Advertisement

Coronavirus New Strain: भारत सहित 86 देशों तक फैल चुका है कोरोना का नया स्ट्रेन, WHO ने किया सावधान

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा है कि,  दिसंबर 2020 में चर्चा में आए कोरोना वायरस का यूके स्ट्रेन  अब तक 86 देशों में फैल चुका है। गौरतलब है कि, दिसंबर 2020 में इसने लोगों को भारी सख्या में संक्रमित किया। जिसके बाद ब्रिटेन में लॉकडाउन की घोषणा कर दी गयी। (Coronavirus New Strain)

Coronavirus New Strain: कोरोना वायरस के नये स्ट्रेन ने दुनियाभर के अलग-अलग हिस्सों में अपने पांव पसार लिए हैं।विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने कहा है कि,  दिसंबर 2020 में चर्चा में आए कोरोना वायरस का यूके स्ट्रेन  अब तक 86 देशों में फैल चुका है।

गौरतलब है कि, ब्रिटेन वेरिएंया या कोरोना वैरिएंट बी.1.1.7 के नाम से पहचाने जाने वाले इस म्यूटेंट को पहली बार 20 सितंबर को ब्रिटेन में पाया गया। फिर, दिसंबर 2020 में इसने लोगों को भारी सख्या में संक्रमित किया। जिसके बाद ब्रिटेन में लॉकडाउन की घोषणा कर दी गयी। (Coronavirus New Strain)

दुनियाभर में लोग हो रहे हैं नये स्ट्रेन से संक्रमित

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस पर अपनी साप्ताहिक मीटिंग में इस विषय पर कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां सार्वजनिक की। WHO ने कहा कि वैरिएंट बी.1.1.7 (B.1.1.7)  का प्रसार तेज़ी से बढ़ा है। साथ ही प्रारंभिक निष्कर्षो के आधार पर रोग की गंभीरता में वृद्धि के कुछ प्रमाण मिले हैं। मीटिंग में बताया गया कि  7 फरवरी तक 6 अतिरिक्त देशों ने भी अपने क्षेत्र में कोरोना वायरस के इस नये म्यूटेंट द्वारा संक्रमण के मामलों की पुष्टि की है।

Also Read

More News

WHO ने मंगलवार को ब्रिटेन का उदाहरण देते हुए कहा कि, यहां नये वैरिएंट के नमूने की जांच 14 दिसंबर के सप्ताह में 63 प्रतिशत  रही। जबकि,  18 जनवरी के सप्ताह में  इसमें बढ़ोतरी हुई और अब 90 प्रतिशत टेस्टिंग की जा रही है।

इससे जुड़ी CNN की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यूके वैरिएंट के अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन  कोरोना वायरस के दो अन्य वैरिएंट्स पर भी विशेष तौर पर ध्यान दे रहा है। ये दोनों वैरिएंट हैं  इ.1.351  जो शुरू में दक्षिण अफ्रीका में देखा गया था और पी.1 स्ट्रेन (P.1 Strain) जिसे पहली बार ब्राजील में पाया गया WHO के बयान के अनुसारस , "7 फरवरी तक 44 देशों में इ.1.351 स्ट्रेन के मिलने की पुष्टि हुई है, जबकि 15 देशों में पी.1 स्ट्रेन  के मामले पाए गए हैं।"(Coronavirus New Strain)

(स्रोत-आईएएनएस, एवाईवी/एएनएम) 

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on