Sign In
  • हिंदी

इस एलोवेरा में है दोगुनी ताकत! एक साथ कई बीमारियों को दूर करता है रेड एलोवेरा, क्या इसके बारे में जानते हैं आप

red aloe vera benefits: एलोवेरा के फायदों के बारे में तो आप जानते ही होंगे, लेकिन बहुत ही कम लोग जानते हैं कि रेड एलोवेरा उससे दोगुना ताकतवर होता है। चलिए जानते हैं रेड एलोवेरा से घर पर किन बीमारियों का इलाज किया जा सकता है और इसका इस्तेमाल कैसे करें।

Written by Mukesh Sharma |Published : September 27, 2022 11:15 AM IST

red aloe vera juice benefits in hindi: एलोवेरा से मिलने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में कौन नहीं जानता है। हमारे देश में सदियों से एलोवेरा का इस्तेमाल अनेक प्रकार की त्वचा व पेट संबंधी बीमारियों का घर पर ही इलाज करने क लिए किया जाता है और यहां तक कि भारतीय व्यंजनों में भी इसका उपयोग किया जाता है। लेकिन रेड एलोवेरा यानी लाल ग्वारपाठा के बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं और ज्यादातर लोगों को यह भी नहीं पता होता है कि इसकी मदद से भी कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर किया जा सकता है। रेड एलोवेरा को ग्रीन एलोवेरा से भी ज्यादा उपयोगी माना जाता है। यह पौधा मूल रूप से अफ्रीका का है, लेकिन भारत के भी गर्म व शुष्क इलाकों में आसानी से यह मिल जाता है। चलिए जानते हैं क्या है इस रेड एलोवेरा में खास और इससे किन स्वास्थ्य समस्याओं को दूर किया जा सकता है।

क्या है रेड एलोवेरा में खास

कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार लाल एलोवेरा को हरे एलोवेरा से लगभग 22 गुना ज्यादा शक्तिशाली माना जाता है। इसमें लगभग सभी पोषक तत्वों की मात्रा ग्रीन एलोवेरा से ज्यादा पाई जाती है। वहीं लाल एलोवेरा में पाए जाने वाले अमीनो एसिड की मात्रा भी ग्रीन एलोवेरा से लगभग दोगुनी होती है। इसलिए एलोवेरा को एक खास जड़ी-बूटी माना जाता है और अनेक समस्याओं को दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

रेड एलोवेरा से कई समस्याओं का घरेलू इलाज

रेड एलोवेरा के इस्तेमाल से होने वाले लाभ ग्रीन एलोवेरा से भी ज्यादा होते हैं। चलिए जानते हैं रेड एलोवेरा किन स्वास्थ्य समस्याओं का घरेलू इलाज करता है -

Also Read

More News

  1. घर पर करें ब्लड शुगर कम - डायबिटीज के लिए ग्रीन एलोवेरा को भी काफी फायदेमंद माना जाता है। लेकिन यह ब्लड शुगर लेवल को कम करने के लिए और भी ज्यादा शक्तिशाली तरीके से काम करता है। जिन लोगों को डायबिटीज का खतरा ज्यादा है (जैसे प्रीडायबिटिक्स) उन्हें इसका सेवन जरूर करना चाहिए, क्योंकि यह डायबिटीज होने के खतरे को काफी हद तक कम कर देता है।
  2. खराब पाचन का इलाज घर पर करें - अगर आपको पाचन संबंधी समस्याएं होती रहती हैं, तो रेड एलोवेरा काफी फायदेमंद हो सकता है। रोजाना सुबह के समय नियमित रूप से रेड एलोवेरा का सेवन करने वाले लोगों को कब्ज, बदहजमी, खट्टी डकार और पेट में गैस बनना जेसी समस्याएं नहीं होती हैं।
  3. स्किन प्रॉब्लम्स को करें दूर - ग्रीन एलोवेरा की तरह इसमें त्वचा रोगों का इलाज करने के गुण भी पाए जाते हैं। यह कई त्वचा रोगों का घर पर ही इलाज करने में काफी शक्तिशाली तरीके से काम करता है और इसकी मदद से पिंपल, की-मुहांसे, सूजन और लालिमा जैसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है।

कैसे करें रेड एलोवेरा का इस्तेमाल

ग्रीन एलोवेरा की तरह रेड एलोवेरा का इस्तेमाल करना भी बहुत आसान है और आप अपनी स्वास्थ्य समस्या के अनुसार इसका इस्तेमाल कर सकते हैं, जो इस प्रकार है -

  1. डायबिटीज या पाचन रोग के मरीज - रोज सुबह उठकर दो से ती बड़े चम्मच ताजे रेड एलोवेरा के रस का सेवन करें और उसके बाद आधा गिलास गुनगुना पानी पिएं। ऐसा करने से ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है और पाचन क्रिया भी तेजी से काम करती है।
  2. त्वचा रोगों के लिए रेड एलोवेरा - स्किन डिजीज के लिए रेड एलोवेरा का लेप लगना काफी फायदेमंद है। हालांकि, कुछ शोध बताते हैं कि नियमित रूप से रेड एलोवेरा का सेवन करने से भी स्किन की हेल्थ में सुधार होता है। हालांकि, पिंपल या सूजन-लालिमा जैसी समस्याओं के लिए एलोवेरा का लेप काफी फायदेमंद रहता है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on