Sign In
  • हिंदी

AIIMS ने बताया शुगर वाली ये आयुर्वेदिक दवा घटाती है वजन भी! नसों में कोलेस्ट्रॉल जमने का खतरा भी हो जाता है आधा

AIIMS ने बताया शुगर वाली ये आयुर्वेदिक दवा घटाती है वजन भी! नसों में कोलेस्ट्रॉल जमने का खतरा भी हो जाता है आधा

BGR-34 tablet uses : एम्स के बड़े डॉक्टरों का दावा डायबिटीज के लिए आयुर्वेदिक दवा ‘BGR-34’ न सिर्फ ब्लड शुगर कंट्रोल करने में प्रभावी है बल्कि ये मोटापा भी कम कर सकती है।

Written by Jitendra Gupta |Published : September 26, 2022 1:17 PM IST

BGR-34 tablet uses : देश के प्रमुख स्वास्थ्य संस्थान दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान यानी (एम्स) के डॉक्टरों की एक टीम ने पाया है कि डायबिटीज के लिए आयुर्वेदिक दवा ‘BGR-34’ न सिर्फ ब्लड शुगर कंट्रोल करने में प्रभावी है बल्कि ये मोटापा भी कम कर सकती है। दरअसल ये दवा मरीजों के मेटाबॉलिज्म तंत्र को बेहतर बनाती ही है, जिसकी वजह से क्रोनिक डिजीज का खतरा बहुत ज्यादा रहता है। डिपार्टमेंट ऑफ फार्मोकोलोजी एम्स के एडिशनल प्रोफेसर, डॉ। सुधीर चंद्रल सारंगी की अध्यक्षता वाली टीम ने तीन साल तक अध्ययन करने के बाद ये निष्कर्ष निकाला है।

चिकित्सीय पौधों से प्राप्त कई गुणों से संपन्न ये दवा काउंसिल फॉर साइंटिफिक एंड इंड्रस्ट्रियल रिसर्च (CSIR) के वैज्ञानिकों द्वारा गहन शोध के बाद तैयार की गई है, जिसे AIMIL फार्मा द्वारा बाजार में बेचा जाता है।

वजन भी कम करती है BGR-34

अध्ययन का मुख्य लक्ष्य ये पता करना था कि क्या BGR-34 दूसरी एलोपैथी दवाओं के साथ खुद इतनी प्रभावी है या फिर नहीं और अगर है तो कितने स्तर पर ये प्रभावी है। नतीजे प्रोत्साहित करने वाले थे। ये पाया गया कि ये हर्बल दवा न सिर्फ खाली पेट ब्लड शुगर कंट्रोल करने में प्रभावी है बल्कि हार्मोनल गुणों के साथ शरीर के वजन को भी कम करने में सक्षम है। साथ ही ये दवा दूसरे फायदे भी पहुंचाती है।

ये दवा न सिर्फ हार्मोन को संतुलित करती है बल्कि लिपिड प्रोफाइल और ट्राइग्लिसराइड्स लेवल को नीचे लेकर आती है, जिसकी वजह से फैट को कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है।

BGR-34 से कम होता है बैड कोलेस्ट्रॉल

बता दें कि बहुत ज्यादा मात्रा में ट्राइग्लिसराइड्स सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है क्योंकि ये 1 बैड कोलेस्ट्रॉल है। इसी तरह नियंत्रित लिपिड प्रोफाइल न सिर्फ ह्रदय रोगों को दूर रखता है बल्कि हार्मोन को नियंत्रित रखता है, जिसकी वजह से खराब नींद चक्र की समस्या हो सकती है।

ठीक इसके विपरीत हार्मोन को संतुलित रखना बहुत ही जरूरी माना गया है क्योंकि ये आपको इंसुलिन लेवल को बुरी तरह प्रभावित करता है, जिसकी वजह से डायबिटीज हो सकती है।

ये अध्ययन मार्च 2019 में शुरू हुआ था, जो जल्द ही एक रिसर्च जर्नल में प्रकाशित किया जाएगा।

क्या कहते हैं निर्माता

AIMIL Pharmaceutical के कार्यकारी निदेशक डॉ। संचित शर्मा का कहना है कि हर्बल बेस्ड ये आयुर्वेदिक दवा लोगों के बीच काफी प्रसिद्ध है। जीवनशैली में बदलाव के साथ दूसरे कारकों की वजह से होने वाले गैर संचारी रोग के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य के लिए जरूरी उपायों को करने वाले लोग ये दवा लेना पसंद करते हैं।

उन्होंने कहा कि तेजी से इस दवा की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए सरकार ने भी कई उपाय किए हैं ताकि इसकी उपलब्धता को बढ़ाया जा सके। इस दवा में यूज होने वाले उत्पाद चिकित्सीय गुणों से संपन्न होते हैं, जो कि इम्यूनिटी बूस्टरके रूप में काम करते हैं।

तीन महीने में कम करती है ब्लड शुगर

सर्बियन जर्नल ऑफ एक्सपेरिमेंटल एंड क्लीनिकल रिसर्च में हाल ही में प्रकाशित एक और अध्ययन में ये सामने आया है कि BGR-34 तीन महीने के भीतर ब्लड शुगर लेवल को कम कर सकती है। इस दवा में मौजूद शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट डायबिटीज की जटिलताओं को रोकने में प्रभावी है, जो कि देश में तेजी से बढ़ रही एक समस्या है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on