Sign In
  • हिंदी

कौन से हैं वे आहार, जो बन सकते हैं पथरी का कारण

किडनी की पथरी कई कारणों से हो सकती है, जिसमें से एक कारण शरीर में विटामिन सी की ज्यादा मात्रा भी है। आइए आपको बताते हैं क्या है इसका कारण और कैसे करें विटामिन सी का सेवन ताकि शरीर को न हो कोई नुकसान। ©Shutterstock.

किडनी की पथरी कई कारणों से हो सकती है, जिसमें से एक कारण शरीर में विटामिन सी की ज्यादा मात्रा भी है। आइए आपको बताते हैं क्या है इसका कारण और कैसे करें विटामिन सी का सेवन ताकि शरीर को न हो कोई नुकसान।

Written by Editorial Team |Published : January 31, 2019 9:18 PM IST

विटामिन सी शरीर के लिए जरूरी है मगर ज्यादा मात्रा में इसका सेवन किडनी की पथरी का कारण बन सकता है। खट्टे फल और सब्जियां विटामिन सी का सबसे अच्छा स्रोत माने जाते हैं, जैसे- नींबू, टमाटर, आंवला, संतरा, अंगूर, बेर, स्ट्रॉबेरी, मौसमी आदि। इसके अलावा अन्य आहारों जैसे- आलू, कटहल, शिमला मिर्च, पालक, चुकंदर, धनिया में भी विटामिन सी की मात्रा होती है। ये शरीर के लिए एक जरूरी विटामिन है क्योंकि इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है। मगर ज्यादा मात्रा में इस विटामिन के सेवन से किडनी की पथरी का खतरा होता है।

क्यों होती है पथरी

पथरी आमतौर पर तब होती है जब किडनी में ऑक्जलेट और कैल्शियम जैसे कई तत्व जमा होते-होते एक ठोस कंकड़ जैसे हो जाते हैं। जब आप ऑक्जालेट की अधिक मात्रा वाले खाद्य का सेवन करते हैं तो किडनी स्टोन होने की आशंका बढ़ जाती है।

Also Read

More News

ज्यादा विटामिन सी से किडनी की पथरी क्यों?

अगर आप जरूरत से ज्यादा विटामिन सी का सेवन करते हैं, तो आपको किडनी की पथरी की शिकायत हो सकती है। दरअसल विटामिन सी शरीर में जाकर ऑग्जलेट में बदल जाता है। शरीर में मौजूद इस ऑग्जलेट को हमारी किडनियां पेशाब के रास्ते से बाहर निकाल देती हैं। लेकिन जब आप ज्यादा विटामिन सी का सेवन कर लेते हैं, तो शरीर में ज्यादा मात्रा में ऑक्जलेट बनता है। ये सभी ऑक्जलेट पेशाब के रास्ते से बाहर नहीं निकल पाता और किडनी में ही किसी जगह जमा होने लगता है। धीरे-धीरे यही ऑग्जलेट जब जमा होते-होते कंकड़ के आकार का हो जाता है, तो पथरी के रूप में परेशानी देने लगता है।

खतरनाक हो सकती हैं विटामिन सी की गोलियां

आजकल लोगों में 'मल्टी विटामिन्स' और आयरन की गोलियां लेने का फैशन चल पड़ा है। कई बार लोग बिना डॉक्टर की सलाह के खुद ही विटामिन्स की गोलियां खाने लगते हैं। बिना जरूरत के विटामिन्स आपके शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक हो सकते हैं और कई बार जानलेवा भी हो सकते हैं। अगर आप विटामिन सी का ज्यादा सेवन करते हैं, तो आपका शरीर विटामिन बी-12 को कम एब्जॉर्ब कर पाता है। जिसके चलते खून की कमी देखी जाती है। विटामिन सी की गोलियों का अधिक सेवन करने से डी एन ए क्षतिग्रस्त हो सकता है और कैंसर की संभावना भी उत्पन्न हो सकती है।

कैसे बच सकते हैं पथरी से

विटामिन सी शरीर के लिए जरूरी तत्व है इसलिए इसका सेवन जरूर करें। अगर आप संतुलित भारतीय खाना जैसे- दाल, चावल, दही, छाछ, सलाद, रायता, अचार, फल और हरी सब्जियां आदि लेते हैं, तो इन्हीं से आपके शरीर के लिए सभी जरूरी पोषक तत्व मिल जाएंगे। इसलिए कभी भी बिना डॉक्टर की सलाह के विटामिन की गोलियां न खाएं। विटामिन्स की गोलियों की जरूरत शरीर को तब होती है, जब डॉक्टर जांच के द्वारा आपके शरीर में इनकी कमी पाता है।

इन आहारों का भी ज्यादा न करें सेवन

चाय, कॉफी, पालक, नट्स और एरेटेड ड्रिंक, ऑक्जालेटेड फूड्स, ज्यादा नमक वाले फूड्स जैसे अचार, मैरिनेड किया भोजन स्टोन का कारण बन सकते हैं। इसके अलावा सी-फूड और टेबल सॉल्टेड रेड मीट में यूरिक एसिड उच्च मात्रा में होता है जोकि पथरी का कारण बन सकता है। इसके अलावा कम मात्रा में पानी पीने से से भी स्टोन होने की आशंका बढ़ती है।

Total Wellness is now just a click away.

Follow us on