Sign In
  • हिंदी

Coronavirus Treatment: डेक्सामेथासोन दवा से होगा कोरोना के गंभीर मरीजों का इलाज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी मंजूरी

Coronavirus Treatment: डेक्सामेथासोन दवा से होगा कोरोना के गंभीर मरीजों का इलाज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी मंजूरी।

Coronavirus Treatment: डेक्सामेथासोन दवा (Dexamethasone) से अब भारत में कोरोना के गंभीर मरीजों का इलाज हो सकेगा। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपनी मंजूरी दे दी है।

Written by Anshumala |Published : June 27, 2020 7:57 PM IST

Coronavirus Treatment in India: भारत में कोरोना (Covid-19 in india) के बढ़ते मामले को देखते हुए सरकार ने कोरोना के उपचार (Treatment of coronavirus) के लिए डेक्सामेथासोन (Use of Dexamethasone in hindi) के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। यह एक स्टेरॉयड ड्रग है। हालांकि, ड्रग डेक्सामेथासोन का इस्तेमाल सिर्फ मॉडरेट और गंभीर लक्षणों वाले कोरोना के मरीजों (severe symptoms of coronavirus) के इलाज में भी इस्तेमाल करने की मंजूरी दी गई है। यह दवा मिथाइलप्रेड्निसोलोन (methylprednisolone) के विकल्प के रूप में दी जाएगी। इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने कोविड-19 मरीजों के उपचार (Coronavirus treatment) के लिए एक संशोधित प्रोटोकॉल जारी किया है। यह प्रोटोकॉल उन डॉक्टर्स के लिए है, जो कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे हैं।

गौरतलब है कि कुछ ही दिनों पहले ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने दावा किया था डेक्सामेथासोन (Dexamethasone) काफी सस्ती और आसानी से मिलने वाली दवा है, जिससे कोरोनावायरस से गंभीर रूप से पीड़ित मरीजों की जान बचाई जा सकती है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं द्वारा किए गए एक शोध में यह बात सामने आई थी कि जो लोग कोरोनावायरस के कारण वेंटिलेटर पर थे, उन्हें इस दवा का डोज देने पर मौत का खतरा एक तिहाई कम हो गया था।

शोधकर्ताओं ने कहा था कि महामारी के शुरुआत में ही अगर ब्रिटेन में इस दवा का इस्तेमाल किया जाता, तो करीब 5 हजार लोगों की जान बचाई जा सकती थी। यह एक सस्ती दवा है (Coronavirus Medicine) और इससे आसानी से गरीब देशों में बढ़ते कोविड-19 के मरीजों को फायदा पहुंच सकता था। शोध में इस दवा के निष्कर्ष से पता चला है कि गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 के मरीजों की जान बचाई जा सकती है। शोधकर्ताओं ने कहा कि अब तक सिर्फ यही दवा है, जिसने मृत्यु दर कम किया है।

Also Read

More News

डेक्सामेथासोन के साइड एफेक्ट्स (Dexamethasone side effects in hindi)

डब्लूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन के अनुसार, डेक्सामेथासोन के कुछ साइड एफेक्ट्स (Dexamethasone Drug side effects) भी होते हैं। ऐसे में इस दवा का इस्तेमाल माइल्ड लक्षणों वाले कोरोना के मरीजों पर करना खतरनाक भी साबित हो सकता है। अनुचित तरीके से दवा का सेवन संक्रमण की स्थिति को और बिगाड़ सकता है। इसका इस्तेमाल सिर्फ डॉक्टर्स की सलाह पर ही होना चाहिए।

Covid-19 Delhi Update: इन 5 उपायों से दिल्ली में कोरोना के खिलाफ शुरू होगी जंग

भारत में कोरोना के मामले

भारत में कोरोना थमने का नाम नहीं ले रहा है। देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना के नए मामले हर दिन सामने आ रहे हैं। प्रत्येक 24 घंटे में देशभर में कोरोना के औसतन 10 हजार मामले सामने आते हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना संक्रमित लोगों के लगभग 18,552 मामले सामने आए हैं। फिलहाल देश में कुल संक्रमितों की संख्या की बात करें, तो यह 508,953 हो चुकी है, जिसमें से 295,881 कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं। वहीं मरने वालों की संख्या बढ़कर 15,685 हो चुकी है। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण अब भारत विश्वस्तर पर कोरोना से प्रभावित देशों की सूची में चौथे स्थान पर आ चुका है।

कोरोनावायरस की मिली पहली दवा, डेक्सामेथासोन से बच सकती है मरीजों की जान

Coronavirus vaccine news: WHO के प्रमुख ने कहा, एक साल के भीतर दुनिया को मिल जाएगी कोरोनावायरस की वैक्सीन

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on