Sign In
  • हिंदी

नुकसान पहुंचा सकता है दोपहर के खाने के बाद सोना, जानिये कैसे

खाने के बाद सोना कर सकता है आपको बीमार!

Written by Editorial Team |Updated : January 5, 2017 12:13 PM IST

Read this in English

बहुत से लोग दोपहर का खाना खाने के बाद सोना पसंद करते हैं। भरे पेट नींद तो काफी अच्छी आती है। लेकिन ये अच्छी नींद, आपकी सेहत के लिए उतनी अच्छी नहीं होती। जी हां, दोपहर में खाना खाने के बाद तुरंत सो जाने से वज़न कम करने की आपकी सारी कोशिशों पर पानी फिर सकता है। हमने इस बारे में डायटीशियन और स्पोर्ट्स न्यूट्रीशनिस्ट दीपशिखा अग्रवाल से बात की। हमने उनसे जानना चाहा कि क्या वाकई दोपहर को खाने के बाद सो जाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं? अगर कोई ऐसा कर रहा हो तो उसे क्या नुकसान हो सकते हैं? जवाब में हमें ये बातें पता चलीं। (इसे भी पढ़ें, सेहत के लिए अच्छा है तिरछा सोना! जानिये क्यों)

बात दोपहर की नींद की नहीं, बल्कि खाना खाकर तुरंत आराम करने की आदत से वज़न बढ़ता है। और ऐसा सिर्फ दिन के खाने के बाद ही नहीं, रात के खाने के बाद तुरंत सो जाने की खराब आदत की वजह से भी होता है। इसके पीछे सीधा कारण है। अगर आप खड़े, बैठें या चल रहे हैं तो आपकी कैलोरी अधिक बर्न होंगी लेकिन सोते हुए कैलोरी काफी कम बर्न होती हैं। दीपशिखा सलाह देती हैं कि खाना खाने और सोने के बीच कम से कम 1-2 घंटे का अंतर जरूर होना चाहिए। इतने वक्त में आपका शरीर अपना पाचन कार्य कर लेता है और फैट बर्न होना भी शुरू हो जाता है।

Also Read

More News

खाना खाते ही तुरंत सो जाने का ये नुकसान भी है कि इससे एसिडिटी की समस्या भी बढ़ जाती है। क्योंकि लेटने से पाचन क्रिया प्रभावित होती है और एसिड रिफलक्स होने लगता है। इसलिए खाना खाने के बाद तुरंत न सोएं। सबसे अच्छा तरीका है कि इस दौरान अपने कुछ कामकाज निपटा लें। कुछ वक्त बीत जाने के बाद सोएं।

मूल स्रोत –Why sleeping after lunch is an unhealthy habit

अनुवादक –Shabnam Khan

चित्र स्रोत – Getty Images 


हिन्दी के और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमारा हिन्दी सेक्शन देखिए। स्वास्थ्य संबंधी जानकारी के लिए न्यूजलेटर पर साइन-अप कीजिए।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on