Sign In
  • हिंदी

ठंडा या गर्म, नहाने के लिए कौन सा पानी है फायदेमंद, जानिए किस उम्र में कौन से पानी से नहाना है उपयुक्त

प्रतिदिन नहाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं, इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि नहाने के लिए ठंडे या गर्म कौन से पानी का उपयोग आपके लिए ज्यादा फायदेमंद है।

Written by Atul Modi |Updated : January 22, 2022 5:11 PM IST

रोज सुबह स्नान करना हमारी रोजाना की जीवनशैली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। शारीरिक स्वच्छता को बनाए रखने के लिए प्रतिदिन नहाना जरूरी होता है। सिर्फ इतना ही नहीं, नहाना आपके स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। यह आपके शरीर से आलस्य को दूर करने के साथ डिप्रेशन, एंग्जायटी और तनाव जैसी स्थितियों से लड़ने में मदद करता है। यह आपके मन को शांत करता है। लेकिन जब नहाने की बात आती है तो कई लोग ठंडे पानी से नहाना पसंद करते हैं, जबकि कुछ लोग गर्म पानी को ज्यादा सही मानते हैं। वहीं, कुछ लोग इस उलझन में रहते हैं कि नहाने के लिए ठंडा पानी ज्यादा फायदेमंद है गर्म पानी। हालांकि, कुछ लोग मौसम के अनुसार भी पानी का चुनाव करते हैं जैसे गर्मियां होने पर लोग ठंडे पानी से नहाते हैं और सर्दियों के मौसम के दरान गर्म पानी का इस्तेमाल करते हैं। अब सवाल यह है कि नहाने के लिहाज से ठंडा या गर्म कौन सा पानी आपके लिए ज्यादा फायदेमंद है? इस लेख में आज हम इसी विषय पर विस्तार से बात करने वाले हैं।

ठंडा या गर्म, कौन सा पानी है नहाने के लिए ज्यादा फायेदमंद

आयुर्वेद की मानें तो ठंडे या गर्म दोनों ही पानी से नहाने के अपने अलग फायदे होते हैं। आइए जानते हैं दोनों के फायदे क्या है?

ठंडे पानी से नहाने के फायदे

  • ठंडे पानी से नहाने से नर्व एंडिंग्स (Nerve Endings) को उत्तेजित करता है और सुबह आपके शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। साथ ही यह आलस्य से छुटकारा पाने में भी मदद करता है।
  • डिप्रेशन से राहत पाने में मदद मिलती है।
  • पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन को उत्तेजित करके प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार करता है।
  • फेफड़ों की कार्यक्षमता को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • शरीर का लसीका तंत्र और इम्युन सिस्टम को बूस्ट करता है, जिससे संक्रमण से लड़ने वाली कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ावा मिलता है।

गर्म पानी से नहाने के फायदे

  • गर्म तापमान कीटाणुओं को अधिक मारता है, इसलिए गर्म पानी से नहाने से शरीर की सफाई होती है।
  • मांसपेशियों के लचीलेपन में सुधार होता है और गले की मांसपेशियों को आराम देने में भी मदद करता है।
  • शरीर में शुगर लेवल कम होता है, जिससे डायबिटीज का जोखिम कम हो जाता है।
  • खांसी और सर्दी में फायदेमंद है क्योंकि भाप वायुमार्ग को साफ करने और आपके गले और बंद नाक को खोलने में मदद करता है।

कैसे चुनें ठंडा या गर्म, कौन सा पानी आपके लिए बेहतर है?

आयुर्वेद की मानें तो आपको शरीर के लिए गर्म पानी और सिर के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि गर्म पानी से अपनी आंखें और बाल धोना आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। पानी का तापमान कुछ कारकों पर आधारित होना चाहिए जैसे:

Also Read

More News

  1. आपकी उम्र: युवाओं को ठंडे और बुजुर्गों को गर्म पानी से नहाने की सलाह दी जाती है।
  2. आपका बॉडी टाइप: अगर आपकी बॉडी टाइप पित्त है तो बेहतर होगा कि आप नहाने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करें और अगर आपकी बॉडी टाइप कफ या वात है तो गर्म पानी का इस्तेमाल करें।
  3. आपके रोग: यदि आप पित्त से संबंधित किसी रोग से पीड़ित हैं, जैसे अपच या लिवर डिसऑर्डर, तो ठंडे पानी से नहाएं और यदि आप कफ या वात संबंधी डिसऑर्डर से पीड़ित हैं, तो गर्म पानी से स्नान करना बेहतर है।
  4. आपकी आदतें: अगर आप नियमित रूप से वर्काउट करते हैं, तो गर्म पानी से नहाएं।
  5. आपके नहाने का समय: अगर आप सुबह नहाते हैं तो ठंडे पानी से नहाना अच्छा रहता है। लेकिन अगर आप रात को नहा रहे हैं, तो गर्म पानी से नहाने से आपको आराम महसूस होगा।

नोट : मिर्गी के रोगियों को गर्म पानी या ठंडे पानी से नहाने की सलाह नहीं दी जाती है। इसके बजाय गुनगुने पानी से नहाएं।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on