Advertisement

कहीं आपको तो नहीं अपने मोटापे की चिंता?

मोटापे की चिंता बना सकती है आपको और मोटा। जानिये कैसे।

अक्सर लोगों को ये चिंता सताती रहती है कि वो कहीं मोटे न हो जाएं। लेकिन शायद आपको नहीं मालूम कि यही चिंता आपका वज़न और अधिक बढ़ा सकती है। एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है। लीवरपूल युनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार, जो लोग अपने मोटापे की चिता करते हैं, उनके वजन में उन लोगों से ज्यादा इजाफा होता है जो इस चिंता को अपने आसपास फटकने भी नहीं देते।

युनिवर्सिटी में मनोविज्ञान, स्वास्थ्य और समाज संस्थान के डॉ. एरिक रॉबिन्सन ने कहा, 'अगर आपको इस बात का एहसास है कि आप मोटापे से ग्रस्त हैं और आप हर वक्त तनावग्रस्त रहते हैं, तो आपको आपकी जीवनशैली में स्वस्थ विकल्प चुनने में कठिनाई हो सकती है।' शोधकर्ताओं ने अमेरिका और ब्रिटेन के 14,000 व्यस्कों के जीवन का निरीक्षण किया। उन्होंने बच्चों के व्यस्क हो जाने तक की अवधि में उनके अपने वजन की धारणा का पता लगाने के लिए विश्लेषण किया।

रॉबिन्सन ने बताया, ‘समाज में सबसे जरूरी है कि मोटापे के कलंक से निपटा जाए। भारी वजन के लोगों को कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। जिस तरह से हम अपने समाज में मोटापे के बारे में बात करते हैं, वह आश्चर्यजनक नहीं है। लेखकों ने निष्कर्ष निकालते हुए कहा कि लोगों को उनकी जीवन शैली को बदलने के बारे में सुझाव देने के कई तरीके हैं और सबसे अच्छा यह है कि वे अपने मोटापे को एक भयानक चीज के रूप में चित्रित न करें।

Also Read

More News

यह अध्ययन पत्रिका 'इंटरनेशनल जर्नल ऑफ ओबेसिटी' में प्रकाशित हुआ है।

स्रोत – IANS

चित्र स्रोत – Getty Images


Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on