Advertisement

विश्‍व परिवार दिवस 2019 : भारतीयों में तेजी से कम हो रही है जीवन साथी के प्रति आस्‍था

प्‍यार के लिए परिवार से बाहर का रुख करने को मजबूर हो रहे लोगों में युवाओं के साथ अधेड़ उम्र के दंपत्ति भी हैं शामिल।

15 मई को दुनिया भर विश्‍व परिवार दिवस मनाया जा रहा है। इस खास दिवस का उद्देश्‍य लोगों को परिवार की अहमियत के प्रति जागरुक करना है। मनोवैज्ञानिक भी इस बात का समर्थन करते हैं कि परिवार में रहने वाला व्‍यक्ति खुद को ज्‍यादा सुरक्षित महसूस करता है। पर ऑनलाइन डेटिंग ट्रेंड तो कुछ और ही इशारा कर रहे हैं। इंटरनेट और सोशल मीडिया के आने के बाद से यह महसूस होने लगा है कि परिवार नाम की संस्‍था बहुत तेजी से दरक रही है। रिश्‍तों का तनाव परिवार को टूटने की कगार पर ले आया है। अगर यह वाकई सच है तो इस संस्‍था को बचाने के लिए सतत प्रयास करने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें - सेक्स सवाल : क्या गर्भनिरोधक गोलियां भी डालती है सेक्स डिजायर पर असर?

संकट में है रिश्‍ते

Also Read

More News

सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल की एक रिपोर्ट की मानें तो मैट्रिमनियल साइट्स पर लाइफ पार्टनर ढूंढने से ज्यादा डेटिंग साइट्स पर पार्टनर तलाशना ज्यादा पसंद कर रहे हैं भारत के लोग। जी हां, गूगल की ‘ईयर इन सर्च-इंडिया : इनसाइट्स फॉर ब्रैंड्स’ की रिपोर्ट में सामने आया है कि इंटरनेट के जरिये डेटिंग पार्टनर खोजना 40 प्रतिशत बढ़ा है जबकि मैट्रिमनियल साइट्स के जरिए इंटरनेट पर शादी का रिश्ता तलाशने में सिर्फ 13 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

यह भी पढ़ें – सेक्‍स सवाल : सेक्‍स के बाद वेजाइना से वीर्य का बाहर आ जाना क्‍या सामान्‍य है ?

सर्वे में 92% ने कहा वे प्यार की तलाश में हैं

हालांकि अभी भी डिजिटल दुनिया में डेटिंग पार्टनर खोजने की तुलना में शादी के रिश्ते तीन गुना ज्यादा तलाशे जा रहे हैं। लेकिन जिस गति से भारतीय यूजर्स में डेटिंग का क्रेज बढ़ रहा है, उसे देखकर लगता है कि कुछ सालों में यह ट्रेंड ‘लाइफ पार्टनर’ खोजने के ट्रेंड को पीछे कर देगा। गूगल का यह निरीक्षण मैट्रिमोनियल साइट भारत मैट्रिमनी की फरवरी में की गई स्टडी का समर्थन करता है जिसमें कहा गया था कि एक आम भारतीय धीरे-धीरे काफी भावुक होता जा रहा है। इस सर्वे में शामिल 6 हजार भारतीयों में से 92 प्रतिशत का कहना था कि वे प्यार की तलाश में हैं।

यह भी पढ़ें - अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस 2019 : सेलिब्रिटीज जिन्‍होंने परिवार के सहयोग से गंभीर बीमारियों को किया परास्त

कर रहे हैं प्‍याज का इजहार 

इस सर्वे में यह बात भी सामने आयी है कि अपने प्यार का इजहार करने के लिए 24 प्रतिशत भारतीय शब्दों का इस्तेमाल करते हैं, 21 प्रतिशत रोमांटिक डिनर के जरिए प्यार का इजहार करते हैं, 34 प्रतिशत गिफ्ट्स देकर जबकि 15 प्रतिशत भारतीय रोमांटिक हॉलिडे की प्लानिंग करके अपने पार्टनर के प्रति अपना प्यार जाहिर करते हैं। एक और हैरान करने वाली बात यह थी कि सिर्फ डेटिंग कपल्स ही वैलंटाइन डे नहीं मनाते बल्कि सर्वे में शामिल 86 प्रतिशत लोगों का कहना था कि वे शादी के बाद भी वैलंटाइंस डे मनाना चाहते हैं।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on