Sign In
  • हिंदी

दांतों की सफाई में ना करें ये गलतियां, वरना सेहत पर पड़ सकता है बुरा असर

दांतों की सफाई में ना करें ये गलतियां, वरना सेहत पर पड़ सकता है बुरा असर

माउथवॉश (Mouthwash) से किस हद तक आप कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोक सकते हैं। इसके बारे में कुछ स्पष्ट नहीं किया गया, लेकिन सेहतमंद शरीर के लिए माउथवॉश और ब्रश करने के तरीकों का ख्याल रखना बहुत ही जरूरी हो गया है।

Written by Kishori Mishra |Updated : May 20, 2020 6:40 PM IST

Brushing Mistakes : हाल ही में एक अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है कि माउथ वॉश से कोविड-19 (Covid-19) के खतरे को कम किया जा सकता है। माउथवॉश (Mouthwash) से किस हद तक आप कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोक सकते हैं। इसके बारे में कुछ स्पष्ट नहीं किया गया, लेकिन सेहतमंद शरीर के लिए माउथवॉश और ब्रश करने के तरीकों का ख्याल रखना बहुत ही जरूरी हो गया है। ब्रश करने के दौरान हम कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं, जिसके कारण कई बीमारियां बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है। अच्छे से मुंह साफ नहीं करने से कई ऐसे वायरस हमारे शरीर में जाते हैं, जो सेहत के लिए काफी घातक हो सकते हैं।

दांतों को ब्रश करके हम उन पर जमा प्लैक और  गंदगी की सफाई कर सकते हैं।  इसके साथ ही तरह, दांतों में बैक्टीरिया और कैविटीज की सफाई करना भी ब्रशिंग (Brushing Mistakes) की मदद से आसान हो जाता है। इसीलिए, बच्चों को बचपन से ही ब्रश करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। सही तरीके से ब्रश करना केवल बच्चों ही नहीं बड़ों के लिए महत्वपूर्ण है। क्योंकि, दांतों की देखरेख हर उम्र में सही तरीके से करने चाहिए। चलिए जानते हैं दांतों की सफाई (Brushing Mistakes) करने में हम कौन सी गलतियां करते हैं-

दांतों को ब्रश करते समय ना करें ये गलतियां (Brushing Mistakes)

ज्यादा जोर लगाकर ब्रश करने की आदत (Oral Health Mistakes)

दांतों की सफाई करने के दौरान ज्यादा ताकत लगाकर ब्रश करने से आपकी ओरल हेल्थ में कोई सुधार नहीं होने वाला है। बल्कि दांतों पर ताकत लगाने से आपका टूथ एनेमल और आपके मसूड़ों के ऊतकों या टिश्यूज को भी नुकसान हो सकता है, खासकर यदि आप अपने दांत को किसी सख्त टूथब्रश से साफ कर रहे हैं।

Also Read

More News

बहुत कम या ज्यादा देर तक ब्रश करना  

हमें दांतों की सफाई दिन में कितनी बार और कबतक करना चाहिए, इसे लेकर अक्सर लोग कंफ्यूज होते हैं। अगर आप भी इससे कंफ्यूज हैं, तो हम आपको बता दें कि अपने दांतों की दिनभर में 2 से 3 बार करें। इसके साथ ही कभी भी 2-3 मिनट से अधिक देर तक ब्रश ना करें।

गलत तरीके से ब्रश करना

अक्सर, लोगों को पता ही नहीं होता कि दांतों को ब्रश करने का सही तरीका क्या है। इसीलिए, समस्या की शुरुआत यहीं से हो जाती है। ऐसे में आप अपने मुंह को 4 हिस्सों में विभाजित करें और प्रत्येक हिस्से में हर तरफ, हर कोने में सभी सतहों को साफ करने के लिए कम से कम 30 सेकंड तक ब्रश करें।

दांत की बाहरी, आंतरिक और चबाने वाली सतहों को ब्रश करें। याद रखें, ऊपर से नीचे ब्रश करते हुए दांतों और मसूड़ों को एकसाथ ब्रश न करें, क्योंकि यह आपके मसूड़ों को नुकसान पहुंचा सकता है और दांतों पर खरोंच और रगड़ लग सकती है। साथ ही अपनी जीभ को भी जरूर साफ करें, क्योंकि जीभ के कोनों और दरारों में बैक्टेरिया पनप सकता है।

इन टिप्स से दांतों को रखें सुरक्षित (Tips For Healthy Teeth)

  • फ्लॉस या इंटरडेंटल ब्रश का इस्तेमाल करें। हल्के हाथों से दिन में एक बार दांतों के ऊपर और नीचे के हिस्से की सफाई करें। रात में फ्लॉस का इस्तेमाल करना ज्यादा उपयुक्त होता है। आप नीम के दातुन से भी दांत साफ कर सकते हैं।
  • फ्लोराइड युक्त टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें। यह दांतों पर इनेमल की परत को बरकरार रखकर कैविटी को हटाता है।
  • शीतल पेय, पैक फलों के जूस, अधिक चीनी युक्त भोजन और अम्लीय जूस का सीमित मात्रा में ही सेवन करें। कैंडी और चॉकलेट ज्यादा मात्रा में नहीं खाएं।
  • दंत चिकित्सक की सलाह से हर छह महीने या साल में एक बार दांतों की सफाई (स्केलिंग) जरूर कराएं। इससे मसूड़े स्वस्थ और मजबूत रहेंगे। दांतों में अगर कैविटी बन रहा है तो तुरंत पता चल जाएगा और अन्य प्रकार की बीमारियों से भी दांत सुरक्षित रहेंगे।
  • दांतों का प्रत्यारोपण कराने वालों को नियमित रूप से हर साल सफाई कराने के लिए दंत चिकित्सक के पास जाना चाहिए।
  • कृत्रिम दांतों (डेंचर्ज) को साफ करने के लिए टूथपेस्ट का इस्तेमाल नहीं करें। नल के बहते पानी के नीचे सौम्य साबुन से इसे साफ करें। नियमित रूप से डेंचर्स की सफाई करें।

माउथवॉश से कोरोना की गंभीरता को किया जा सकता है कम! जानें क्या कहती है रिसर्च

अमेरिका का दावा, सफल हुआ कोरोनावायरस की वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल, जल्द होगा उपलब्ध

कोरोना वायरस को लेकर जगी आशा की किरण, ठीक हुए मरीज निभा सकते हैं बड़ी भूमिका

कोरोनावायरस के उपचार के लिए पिप्पली पर हो रहा अध्ययन, जानें इसके फायदे और नुकसान

Covid-19 Vaccine: इटली ने कोरोना वैक्सीन बनाने का किया दावा, इंसानों की कोशिकाओं पर हुआ सकारात्मक असर

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on