Sign In
  • हिंदी

लाइफस्टाइल से जुड़ी इन 4 ग़लतियों की वजह से पुरुषों में बढ़ती है इंफर्टिलिटी की समस्या

Remember you can’t control most of the factors that cause infertility.

एक्सपर्ट्स के अनुसार इन दिनों पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या काफी अधिक देखी जा रही है। जैसा कि पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या की वजह से भी गर्भधारण संभव नहीं हो पाता। इसीलिए, पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या की सही समय पर पहचान, इसका उपचार आवश्यक है। इसी तरह उन स्थितियों या कारकों की पहचान भी आवश्यक है जिनके चलते पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या बढती है। (Male Infertility Reason)

Written by Sadhna Tiwari |Updated : September 7, 2020 8:33 PM IST

Male Infertility Problem: पिता बनना और परिवार को आगे बढ़ाना किसी भी पुरुष के लिए एक बहुत अहम सपना होता है।  लेकिन, बदकिस्मती से कई बार कुछ कपल्स को इसमें कामयाबी नहीं मिल पाती। इसके पीछे नपुंसकता यानि इंफर्टिलिटी (Infertility Causes) सबसे बड़ी वजह हो सकती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार इन दिनों पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या काफी अधिक देखी जा रही है। जैसा कि पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या की वजह से भी गर्भधारण संभव नहीं हो पाता। इसीलिए, पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या की सही समय पर पहचान, इसका उपचार आवश्यक है। इसी तरह उन स्थितियों या कारकों की पहचान भी आवश्यक है जिनके चलते पुरुषों में इंफर्टिलिटी की समस्या बढती है। (Male Infertility Reason)

कई बार किसी बीमारी, किसी शारीरिक कमी और रोज़मर्रा की ज़िंदगी की कुछ आदतों की वजह से भी इंफर्टिलिटी की समस्या उत्पन्न होने लगती है। इस आर्टिकल में पढ़ें कुछ ऐसी ही लाइफस्टाइल से जुड़ी ऐसी ही ग़लतियों के बारे में जो फर्लिटीलिटी घटाने का काम करती हैं।

इन ग़लतियों की वजह से पुरुष नहीं बन पाते पिता (Lifestyle mistakes causing Male Infertility):

धूम्रपान:

सिगरेट, बीडी या किसी भी प्रकार का धूम्रपान या स्मोकिंग आपके पिता बनने का सपना चकनाचूर कर सकता है। हालांकि, ज़्यादातर लोगों को पता है कि स्मोकिंग सेहत के लिए हानिकारक है। लेकिन, बहुत कम लोगों को यह पता है कि, इससे उनकी फर्टिलिटी पर भी असर पड़ता है। दरअसल, सिगरेट और तम्बाकू उत्पादों में निकोटिन होता है जो, शरीर में ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस बढ़ाता है। इससे, स्पर्म क्वालिटी पर असर पड़ता है और आप इंफर्टिलिटी के शिकार हो सकते हैं। इसीलिए अगर आप पिता बनने की इच्छा रखते हैं तो स्मोकिंग की आदत से बचें। धूम्रपान छोड़ने से आपकी फर्टिलिटी में बढ़ोतरी होगी। (Smoking Side Effects)

Also Read

More News

मोटापा:

अधिक वजन कई बीमारियों की वजह बनता है जिसमें से एक नपुंसकता भी है। मोटापे से आपकी स्पर्म क्वालिटी प्रभावित हो सकती है। जिससे, एंड्रोजेन्स और टेस्टोस्टेरोन का मेटाबॉलिज्म भी धीमा हो जाता है। ये वो हार्मोन्स हैं जो पुरुषों में प्रजनन शक्ति बढ़ाते हैं। स्पर्म्स यानि शुक्राणुओं का कम संख्या में उत्पादन से भी आपको इंफर्टिलिटी की समस्या होती है।

पुरानी चोट:

जेनाइटल एरिया में लगी किसी पुरानी चोट की वजह से भी फर्टिलिटी पर असर पड़ता है। कई बार मार्शल आर्ट्स, क्रिकेट और साइकिल चलाते समय असावधानी बरतने से भी टेस्टिकल्स में चोट लग जाती है। इसीलिए, इन एक्टिविटीज़ में हिस्सा लेते समय आपको अपनी सुरक्षा का पूरा ख्याल रखना चाहिए।

 उम्र:

अक्सर, उन कपल्स को भी गर्भधारण में दिक्कत आती है जिनकी उम्र 35 वर्ष से ज़्यादा होती है। 35 के बाद महिलाओं और पुरुषों दोनों का बायोलॉजिकल क्लॉक प्रभावित होता है। इसीलिए, इस उम्र के बाद परिवार आगे बढ़ाने में दिक्कतें आ सकती हैं।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on