Sign In
  • हिंदी

योग करने के दौरान बीएचयू की छात्रा की मौत, डॉक्टर्स ने जताई कार्डियक अरेस्ट की संभावना

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में योग करते हुए एक शोध छात्रा की मौत होने की बात सामने आ रही है, जिसको लेकर विशेषज्ञों ने भी अपनी राय दी है। 

Written by Atul Modi |Published : September 27, 2022 6:27 PM IST

जिम करते हुए अब तक देश में कई जानी-मानी हस्तियां और सामान्य नागरिकों की मौत होने की खबरें सामने आ चुकी हैं। अब वाराणसी के बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। विश्वविद्यालय में शोध करने वाली एक छात्रा सुबह योग करते हुए बेहोश हुई और कुछ देर बाद उसकी सांसें थम गई। हॉस्टल की अन्य छात्राओं के मुताबिक, योग करने से पहले शोध छात्रा बिल्कुल ठीक थी।

बीएचयू से फिजियोलॉजी में शोध करने वाली छात्रा अनुभा उपाध्याय मंगलवार को सुबह-सुबह योग कर रहीं थी। जानकारी के मुताबिक, उन्होंने जैसे ही वार्मअप कंप्लीट किया उसके बाद ही उनको चक्कर आया और वह बेहोश होकर गिर पड़ीं, वहां मौजूद अन्य छात्राओं की मदद से उसे अस्पताल ले जाया गया, मगर चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने कार्डियक अरेस्ट की संभावना जताई है।

बीएचयू अस्पताल के न्यूरोलॉजी विभाग के डॉ विजय नाथ मिश्रा ने एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने न्यूरोलॉजी विभाग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर रामेश्वर चौरसिया से पूछा है कि युवाओं की डेथ होने की वजह क्या है? इस पर जवाब देते हुए प्रोफेसर रामेश्वर ने बीएचयू में योग करते हुए छात्रा की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि, "हमें लगता है कि जो हमारा एक्सरसाइज करने का तरीका है उसे नियमित रखना चाहिए और जो हम एक्सरसाइज करते हैं उसे धीरे-धीरे बढ़ाना चाहिए लोग एक दूसरे को देख कर अपनी क्षमता से ज्यादा एक्सरसाइज करने लग जाते हैं।"

Also Read

More News

उन्होंने कहा की "पोस्ट कोविड-19 बहुत से लोगों के फेफड़ों के पार्ट प्रभावित हुए हैं ऐसे लोगों में फेफड़ों की जो स्टेमिना रही है वह भी प्रभावित हुई है। ध्यान देने वाली बात यह है कि आप अपनी एक्सरसाइज को धीरे-धीरे बढायें।"

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on