Sign In
  • हिंदी

दवाओं से भी नहीं हो रहा डायबिटीज कंट्रोल तो घर पर बनाएं ये खास आयुर्वेदिक चूर्ण, सेवन का सही समय भी जान लें

Diabetes treatment Ayurveda: डायबिटीज के मरीज अपने ब्लड शुगर लेवल को कम करने के लिए सिर्फ दवाओं पर निर्भर न रहें, ऐसे में कुछ आयुर्वेदिक नुस्खों का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। इस लेख में जानें ऐसे खास आयुर्वेदिक चूर्ण के बारे में जो आपके ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद कर सकता है।

Written by Mukesh Sharma |Published : November 16, 2022 7:17 PM IST

Diabetes treatment home remedies: डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए बहुत से लोग सिर्फ दवाओं पर ही निर्भर रहते हैं, जो कई मायनों में सही नहीं है। यह एक लाइफस्टाइल डिजीज है और हमारी जीवनशैली में कई अच्छे सुधार लाकर दवाओं की निर्भरता को काफी हद तक कम किया जा सकता है। इसके साथ-साथ कई ऐसे आयुर्वेदिक नुस्खे भी हैं, जिनकी मदद से डायबिटीज को काफी हद तक बिना दवाओं के ही कंट्रोल किया जा सकता है। आज हम आपको ऐसे ही एक खास आयुर्वेदिक चूर्ण के बारे में बताने वाले हैं, जिसकी मदद से आपके बढ़ते ब्लड शुगर लेवल को कम किया जा सकता है। इस लेख में जानें इस खास चूर्ण को बनाने का तरीका और साथ ही इसका सेवन करने का सही समय।

आयुर्वेदिक चूर्ण की सामग्री

इस खास तरह के चूर्ण को बनाने के लिए आपको जो सामग्री चाहिए वह इस प्रकार है

  • 1 चम्मच दालचीनी
  • 2 चम्मच मेथी के बीज
  • ½ चम्मच बहेड़ा
  • 1 चम्मच जामुन के बीज
  • 2 चम्मच नींबू का रस

इन सभी चीजों में डायबिटीज को कंट्रोल करने वाले अलग-अलग गुण पाए जाते हैं, इसलिए इन सभी को मिलाकर सेवन करने से डायबिटीज को तेजी से कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

Also Read

More News

कैसे बनाएं आयुर्वेदिक चूर्ण

इस आयुर्वेदिक चूर्ण को बनाने का तरीका भी बहुत ही आसान है, जिसे आप निम्न स्टेप्स की मदद से फॉलो कर सकते हैं -

  • नींबू को छोड़कर सारी सामग्री को धूप में अच्छे से सुखा लें (गर्मियों में एक दिन सर्दियों में दो दिन)
  • अब जामुन, बहेड़ा और दालचीनी को पहले मिक्सर में अच्छे से पीस लें
  • ये तीनों चीजें बारीक होने के बाद इनमें मेथी के बीज मिलाएं और फिर से पीस लें
  • अब इस पाउडर को किसी बर्तन में निकाल लें और नींबू का रस मिलाएं
  • नींबू का रस मिलाने के बाद आपको इसे फिर से धूप में सुखाना है
  • पूरी तरह से सूखने के बाद आपका आयुर्वेदिक पाउडर तैयार है।

इस समय करें सेवन

यह आयुर्वेदिक चूर्ण पूरी तरह से सुरक्षित है और इस से किसी प्रकार का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। इसका सुबह के समय खाली पेट सेवन करें, जिससे दिनभर ब्लड शुगर कंट्रोल रहता है। सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से आधे घंटे बाद तक कुछ न खाएं और फिर उसके बाद आप अपनी सामान्य डाइट ले सकते हैं। हालांकि, कुछ लोगों को खाली पेट लेने से सीने में जलन हो सकती है। अगर आपको भी सीने में जलन या अन्य कोई तकलीफ होती है, तो इसे खाने के दौरान या बाद में भी लिया जा सकता है।

दवाओं का सेवन है जरूरी

हालांकि, यह चूर्ण लेना शुरू करने के तुरंत बाद शुगर की दवाएं न छोड़ें। बल्कि कुछ दिन इस चूर्ण का सेवन करें और साथ ही साथ रोजाना अपना ब्लड शुगर टेस्ट करें। रोज अपने ब्लड शुगर लेवल को डायरी में लिखें और अगर आपको लगता है कि ब्लड शुगर कम हो रहा है, तो डॉक्टर से इस बारे में बात करें। डॉक्टर आपकी ब्लड शुगर रिपोर्ट देखकर खुद शुगर की दवाओं में कुछ बदलाव कर सकते हैं

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on