Sign In
  • हिंदी

Drumstick tree Benefits and Uses- सहजन के फायदे, औषधीय गुण, लाभ और नुकसान

सहजन (Drumstick tree) के फायदे व नुकसान- सहजन एक पुरानी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जिसमें कई प्रकार के संक्रमणों का इलाज करने की शक्ति होती है। सहजन के पत्ते, टहनी व जड़ों से कई प्रकार की दवाएं बनाई जाती हैं।

Written by Mukesh Sharma |Updated : January 17, 2022 7:00 PM IST

सहजन वनस्पति से प्राप्त होने वाली एक खास जड़ी-बूटी है, जिसे हजारों सालों से एक स्वास्थ्यवर्धक औषधि के रूप में जाना जाता है। इस पौधे को अंग्रेजी में ड्रमस्टिक ट्री (Drumstick tree) के नाम से जाना जाता है और इसका वैज्ञानिक नाम मोरिंगा ओलिफेरा (Moringa oleifera) है। सहजन के पौधे के हर हिस्से में अलग-अलग प्रकार के स्वास्थ्यवर्धक गुण पाए जाते हैं, जिनका इस्तेमाल कई रोगों का इलाज करने के लिए किया जाता है। आजकल मार्केट में कई ऐसे प्रोडक्ट उपलब्ध हैं, जो सहजन से बने होते हैं।

सहजन के फायदे (Benefits of drumstick tree)

सहजन में खास प्रकार के एंटीवायरल, एंटीफंगल, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी डिप्रेसेंट गुण पाए जाते हैं, जो अलग-अलग स्थितियों में स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं। सहजन से प्राप्त होने वाले प्रमुख लाभों में निम्न शामिल हैं -

1. सहजन बनाए हड्डियों को मजबूत

Also Read

More News

सहजन में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम और फास्फोरस पाया जाता है, जो हड्डियों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। जिन लोगों को अर्थराइटिस, ओस्टियोआर्थराइटिस या हड्डियों से संबंधित कोई अन्य रोग है, उनके लिए सहजन का सेवन काफी लाभदायक हो सकता है।

2. पेट संबंधी समस्याओं का इलाज करें सहजन से

सहजन में कई ऐसे शक्तिशाली तत्व पाए जाते हैं, जो गैस्ट्राइटिस व अल्सरेटिव कोलाइटिस जैसे पेट के रोगों का इलाज करने में मदद कर सकता है। साथ ही इसमें विटामिन बी व अन्य कई जरूरी तत्व पाए जाते हैं, जो पाचन क्रिया को बढ़ाने में मदद करते हैं।

3. सहजन का सेवन रखे त्वचा को रोगमुक्त

सहजन के बीजों से प्राप्त होने वाला तेल त्वचा व बालों दोनों को फ्री रेडिकल्स से सुरक्षा प्रदान करता है। सहजन में खास प्रकार का प्रोटीन भी पाया जाता है, जो कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है।

4. सहजन दूर करे सूजन व लालिमा

सहजन में कई ऐसे शक्तिशाली कंपाउंड पाए जाते हैं, जो शरीर में एक एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट के रूप में काम करते हैं। जिन लोगों को शरीर के अंदर सूजन संबंधित समस्याएं (जैसे गठिया) हैं, उनके लिए सहजन काफी लाभदायक हो सकता है।

हालांकि, ऊपर बताए गए सहजन के लाभ आमतौर पर अध्ययनों पर आधारित हैं और इनमें से कुछ अध्ययन जानवरों पर किए जाते हैं। साथ ही हर व्यक्ति की शारीरिक प्रकृति भिन्न होती है, इसलिए सहजन में मौजूद तत्वों का उनके शरीर पर होने वाला प्रभाव भी अलग-अलग हो सकता है।

सहजन के स्वास्थ्य नुकसान (Side effects of Drumstick tree)

हालांकि, एक उचित मात्रा में सहजन का सेवन सुरक्षित माना जाता है, लेकिन फिर भी इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि हर व्यक्ति की शारीरिक तासीर के अनुसार इसका प्रभाव भी अलग-अलग हो सकता है।

यदि सहजन का सामान्य से अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो इससे पेट खराब हो सकता है और कुछ लोग सहजन से एलर्जिक भी हो सकते हैं। यदि आप पहली बार सहजन का सेवन करने जा रहे हैं, तो पहले डॉक्टर से संपर्क करें।

सहजन का उपयोग कैसे करें (How to use Drumstick tree)

सहजन का इस्तेमाल प्राचीन समय से ही कई स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज करने वाले एक घरेलू उपचार के रूप में किया जाता है। सहजन के पौधे की जड़, पत्ते, टहनी और फलियों का इस्तेमाल अलग-अलग प्रकार की दवाएं बनाने के लिए किया जाता है। इतना ही नहीं आजकल ड्रमस्टिक से कई स्वादिष्ट व्यंजन भी बनाए जाने लगे हैं। सहजन का इस्तेमाल निम्न तरीके से किया जा सकता है -

  • सहजन की पत्तियों को पानी में उबालकर
  • चटनी बनाकर
  • अन्य सब्जियों के साथ पकाकर

हालांकि, आपके स्वास्थ्य के अनुसार आप कितनी मात्रा में सहजन का सेवन कर सकते हैं इस बारे में जानने के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on