Advertisement

वर्ल्‍ड हेपेटाइटिस डे 2018 : क्‍या सेक्‍स करने से फैल सकता है हेपेटाइटिस 'सी' ?

इस तरह हेपेटाइटिस सी से ग्रस्‍त व्‍यक्ति भी एन्‍ज्‍वॉय कर सकते हैं अपनी सेक्‍स लाइफ।

हेपेटाइटिस सी खून से खून में फैलने वाला संक्रमण है। अभी तक इसके फैलने का माध्‍यम संक्रमिक व्‍यक्ति के रक्‍त का दूसरे व्‍यक्ति के रक्‍त के संपर्क में आना है। भारत में ही नहीं दुनिया भर में कई लोग इस  हेपेटाइटिस सी से संक्रमित हैं। अन्‍य सेक्‍स रोगों की तरह लोगों के मन में यह सवाल आता है कि क्‍या सेक्‍स करने से हेपेटाइटिस सी भी फैल सकता है?

हेपेटाइटिस सी वायरस  

हेपेटाइटिस सी वायरस बहुत छोटा (आकार में 50 एनएम) होता है। यह अन्‍य सेल्‍स से घिरा हुआ होता है। यह फ्लाविविरिडी (Flaviviridae) परिवार में हेपसीवायरस जीन्‍स का एकमात्र ज्ञात सदस्य है। हेपेटाइटिस सी वायरस के छह प्रमुख जीनोटाइप हैं जिन्हें संख्यानुसार दर्शाया जाता है जैसे जीनोटाइप 1, जीनोटाइप 2 आदि।

Also Read

More News

ऐसे फैलता है संक्रमण

हेपेटाइटिस सी वायरस रक्त से रक्त के संपर्क में आने पर फैलता है। यह अनुमान लगाया गया है कि विकसित देशों में 90% व्यक्तियों में दीर्घकालिक एचसीवी (HCV) संक्रमण बिना टेस्‍ट किए हुए रक्त या रक्त उत्पादों या नशीली दवाओं की सुई के प्रयोग या यौन संपर्क के माध्यम से संक्रमित होता है।

विकासशील देशों में एचसीवी (HCV) संक्रमण के प्राथमिक स्रोत हैं, संक्रमित इंजेक्शन उपकरण और अपर्याप्त परीक्षित रक्त तथा रक्त उत्पादों के सम्मिश्रण। एक दशक से ज्यादा समय से संयुक्त राज्य अमेरिका में ब्‍लड डोनेशन से एक संक्रमण फैलने का एक भी मामला सामने नहीं आया है। क्योंकि रक्त की आपूर्ति को ईआईए (EIA) और पीसीआर (PCR) दोनों तकनीकों से परखा जाता है।

यह भी पढ़ें - वर्ल्‍ड हेपेटाइटिस डे: हेपेटाइटिस ‘सी’ के बारे में कितना जानते हैं आप ?

यह भी है कारण

हालांकि इंजेक्शन से नशीली दवाओं का प्रयोग करना एचसीवी (HCV) संक्रमण का सबसे आम रास्ता है। कोई भी ऐसा कार्य या गतिविधि या स्थिति जिसमें खून से खून का संपर्क होने की संभावना है एचसीवी (HCV) संक्रमण का संभावित स्रोत हो सकता है। यौन संपर्क करने पर यह वायरस संचरित हो सकता है लेकिन ऐसा कम ही होता है और आमतौर पर ऐसा तभी होता है जब एक एसटीडी (STD) के कारण घाव खुल जाए और ब्‍लीडिंग होने लगे। यदि संक्रमित व्‍यक्ति का रक्‍त पार्टनर के रक्‍त के संपर्क में आए तो य रोग फैल सकता है।

सेक्‍स से नहीं संक्रमण से फैलता है

शुरू में यौन गतिविधियों और व्यवहारों को हेपेटाइटिस सी वायरस के संभावित स्रोतों के रूप में पहचाना गया था। पर हाल के अध्ययनों में इस बात पर सवाल उठाए गए हैं। क्‍योंकि हेपेटाइटिस सी वायरस रक्‍त से रक्‍त के संपर्क में आने पर फैलने वाला रोग है न कि सेक्‍स के माध्‍यम से फैलने वाला रोग। सेफ सेक्‍स के माध्‍यम से हेपेटाइटिस सी से पीडि़त व्‍यक्ति भी अपने पार्टनर के साथ अच्‍छी सेक्‍स लाइफ का आनंद ले सकता है।

चित्रस्रोत: Shutterstock.

Stay Tuned to TheHealthSite for the latest scoop updates

Join us on