• हिंदी

रोज सुबह खा लें बस ये एक पत्ता, सिर दर्द से लेकर किडनी स्टोन जैसी समस्याओं से मिलेगा लाभ

रोज सुबह खा लें बस ये एक पत्ता, सिर दर्द से लेकर किडनी स्टोन जैसी समस्याओं से मिलेगा लाभ
पत्थरचट्टा के स्वास्थ्य लाभ

Benefits of Patharchatta leaf: पत्थरचट्टा एक ऐसा पौधा है, जिसका पत्ता यदि आप रोज सुबह खाली पेट खा लेते हैं तो इससे आपको कई तरह की बीमारियों का खतरा टल जाएगा। यदि आप किडनी स्टोन और सिर दर्द की समस्या से परेशान हैं तो आप इस पत्ते को रोज खा सकते हैं।

Written by intern23.seo |Published : December 1, 2023 6:14 PM IST

Leaf to chew in empty stomach: आयुर्वेद में ऐसे कई तरह के पौधों का जिक्र मिलता है जिनके पत्तों का सेवन आप रोगों के इलाज में कर सकते हैं। इनके सेवन से आपकी कई तरह की बीमारियां खत्म हो जाती है, और कई बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। इस तरह के औषधीय पौधों में शामिल है एक पौधा जिसे "पत्थरचट्टा" के नाम से जाना जाता है। यह छोटा सा पौधा पत्थरों के बीच में पाया जाता है, इसलिए इसका नाम पत्थरचट्टा रखा गया है। इस पौधे के 1-2 पत्तों का सेवन यदि आप रोज सुबह खाली पेट कर लेते हैं तो इससे आप कई तरह की बीमारियों के खतरे को टाल सकते हैं। आइए जानते हैं पत्थरचट्टा के लाभ के बारे में..

1. सिर दर्द होगा ठीक (Treat your headache)

सिर दर्द को ठीक करने में पत्थरचट्टा का पत्ता किसी औषधि से कम नहीं है। यदि 2 पत्ते चबाकर ऊपर से पानी पी लेते हैं, तो इससे आपको सिर दर्द में काफी राहत मिल सकती है। इसके अलावा रोज सुबह खाली पेट पत्तों का सेवन करने से आप अपना पुराने से पुराना सिर का दर्द और माइग्रेन तक ठीक कर सकते हैं।

2. किडनी स्टोन होगा ठीक (Treat kidney stone problems)

पत्थरचट्टा के पत्ते को किडनी स्टोन को ठीक करने के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार माना जाता है। पत्थरचट्टा के पत्ते में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और अन्य यौगिक पथरी के निर्माण को रोकने में मदद करते हैं। इसके अलावा, पत्थरचट्टा के पत्ते में मौजूद एंजाइम पथरी को छोटे टुकड़ों में तोड़ने में मदद करते हैं, जिससे उसे शरीर से बाहर निकालना आसान हो जाता है।

Also Read

More News

3. संक्रमण से लड़ने में मदद (Help you fight with infection)

पत्थरचट्टा के पत्ते में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, और एंटी-वायरल गुण होते हैं। जो इसे संक्रमण से लड़ने में इसे काफी कारगर बनाते हैं। पत्थरचट्टा के पत्ते का उपयोग घाव, संक्रमण, और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए किया जा सकता है। यदि आप इस पत्ते का लेप फोड़े-फुंसी पर लगाते हैं तो इससे आपको बहुत जल्द राहत मिल सकती है।

4. सूजन होगी कम (Help you get rid of swelling)

पत्थरचट्टा के पत्ते में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। ये गुण सूजन को कम करने में मदद करते हैं। पत्थरचट्टा के पत्ते का उपयोग गठिया, अस्थमा, और अन्य सूजन संबंधी बीमारियों के इलाज के लिए किया जा सकता है। यदि आप इन्फ्लेमेशन को ठीक करना चाहते हैं तो आपको रोज 2 पत्ते पत्थरचट्टा का सेवन जरूर करना चाहिए।

5.पाचन होगा दुरुस्त (Treat your digestion problems)

पत्थरचट्टा के पत्ते में मौजूद फाइबर पाचन में सुधार करने में मदद करता है। ये फाइबर कब्ज को रोकने और पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। पत्थरचट्टा के पत्ते का उपयोग अपच, गैस, और अन्य पाचन संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए किया जा सकता है। यदि आप पाचन संबंधी किसी समस्या से परेशान हैं तो आप रोज पत्थरचट्टा के पत्ते का सेवन कर सकते हैं।