Advertisement

दादी माँ के नुस्ख़े #3: कमजोरी दूर करने का घरेलु उपाय

शहद और दूध का मिश्रण कमजोरी को दूर करने का सबसे अच्छा घरेलु उपाय है।

कभी-कभी लंबे समय तक बीमार रहने के कारण या खराब जीवनशैली के कारण भी कमजोरी हो जाती है। अक्सर महिलाएं घर के अत्यधिक काम के चलते अपने ऊपर ध्यान ही नहीं दे पाती हैं, जिसका परिणाम यह होता है वे न चाहते हुए भी शारीरिक कमजोरी का शिकार हो जाती हैं। कमजोरी के कारण चिड़चिड़ापन, थकान, नींद ठीक से न आना, घबराहट, चक्कर आना आदि कई लक्षण नजर आने लगते हैं।

वैसे कमजोरी दूर करने के लिए बाजार में बहुत सारी दवाईयाँ मिल जायेंगी मगर घरेलु इलाज के द्वारा भी इसके कष्टों से राहत पाया जा सकता है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि शहद एक ऐसा संजीवनी बूटी जो कमजोरी को दूर करने में जादू जैसा काम करता है।

शहद वह घरेलु औषधि है जो आसानी से हजम हो जाता है और इसमें जो विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स होता है वह भूख को बढ़ाने में मदद करता है। शहद के नियमित सेवन से शरीर को प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेड, एमिनो एसिड, मिनरल, मैग्नीशियम, कैल्सियम, पोटैशियम, आयरन आदि उपयोगी तत्व मिल जाते हैं। दूध के साथ शहद को मिलाकर पीने से यह संपू्र्ण आहार बन जाता है और जो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक सिद्ध होता है। इसलिए नियमित रूप से एक गिलास दूध में एक छोटा चम्मच शहद मिलाकर पीने से कमजोरी तो दूर होती ही हैं साथ ही शरीर को एक अलग ही ताकत का एहसास होने लगता है। लेकिन यह कमजोरी को दूर करने का सिर्फ घरेलु उपाय है कोई इलाज नहीं है, अत्यधिक कमजोरी महसूस होने पर तुरन्त डॉक्टर से सलाह लें।

Also Read

More News

चित्र स्रोत: Getty Images

पिछला दादी माँ का नुस्ख़ा


हिन्दी के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमारा हिन्दी सेक्शन देखिए।लेटेस्ट अप्डेट्स के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो कीजिए।स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए न्यूजलेटर पर साइन-अप कीजिए।

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on