Advertisement

जानिए वजन बढ़ने और घटने पर Weight cycling का क्या प्रभाव पड़ता है

वजन कम करने वाले लोग जरूर पढ़ें ये आर्टिकल!

वजन बढ़ाना और घटाना दोनों ही मुश्किल काम हैं। इन दोनों कामों में वेट साइकलिंग का अहम रोल होता है। इसमें आप कुछ समय के लिए कम कैलोरी वाली डायट लेते हैं और उसके बाद फिर नॉर्मल डायट से फिर वेट गेन करते हैं। इससे वजन वजन कम करने में मदद तो मिलती है लेकिन मेंटेन नहीं हो पाता है जिस वजह से फिर से वजन बढ़ सकता है। नोएडा स्थित जेपी हॉस्पिटल में जीआईएचपीबी और बारिएट्रिक और मेटाबोलिक सर्जरी और न्यूट्रिशनिश्ट डॉक्टर साक्षी चोपड़ा  आपको इस बारे में बता रही हैं।

सेटपॉइंट थ्योरी बताती है कि शरीर में फैट के भंडारण के लिए एक नैचुरल सेट प्वाइंट होता है जो एक फीडबैक मैकेनिज्म द्वारा समर्थित होता है जो हाइपोकैलोरिक डायट के जवाब में मेटाबोलिज्म रेट को एडजस्ट करता है। लोअर बेसल मेटाबोलिक रेट कैलोरी डायट लेने के बावजूद भी बना रह सकता है जिसका परिणाम दोबारा वेट गेन होना या इससे भी अधिक वजन बढ़ना है। यो-यो डायट जोकि कम कैलोरी वाली डायट है, खाना छोड़ना और पोर्शन घटाने के का वेट साइकलिंग पर बेहतर प्रभाव पड़ता है।

विभिन्न शोध पुष्टि करते हैं कि वेट साइकलिंग मसल्स की कमी के साथ बॉडी स्ट्रेक्चर को बदल देती है जो मेटाबोलिज्म रेट को कम कर देता है और इससे अधिक वजन घटाना कठिन होता है। इससे आपको हृदय स्वास्थ्य, पुरानी बीमारियों और ऑस्टियोपोरोसिस के मामले में स्वास्थ्य पर कई बुरा प्रभाव पड़ता है।

Also Read

More News

वेट लॉस के बाद वेट गेन से कैसे बचें?

बैलेंस डायट और फिजिकल एक्टिविटी के जरिए ऐसा संभव है। आपको वेट लॉस और वेट मैनेजमेंट को लेकर सतर्क रहना चाहिए। इसके लिए आपको लगातार वजन पर नजर रखनी चाहिए और उसके लिए प्रतिदिन के जीवन में छोटे व्यवहार में परिवर्तन करने चाहिए। सुपर बीएमआई और डायबिटीज, हाई बीपी, मेटोबोलिक सिंड्रोम से पीड़ित लोग भी बैरिएट्रिक और मेटाबोलिक सर्जरी चुन सकते हैं इससे उन्हें 70 फीसद बढ़ा हुआ वेट कम करने में मदद मिल सकती है।

इसलिए आपका उद्देश्य एक स्वस्थ वजन बनाए रखना चाहिए ना कि अनरीयलिस्टिक वेट गोल क। क्योंकि ऐसे लक्ष्यों को प्राप्त तो किया जा सकता है किन एक निश्चित कीमत पर।

Read this in English

अनुवादक – Usman Khan

चित्र स्रोत - Shutterstock

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on