Advertisement

एलोवेरा से बनाएं अपनी त्वचा को कोमल, निखरी और सुंदर

एलो वेरा का पौधा रसीला, कायाकल्प करने और ठंडक प्रदान करने वाले गुणों से भरपूर होता है। यह त्वचा और सेहत दोनों के लिए ही बहुत लाभकारी होता है। इसके इन्हीं गुणों के कारण ही सदियों से वैकल्पिक दवाइयों और सौन्दर्य प्रसाधनों में इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है।एलो वेरा के पूरे पौधे का विभिन्न रूपों में प्रयोग किया जाता है, जैसे- जैल,तेल,जूस,क्रीम,साबुन और दवाईयों के रूप में। जिन लोगों की त्वचा बहुत संवेदनशील होती है,वे भी इसका उपयोग कर सकते हैं। अपने जलन प्रतिरोधी गुणों के कारण यह दाग़- धब्बे (झाईयां) मुँहासे और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं के उपचार में मदद करता है। एक मामूली घाव,जली हुई त्वचा या फुन्सी आदि को प्रभावी ढंग से एलो वेरा के प्रयोग से ठीक किया जा सकता है। एलो वेरा जैल को पौधे की पत्तियों से निकाला जाता है। नियमित रूप से त्वचा पर लगाने से ये मृत कोशिकाओं (dead cell) को नरम करके त्वचा से अलग कर देता है और त्वचा को कोमल और मुलायम होने का एहसास दिलाता है। इसके साथ ही यह उम्र बढ़ने के लक्षणों जैसे झुर्रियों और बारीक रेखाओं को देरी से आने में हमारी मदद करता है।

वैसे बाज़ार में इन दिनों बहुत सारे एलोवेरा उत्पाद उपलव्ध हैं परन्तु आप अपने घर में भी उगा कर इसके जूस और जैल के गुणों को प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन अगर घर में उगाना संभव न हो तो एलो वेरा से बने जैल,एलो वेरा युक्त मॉश्चराइज़र, लोशन और क्रीमों को खरीदें और अपनी त्वचा पर लगाएं। एलो वेरा या उससे बने उत्पाद गर्मी और जाड़ा दोनों मौसम में ही काम आते हैं,इसकी ठंडक गर्मियों में सूरज की जलन से तुरन्त राहत देती है और सर्दियों में त्वचा को नमी देकर रूखेपन से छुटकारा दिलाने में हमारी सहायता करती है।

एलो वेरा फेस पैक

Also Read

More News

1. सामान्य त्वचा के लिए: एक बड़ा चम्मच ऐलो वेरा जैल,समान मात्रा में बेसन , संतरे के छिलकों का पाउडर और थोड़ा सा दही। इन सबको एक कटोरी में डालकर अच्छी तरह मिला कर गाढ़ा पेस्ट बना लें। उसके बाद इस पेस्ट को ,अपने गर्दन और चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लें मगर ध्यान से आँखों को बचाते हुए लगाएं। ३० मिनट बाद धो लें और टॉवेल से थपथपाते हुए पोंछ लें। त्वचा को कोमल और मुलायम रखने के लिए यह एक अच्छा पैक है।

2. तैलाक्त त्वचा के लिए: अक्सर तैलाक्त त्वचा पर मुँहासा होने का खतरा बना रहता है, नियमित रूप से लगाने पर यह पैक आपकी त्वचा पर चमत्कार कर सकता है। एलो वेरा की पत्तियों को पानी में उबाल कर पीस लीजिए। उसके बाद ज़रूरत के अनुसार एक कटोरी में इस पेस्ट को लें तथा शहद की कुछ बूंदे इसमें डालकर अच्छी तरह से मिला लें। अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगा लें। इस उपचार को हफ़्ते में एक बार जरूर करें। पढ़े: दूध से लायें तैलाक्त त्वचा में निखार

3. संवदेनशील त्वचा (Sensitive skin): संवेदनशील त्वचा के लिए एलोवेरा जैल में खीरे का रस और थोड़ा दही मिक्स करें और इसमें ३ बूंदे गुलाबजल डालकर अच्छी तरह से मिला लें। इस पेस्ट को १५ मिनट अपने चेहरे और गर्दन पर लगाकर रहने दें। सूखने पर पानी से धो डालें। यह पैक बहुत सौम्य(माइल्ड ) होने की वजह से किसी भी प्रकार का जलन आदि पैदा नहीं होने देता बल्कि त्वचा की गंदगी और अशुद्धियों को साफ़ कर देता है। पढ़े: मैं संवेदनशील त्वचा की देखभाल कैसे कर सकती हूँ ?

4. शुष्क त्वचा: अगर आपकी त्वचा शुष्क है तो एलो वेरा जैल में ऑलिव ऑयल और थोड़ा-सा शीया बटर या शीया बटर क्रीम मिलाएं। इन सभी को अच्छी तरह मिला कर अपने चेहरे पर लगाएं, सूखने पर ठंडे पानी से धो लें; इससे त्वचा की नमी बनी रहेगी। पढ़े:   चॉकलेट फेस मास्क से रूखी त्वचा को नम करें

• अगर आप सूरज की कालिमा (टैनिंग )से छुटकारा पाना चाहते हैं तो एलोवेरा जैल में नींबू का रस मिलाएं और प्रभावित जगह पर १० मिनट तक लगाने के बाद धो लें।

• अगर आप दाग-धब्बों को हटाना चाहते हैं तो नींबू की जगह गुलाब जल का प्रयोग करें सूखने पर ठंडे पानी से धो लें ।

एलो वेरा हर प्रकार के त्वचा की समस्याओं के लिए एक प्राकृतिक उपचार है इसलिए आप अपने सुंदरता को कायम रखने के लिए इसके गुणों का लाभ उठाएं।

चित्र स्रोत: Getty Images


लेटेस्ट अप्डेट्स के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो कीजिए।स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए न्यूजलेटर पर साइन-अप कीजिए।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on