Sign In
  • हिंदी

10 अप्रैल से लगेगी कोविड वैक्सीन की तीसरी डोज! जानें किन्हें लगेगी और किन लोगों को करना होगा इंतजार

10 अप्रैल से लगेगी कोविड वैक्सीन की तीसरी डोज! जानें किन्हें लगेगी और किन लोगों को करना होगा इंतजार

केंद्र सरकार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, वे लोग ही तीसरी डोज के लिए पात्र होंगे, जिन्हें दूसरी डोज लिए हुए तीन महीने पूरे हो चुके हैं।

Written by Jitendra Gupta |Published : April 8, 2022 6:18 PM IST

पहले कोरोनावायरस और अब उसके नए-नए वेरिएंट्स से पैदा होते खतरे के मद्देनजर केंद्र सरकार 18 साल से ऊपर के लोगों को तीसरी डोज देने की तैयारी शुरू करने वाली है। जी हां, केंद्र सरकार ने 10 अप्रैल यानी के रविवार से निजी टीकाकरण केंद्रों पर 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए एहतियाती खुराक यानी की कोविड वैक्सीन की तीसरी ड़ोज शुरू करने का फैसला किया है। आइए जानते हैं क्या है ये जरूरी नियम।

ये नियम पूरा करना जरूरी

हालांकि इसके लिए एक नियम जरूरी है कि जिन भी 18 साल से ऊपर के व्यक्ति को तीसरी डोज लेनी है उसको दूसरी डोज को लिए हुए 9 महीने पूरे हो चुके हैं। केंद्र सरकार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, वे लोग ही तीसरी डोज के लिए पात्र होंगे, जिन्हें दूसरी डोज लिए हुए तीन महीने पूरे हो चुके हैं। इसके अलावा ये सुविधा फिलहाल सभी निजी टीकाकरण केंद्रों में ही उपलब्ध होगी।

इन लोगों को दी जाएगी एहतियाकी खुराक

सरकार द्वारा जारी एक बयान में ये भी कहा गया है कि सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर कोविड वैक्सीनेशन की पहली और दूसरी डोज के लिए चल रहे मुफ्त टीकाकरण कार्यक्रम के अलावा 10 अप्रैल से हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से ऊपर के लोगों को भी एहतियाती डोज दिए जाने का कार्यक्रम जारी रहेगा। सरकार के मुताबिक, इस कार्यक्रम में और तेजी लाई जाएगी।

Also Read

More News

15 साल से ऊपर के इतने बच्चों को लगी वैक्सीन

फिलहाल देश में 15 साल से ऊपर के बच्चों को वैक्सीन लगाने का प्रोग्राम चल रहा है और अभी तक करीब 96 फीसदी लोग कम से कम कोविड वैक्सीन की एक डोज लगवा चुके हैं जबकि 15 साल के ऊपर के 83 फीसदी बच्चे और लोग वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं।

इतने करोड़ लोगों को लग चुकी है प्रिकॉशन डोज

सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 2.4 करोड़ से अधिक एहतियाती खुराक लगाई जा चुकी है, जिसमें हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से ज्यादा उम्र वाले लोग शामिल हैं। वहीं 12 से 14 साल की उम्र के 45 फीसदी बच्चों को भी पहली डोज दी जा चुकी है।

चौथी लहर के डर बीच शुरू हुआ कार्यक्रम

सरकार ने कोरोना की चौथी लहर की आशंका के बीच 18 साल से ऊपर के लोगों के साथ-साथ हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल की उम्र से ऊपर के लोगों के लिए एहतियाती खुराक जारी रखने का फैसला किया है। ये सुविधा सरकारी टीकाकरण केंद्रों के माध्यम से चल रहे मुफ्त टीकाकरण कार्यक्रम के साथ-साथ जारी रहेगी।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on