Advertisement

हिमाचल डेंगू की गिरफ्त में, एक सप्ताह से भी कम समय में डेंगू के 110 से अधिक मामलों की पुष्टि

राजधानी शिमला से लगभग 60 किमी दूर बिलासपुर के क्षेत्रीय अस्पताल में रोजाना डेंगू के पांच से 10 मामले सामने आ रहे हैं।

हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर कस्बे से एक सप्ताह से भी कम समय में डेंगू के 110 से अधिक मामलों की पुष्टि के बाद एक केंद्रीय टीम स्थिति से निपटने के लिए वहां पहुंच रही है। अभी तक हालांकि किसी के मरने की खबर नहीं है।

एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि,"डेंगू को फैलने से रोकने के प्रभावी कदम सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी नड्डा द्वारा नियुक्त एक टीम बिलासपुर पहुंच रही है।"

बिलासपुर नड्डा का गृहनगर है और नड्डा देश के स्वास्थ्य मंत्री हैं। इस स्थिति में यह भी सवाल उठ रहा है कि यह बीमारी इतना फैल जाने तक प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दे पाया।

Also Read

More News

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार भी स्थिति का जायजा लेने के लिए बिलासपुर पहुंच रहे हैं।

एक अधिकारी ने अनुसार,"हम मामलों की संख्या में और वृद्धि की जांच के लिए सभी सावधानी बरत रहे हैं और इसके प्रसार को कम करने के लिए आवश्यक कदमों के बारे में लोगों को जागरूक भी कर रहे हैं।" डेंगू के कारण, लक्षण और बचने के उपाय।

उन्होंने कहा,"परीक्षण किट सभी सरकारी अस्पतालों और दवा केंद्रों में पर्याप्त संख्या में उपलब्ध है। यहां तक कि निजी अस्पतालों को भी इन्हीं किटों के इस्तेमाल के निर्देश दिए गए हैं।"

राजधानी शिमला से लगभग 60 किमी दूर बिलासपुर के क्षेत्रीय अस्पताल में रोजाना डेंगू के पांच से 10 मामले सामने आ रहे हैं।

बिलासपुर के डिप्टी कमिश्नर विवेक भाटिया ने कहा, "हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। हमने फॉगिं करनी शुरू कर दी है और मच्छरों को पनपने से रोकने के लिए जागरूकता अभियान चला रहे हैं।"

स्रोत: IANS Hindi.

चित्रस्रोत: Shutterstock.

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on