण भी दिखायी देते हैं-

Also Read

More News

  • खांसी के साथ उल्टी
  • नाक से पानी बहना
  • हमेशा सुस्त रहना
  • आंख से पानी बहना
  • टॉन्सिल में सूजन
  • भूख न लगना
  • घरघराहट
  • निमोनिया

सावधानियां और इलाज

जानकारों के अनुसार इस रहस्यमयी बीमारी में कुत्तों में साधारण एंटीबायोटिक दवाओं का असर नहीं होता। वहीं, कुत्तों में यह बीमारी तेजी से फैल भी रही है पर इसका कारण पता नहीं लग पा रहा। इसी वजह से बीमार कुत्तों के इलाज में दिक्कत आ रही है। ऐसे में कुत्तों के मालिकों को सावधान रहने की सलाह दी जा रही है। उनमें सांस लेने से जुड़ी परेशानी, बहती नाक और छींक-खांसी जैसे लक्षण दिखायी दें तो उन्हें डॉक्टर को जरूर दिखाएं।