Advertisement

COVID 19: एशिया में लगातार बढ़ रहे हैं मामले, WHO ने भारत को चेताया

Covid 19 In India: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) हाल ही में जारी की गई एडवाइजरी के अनुसार कोरोना फिर से कई देशों में बढ़ने लगा है और इस पर भारत को भी सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

कोरोना ने दुनियाभर में बहुत कहर बरपाया है, जिससे लोगों के स्वास्थ्य से लेकर काम-धंधे सब कुछ ठप कर दिए हैं। वहीं अगर भारत की बात करें तो कोरोना की तीसरी लहर (Covid 19 third wave) जाने के बाद ऐसा लग रहा था कि अब कोरोना का खतरा टल गया है। लोगों ने कोरोना के प्रति सख्ती को भी थोड़ा कम कर दिया था। लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से इस सप्ताह एडवाइजरी जारी की गई थी कि दुनिया भर के कई देशों में कोविड के मामलों में फिर से वृद्धि देखी जा रही है। डबल्यूएचओ के अनुसार एशिया के कुछ दक्षिणी-पूर्वी देशों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, जिसके चलते भारत विशेष रूप से सतर्क रहने की सलाह दी गई है। हालांकि, इंटरनेट से मिली खबरों के अनुसार विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोना की चौथी लहर का ज्यादा असर नहीं होगा। वहीं भारत के पड़ोसी देश चीन में स्टील्थ ओमिक्रॉन वेरिएंट फैल रहा है, जो अत्यधिक संक्रामक बताया जा रहा है।

भारत में कोरोना की स्थिति

तीसरी लहर के बाद भारत में कोरोना की स्थिति नियंत्रित होती दिख रही है। कोविड 19 के दैनिक मामलों की अगर बात करें तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार देश में बीते 24 घंटों में 1,549 मामले दर्ज किए गए जिससे संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,30,09,390 हो गई थी। वहीं इस समय कुल सक्रिय मामले लगभग 25,106 हैं और इनका इलाज चल रहा है।

मास्क की अनिवार्यता को किया जाए कम

एम्स में वरिष्ठ महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ. संजय राय का कहना है कि कोविड 19 वायरस एक आरएनए वायरस है जिसमें म्यूटेशन होता ही है। डॉक्टर ने बताया कि कोरोना में अब तक 1000 से ज्यादा म्यूटेशन हो चुके हैं, जिनमें सिर्फ 5 वेरिएंट ही खतरनाक थे। डॉक्टर संजय राय ने बताया कि सरकार मास्क पर ढील देने पर विचार भी कर सकती है। हालांकि, जिन लोगों को कोरोना संक्रमण का ज्यादा खतरा है, उन्हें मास्क का उपयोग करने और अन्य एहतियात बरतने की सलाह दी जाती है।

Also Read

More News

अगले कई महीनों तक नहीं आएगी कोरोना की चौथी लहर

सार्वजनिक स्वास्थ्य और महामारी विशेषज्ञ डॉ चंद्रकांत लहरिया ने कहा कि अगर हम सीरो सर्वेक्षण के आंकड़ों, वैक्सीनेशन कवरेज और ओमीक्रोन वेरिएंट के प्रसार का अध्ययन करते हैं, तो इससे मिले आंकड़े बताते हैं कि भारत में कोविड 19 महामारी खत्म हो गई है। उनके अनुसार अगले कई महीनों तक भारत में कोविड महामारी आने की आशंका बेहद कम है।

सतर्कता है जरूरी

हालांकि, इसके साथ-साथ सभी डॉक्टर व एक्सपर्ट्स यही सलाह दे रहे हैं, कोरोना से बचाव रखने के लिए सरकार द्वारा दिए जा रहे दिशानिर्देशों का पालन करना जरूरी है। साथ ही जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन नहीं ली है, वे भी जल्द से जल्द अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र जाकर वैक्सीन की खुराक अवश्य लें।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on