Sign In
  • हिंदी

लगातार बैठकर करते हैं काम, बढ़ सकता है कैंसर का रिस्क, स्टडी में किया गया दावा

Obese men tend to have more visceral and abdominal fat than women with obesity.

एक हालिया स्टडी में कहा गया है कि लगातार बैठे रहने और सुस्त लाइफस्टाइल से कैंसर का रिस्क बढ़ता है और इससे समय से पहले मृत्यु की संभावना भी अधिक हो जाती है। (Sedentary Lifestyle and Cancer Risk in hindi)

Written by Sadhna Tiwari |Updated : June 28, 2020 7:13 PM IST

Sedentary Lifestyle and Cancer Risk: सुस्त लाइफस्टाइल और फिजिकल एक्टिविटीज़ की कमी हमारी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक साबित हो सकता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार निष्क्रिय लाइफस्टाइल से टाइप 2 डायबिटीज़, ओबेसिटी (मोटापा), कार्डियोवैस्कुलर बीमारियां, हाई ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी परेशानियों और बीमारियों का ख़तरा बहुत अधिक बहुत अधिक बढ़ जाता है। लेकिन, एक हालिया स्टडी में कहा गया है कि लगातार बैठे रहने और सुस्त लाइफस्टाइल से कैंसर का रिस्क बढ़ता है और इससे समय से पहले मृत्यु की संभावना भी अधिक हो जाती है। (Sedentary Lifestyle and Cancer Risk in hindi)

लगातार बैठकर करते हैं काम, बढ़ सकता है कैंसर का रिस्क:

इस स्टडी का शीर्षक है, रिगार्ड्स (REGARDS, or REasons for Geographic and Racial Differences in Stroke), जिसके अनुसार हमेशा बैठे रहने वाले और बिल्कुल एक्सरसाइज़ ना करने वाले लोगों में एक्टिव लाइफस्टाइल वाले लोगों की तुलना में कैंसर और अर्ली डेथ का खतरा 82 फीसदी अधिक होता है। इसमें, सभी उम्र, लिंग और मौजूदा हेल्थ प्रॉब्लम्स जैसी परेशानियों को ध्यान में रखते हुए भी आंकलन किए गए। जिसमें, सभी के लिए खतरा अधिक ही पाया गया।

लेकिन, राहत भरी बात यह है कि, हल्की-फुल्की एक्सरसाइज़ेस और यहां तक कि घर के छोटे मोटे काम करने से भी आपके लिए इस समस्या से राहत मिल सकती है। जैसा कि लॉकडाउन के दौरान घर में बंद रहने के कारण, लोगों के लिए मॉर्निग वॉक पर जाना मुश्किल है। ऐसे में लोगों की लाइफस्टाइल पहले से ज़्यादा सुस्त हो जाती है। जर्नल जेएएमए ऑन्कोलॉजी (JAMA Oncology) में छपी इस स्टडी में कहा गया कि, सुस्त लाइफस्टाइल की वजह से हुए डैमेज़ को एक्टिव बनकर धीरे-धीरे कम किया जा सकता है। इस स्टडी के मुताबिक केवल 30 मिनट का शारीरिक श्रम भी 31 फीसदी खतरा कम कर सकता है।

Also Read

More News

  • लॉकडाउन के दौरान ऐसे रहें फिट एंड एक्टिव:
  • घर में योग और मेडिटेशन का अभ्यास करें।
  • सूर्य नमस्कार करें।
  • घर की साफ-सफाई, झाडू लगाने और पोंछा लगाने जैसे काम करें। इनमें काफी अधिक मेहनत करनी पड़ती है, जिससे, पेट, कमर और पैरों-हाथों की एक्सरसाज़ होती है।
  • अपने कपड़े खुद धोएं।
  • बैठकर फोन पर बात करने की बजाय, घर में घूमते-फिरते फोन पर बात करें।
  • गार्डनिंग करें।
  • किचन के कामों में घरवालों का हाथ बंटाएं।
  • सीढ़ियां चढ़ें-उतरें।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on